BREAKING NEWS

logo

राष्ट्रीय वयोश्री योजना की बैठक

( Read 636 Times)

13 Jul 18
Share |
Print This Page
राष्ट्रीय वयोश्री योजना की बैठक जयपुर । सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री अरूण चतुर्वेदी ने जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों से राष्ट्रीय वयोश्री योजना के माध्यम से जयपुर जिले में अधिक से अधिक पात्र लोगों को लाभान्वित करने की इच्छाशक्ति के साथ जुड़ने की अपील की है।
श्री चतुर्वेदी गुरूवार को जिला परिषद के सभागार में राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत आयोजित किये जाने वाले चिह्नीकरण शिविरों की तैयारी के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होेंने कहा कि सभी मिलकर इस का प्रचार-प्रसार करे और बड़े निमित को लेकर इस अभियान के सारथी बने।
बुज़ुर्गों के सम्मान की महती योजना
सामाजिक न्याय एवं अधिकारी मंत्री ने कहा कि हमारे देश में बुजु़र्गों एवं माता पिता के सम्मान की संस्कृति है, इसी दिशा में केन्द्र सरकार ने यह बड़ी महती योजना बनाई है। इसमें मानवीय धर्म को सर्वोपरी मानते हुए वंचित वर्ग के लोगों को योजना का पूरा फायदा दिलाने के लिए प्रयास करे। उन्होंने सामाजिक संगठनों एवं स्वयं सेवी संस्थाओं को भी साथ लेकर इस अभियान को सफल बनाने को कहा। जिला प्रमुख श्री मूलचन्द मीना ने कहा कि 60 वर्ष की आयु पार कर चुके बीपीएल श्रेणी के लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए सरकार ने यह विशेष योजना बनाई है। इसमें पंचायती राज संस्थाओं से जुड़े लोग बढ़-चढ़कर अपना योगदान दे।
जयपुर जिले में शिविरों का कार्यक्रम निर्धारित
जिला कलक्टर श्री सिद्धार्थ महाजन ने कहा कि जिले में पंचायत समितियों तथा नगर निगम क्षेत्र के अलग अलग जोन में आयोजित होने वाले शिविरों की तिथि का निर्धारण किया जा चुका है, इन शिविरों में योजना के मूल उद्देश्य के अनुरूप पात्र बुज़ुर्गों को लाभ दिलाने के लिए उपखण्ड एवं विकास अधिकारियों को सक्रियता से प्रयास करने के निर्देश दिये गये है।
चार प्रकार की दुर्बलता के लिए मिलेंगे आठ प्रकार के उपकरण
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक एवं विशिष्ट शासन सचिव डॉ. समित शर्मा ने राष्ट्रीय वयोश्री योजना के बारे में प्रस्तुतिकरण देते हुए बताया कि इसमें 60 वर्ष से अधिक आयु के बीपीएल श्रेणी के व्यक्तियों को 4 प्रकार की दुर्बलता के लिए 8 प्रकार के उपकरण उपलब्ध कराये जायेंगे। कम दृष्टि वाले लोगों को चश्मा, कम सुनाई देने वाले व्यक्तियों को श्रवण यंत्र, दातों की कमी वाले लोगों को कृत्रिम जबड़ा/दांत तथा चलने फिरने में दुर्बलता वाले लोगों को छड़ी, वॉकर, कोहनी वैशाखी एवं व्हील चेयर इस योजना के तहत उपलब्ध कराये जायंेगे। जिला परिषद के सीईओ श्री आलोक रंजन ने समीक्षा आभार व्यक्त किया।
ये रहे उपस्थित
बैठक में उप जिला प्रमुख श्री मोहन लाल शर्मा, निदेशक (जन स्वास्थ्य) डॉ. वी.के माथुर, अतिरिक्त निदेशक (सामाजिक सुरक्षा) श्री अशोक जांगिड व उप निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता (ग्रामीण) श्री चन्द्रशेखर चौधरी के अलावा पंचायत समितियों के प्रधान, जिला परिषद सदस्य, विकास अधिकारी तथा संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Jaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like