संतों का मिलन खुशियों का उत्सव 

( Read 2358 Times)

06 May 19
Share |
Print This Page
संतों का मिलन खुशियों का उत्सव 

उदयपुर। महाराणा प्रताप की शौर्य भूमि उदयपुर के भुवाणा स्थित महाप्रज्ञ विहार में शासन श्री मुनि श्री सुरेश कुमार हरनावां के सान्निध्य में श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथ सभा के बैनर तले आचार्य महाश्रमण के निर्देशानुसार सन 2019 का चातुर्मास करने पधारे मुनि संजय कुमार, मुनि प्रसन्न कुमार आदि श्रमणवृन्द का स्वागत समारोह आयोजित हुआ।
समारोह को सम्बोधित करते हुए शासन श्री मुनि सुरेश कुमार हरनावां ने संतों के संगम को खुशियों का उत्सव करार देते हुए कहा कि जब दो सज्जन मिलते है तो सौ करोड़ रोम मुस्कुराते है, बीस उंगलियां जुड़ जाती है चार नयन मिल जाते हैं।
मुनि संजय कुमार ने अभिनंदन के उत्तर में कहा कि आज अंतहीन प्रसन्नता है जो शब्दों में नहीं आत्मा की अनुभूति का विषय है। मुनि सुरेश कुमार का जीवन बोलता है। आज आपके दर्शन कर मन का आह्लाद ऊंचाई पर है। श्रावक समाज के लिये यह आत्मनिरीक्षण का क्षण है कि मुझे क्या मिला, तभी ऐसे कार्यक्रमों की आयोजना सार्थक होगा । 
मुनि प्रसन्न कुमार ने कहा कि सप्तऋषि  संतो का संगम उदयपुर का सौभाग्य है, गुरु कृपा ही सबसे बड़ी कृपा होती है, गरुकृपा से ही हमारा उदयपुर चातुर्मास सिद्ध और सफल होगा।
मुनि प्रकाश कुमार ने कहा कि जीभ तो बहुत बोली अब जीवन बोले, संतों के मिलन से जीवन में साथ-साथ खुशी के साथ रहने के प्रेरणा मिलती है। वह जीवन धन्य होता है जो संतों की पनाह में गुजरता है।
मुनि सम्बोध कुमार ने कहा कि जीवन के कुछ पल ऐसे होते हैं जब खुशियां कुलांचे भरे मगर हम उन्हें शब्दों के बंदनवार में नहीं बांध सकते। आज महाप्रज्ञ विहार सात सितारा बन रहा है। इन खुशियों को अपने, सांसों में समेट कर चले तभी ये पल सार्थक होगा।
मुनि प्रतीक कुमार ने कहा कितेरापंथ धर्मसंघ एक महान धर्मसंघ है, यहां समर्पण और वात्सल्य का नजारा अद्भुत है। यह आध्यात्मिक मिलन सबके लिये प्रेरणादायी बने यही कामना है। 
मुनि धैर्य कुमार ने कहा कि संत मिलन मंगलकारी कल्याणकारी होता है, दीक्षा के बाद पहली बार उदयपुर चातुर्मास के लिये आकर मन रोमांचित है। 
तेरापंथ महिला मंडल के समूह स्वर मुनि द्वार पधारे गीत से शुरू हुए अभिनंदन समारोह में तेरापंथ सभाध्यक्ष सूर्यप्रकाश मेहता, तेयुप अध्यक्ष विनोद चंडालिया, तेरापंथ महिला मंडल मंत्री मंजू इंटोदिया, तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम अध्यक्ष चंद्रेश बाफना, अ.भा.ते.यू.प राष्ट्रीय एटीडीसी प्रभारी अभिषेक पोखरणा, ज्ञानशाला प्रभारी फतेहलाल जैन ने भावपूर्ण विचारों से मुनिवृन्द का अभिनंदन किया। थली परिषद सदस्यों, पंकज भंडारी ने गीत के माध्यम से स्वागत किया। संचालन सभा मंत्री प्रकाश सुराणा ने किया व आभार सहमंत्री अरुण चह्वाण ने जताया।
 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like