अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश ने किया सम्प्रेषण गृह एवं निराश्रित गृह का किया निरीक्षण

( Read 706 Times)

17 Aug 19
Share |
Print This Page

अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश ने किया सम्प्रेषण गृह एवं निराश्रित गृह का किया निरीक्षण

प्रतापगढ/  राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देषानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) लक्ष्मीकांत वैष्णव ने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित बाल सम्प्रेशण गृह, शिशु गृह एवं किषोर गृह लुहारिया का दौरा किया।

         दौराने निरीक्षण किशोर बाल गृह में पंजीकृत २० बच्चों में से सिर्फ ०१ बच्चा पाया गया। अन्य बच्चों का रक्षाबन्धन त्यौहार मनाने अपने रिश्तेदारों एवं घर पर जाना बताया गया। एक अनाथ बालक पाया गया, जिसकी देखरेख हेतु स्टॉफ, आया/नर्स, केयर टेकर भी उपस्थित थीं। किशोर न्याय बोर्ड निरीक्षण में कुल ०७ बाल अपचारी पाये गये। निरीक्षण में साफ सफाई व्यवस्था उचित पाई गई, भवन में बारीश का पानी टपकता पाया गया और दीवारों पर सीलन भी पाई गई। इस हेतु उपस्थित स्टॉफ एवं केयर टेकर के अलावा अधीक्षक (असिस्टेंट डायरेक्टर) रविकांत उपस्थित रहे, जिन्हें भी भवन की उचित देखरेख एवं अन्य सामान्य कमियों हेतु निर्देश प्रदान किये। दौराने निरीक्षण सी०सी०टी०वी० कैमरे बन्द पाये गये, जिन्हें तुरन्त प्रभाव से दुरूस्त कराने हेतु कहा गया। निरीक्षण में सफाई, खाने-पीने, रहने, बच्चों के खेलने आदि की समुचित और संतोषप्रद व्यवस्था पाई गई।

निराश्रित बाल गृह का भी किया निरीक्षण ः- इसी दिवस सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) ने स्थानीय रिलायंस पेट्रोल पम्प के सामने स्थित आदिम जाति सेवक संघ द्वारा संचालित निराश्रित बाल गृह का भी निरीक्षण किया। दौराने निरीक्षण कुल ३० बच्चे रजिस्टर्ड पाये, जिनमें से १३ बच्चे उपस्थित थे। उपस्थित व्यवस्थापक रामगोपाल टेलर ने अन्य बच्चों का रक्षाबन्धन के त्यौहार पर अपने गांव व रिश्तेदारी में जाना जाहिर किया गया। पूर्व निरीक्षण के दौरान रंगरोगन, टूटी टाईल्स रिपेयरिंग आदि के संबंध में व्यवस्थापक को दिये गये समस्त निर्देशों की अक्षरशः पालना की गई।  


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Pratapgarh News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like