GMCH STORIES

रामकथा इस मानव जीवन का यूजर मैन्युअल : स्वामी प्रकाशानंद 

( Read 1927 Times)

11 Jan 23
Share |
Print This Page
रामकथा इस मानव जीवन का यूजर मैन्युअल : स्वामी प्रकाशानंद 

श्री रामकथा महोत्सव सेवा समिति, ओ सेक्टर, आजाद नगर के तत्वाधान में आयोजित हो रही रामकथा के चौथे दिन पांडाल में उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए महाराज श्री ने कहा कि  आजकल जिस प्रकार हर उपकरण को संचालित करने के लिए उसके साथ एक यूजर मैन्युअल (उपयोग पुस्तिका) आती है, ठीक उसी प्रकार इस मानव जीवन का क्या करना है, इसमें क्या नहीं करना है, इन सभी के लिए भी एक यूजर मैन्युअल है, वो है श्रीरामकथा | ये यूजर मैन्युअल इस मानव जीवन को किस प्रकार से संचालित करना है उसका पग पग पर ब्यौरा देता है, बचपन में क्या करना है, जवानी किस प्रकार जिनी है, बुढ़ापे में क्या होना चाहिए, संबंधो को कैसे निभाए, संकटो से कैसे निपटे | जीवन की हर छोटी बड़ी चीज को किस प्रकार ठीक ढंग से करना है, ये सारी बाते हमें रामकथा बताती है | राम जी की बाललीलाओ का वर्णन करते हुए महाराज श्री ने कहा कि आपका पचपन किस प्रकार का होगा ये आपका बचपन ही तय करेगा, जिसका बचपन सुधर गया है, तो समझो कि उनको पचपन में कोई दिक्कत आने वाली नहीं है , परन्तु जिसने बचपन को नही संवारा है, उसे सही ढंग से संस्कारो का पोषण नही दिया है तो आने वाला कल निश्चित ही अच्छा नही होने वाला है | माता- पिता का ये दायित्व है कि संतानों को ऐसे संस्कार दे, जिससे की स्वयं को वृद्धाश्रमो के चक्कर न काटना पड़े, आपकी संतान इस देश के, इस दुनिया के काम आये, मानवता की रक्षा के लिए सब कुछ न्यौछावर करदे, ऐसे संस्कारो का पोषण बालको को दे | बच्चे कच्ची मिट्टी की भांति है, उन्हें जो आकार आप देंगे, उसी में वो ढल जायेंगे | सचिव सत्यनारायण सिखवाल ने बताया कि चतुर्थ दिवस पर कथा की अनिल चौधरी, बबलू चौधरी, कुंदन सुवालका, सत्यनारायण जी पारीक आदि ने रामायण जी का पूजन कर की, कथा के अंत में सुरेश लोहार, कृष्णकांत वैद्य, आयुष मारू, युवराज मारू आदि महानुभावों ने महाआरती कर कथा को विश्राम दिया। कथा में आज श्री अखंड आश्रम रतलाम से पधारे संत स्वामी श्री देवस्वरूपानंद जी महाराज का भी उद्बोधन हुआ | कथा में आज सतगुरु म्हारा रंगरेज...., चदरिया झीनी से झीनी..., महाराणा प्रताप कठे... आदि भजनों पर श्रद्धालु झूम उठे। संयोजक छगन जैन ने बताया कि रामकथा में आज नामकरण संस्कार, श्री रामजी की बाललीला आदि प्रसंगों का मार्मिक वाचन किया गया |रामकथा में पांचवे दिन अयोध्या में मुनि विश्वामित्र का आगमन, अहिल्या उद्धार, ताड़का वध, सीता स्वयंवर, श्री सीताराम विवाहोत्सव सहित विभिन्न प्रसंगों का मार्मिक वाचन होगा। कथा में पांचवे दिन श्री सीताराम विवाह के उपलक्ष्य में छप्पन भोग, आरती थाली सजाओ प्रतियोगिता, महाआरती भी आयोजित होगी, व संध्याकाल में श्री राधाकृष्ण जी महाराज के कृपापात्र शिष्य गोवत्स श्री दिव्यांशु जी महाराज अपनी भावमय प्रस्तुति देंगे। भजन संध्या साँय 7 बजे से प्रारंभ होगी।  श्री राम कथा 15 जनवरी 2023 तक दोपहर 1:00 से सांय 5:00 बजे तक अंबेश हॉस्पिटल के पीछे, पन्नाधाय सर्किल के पास स्थित रामकथा पांडाल में आयोजित हो रही है ।

*11 जनवरी को होगी विशाल भजन संध्या*
श्री रामकथा महोत्सव सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित हो रही रामकथा में सीताराम विवाहोत्सव के उपलक्ष्य में 11 जनवरी 2023, बुधवार को विशाल भजन संध्या का आयोजन कथा पांडाल में रखा गया है। श्री राधाकृष्ण जी महाराज के कृपापात्र शिष्य गोवत्स श्री दिव्यांशु जी महाराज अपनी भावमय प्रस्तुति देंगे। भजन संध्या साँय 7 बजे से प्रारंभ होगी।

*विशाल रक्तदान शिविर 12 जनवरी को*
संकल्प पर्यावरण संस्थान एवं श्री रामकथा महोत्सव सेवा समिति के संयुक्त तत्वावधान में 12 जनवरी 2023, युवा दिवस और विवेकानंद जयंती के अवसर पर प्रातः 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन कथा पांडाल में होगा। रक्तदान शिविर महात्मा गाँधी हॉस्पिटल की ब्लड बैंक टीम के सहयोग के माध्यम से सम्पन्न होगा।

*14 जनवरी को होगा भव्य सुंदरकांड का आयोजन, नवल भारद्वाज देंगे भावमय प्रस्तुति*
श्री रामकथा के आठवें दिन कथा में श्री हनुमान जी महाराज के आगमन के उपलक्ष्य में विशाल सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया जाएगा। साँय 8 बजे से प्रारम्भ होने वाले पाठ में भीलवाड़ा के जाने माने नवल भारद्वाज अपने साकेत रामायण मंडल के साथ भावपूर्ण प्रस्तुति देंगे। पाठ का आयोजन कथा पांडाल में होगा।

*14 और 15 जनवरी को होगा 2100 तुलसी पौधों का वितरण*
संकल्प पर्यावरण संस्थान, भीलवाड़ा की ओर से आगामी 14 और 15 जनवरी 2023 को मकर सक्रांति के पावन पर्व पर 2100 तुलसी पौधों का नि:शुल्क वितरण किया जाएगा | संस्थान अध्यक्ष दीपक सुवालका ने बताया कि संस्था द्वारा नियमित रूप से औषधीय पौधों का वितरण किया जा रहा है, हाल ही में छोटी हरणी में संपन्न हुई देवकीनंदन ठाकुर जी की भागवत कथा के दौरान 11000 तुलसी पौधों का ऐतिहासिक वितरण संस्थान के माध्यम से किया गया | संस्थान हर घर तुलसी अभियान को आगे बढ़ाते हुए ये वितरण कर रही है |


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Chintan
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like