logo

नये आकर कानून में मिलेगी धाराओं के मकडजाल से मुक्ति

( Read 590 Times)

09 Sep 18
Share |
Print This Page
नये आकर कानून में मिलेगी धाराओं के मकडजाल से मुक्ति उदयपुर। एसबीआई के निदेषक दिल्ली के सीए गिरीष आहुजा ने कहा कि प्रस्तावित नये आयकर अधिनियम में कानून को सरलीकृत कर सरल बनाने का प्रयास किया जा रहा है।

वे आज द इन्स्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट ऑफ इंडिया के बोर्ड ऑफ स्टडीज एवं सीकासा उदयपुर षाखा के संयुक्त तत्वावधान में सीए छात्रों के लिये आज से हिरणमगरी से. १४ स्थित आईसीएआई भवन में आयोजित २ दिवसीय राश्ट्रीय स्तर की सेमिनार के समापन समारोह में बोल रहे थे। भारत सरकार द्वारा मनोनीत इस कमेटी के सदस्य आहुजा ने सीए छात्रों को नगद लेनदेन की विभिन्न धाराओं को भी विस्स्तार से बताया। उन्होंने कहा कि सफल सीए बनने के लिये सीए आर्टिकलषीप को गम्भीरता से करना अत्यन्त आवष्यक है।

उदयपुर सीकासा अध्यक्ष सीए दिलीप कोठारी ने बताया कि इससे पूर्व जयपुर के जतिन हरजाई ने प्रथम सत्र में जीएसटी ऑडिट के बारें में बताते हुए इसकी इनपुट मेचिंग सहित कई धाराओं को विस्तार से समझाया।

षाखा अध्यक्ष सीए पंकज जैन ने बताया कि द्वितीय सत्र में मुबंई के सीए विकास खेमानी ने केपिटल मार्केट की बारीकियों से छात्रों को रूबरू कराया। उन्होंने पूंजी बाजार की असीमित संभावनाओं से भी अवगत कराया। समापन सत्र में सेमिनार में के दौरान सर्वश्रेश्ठ पत्रवाचन करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। कॉफ्रेन्स सलाहकार सीए ष्याम एस.सिंघवी ने कॉन्फ्रेन्स सहभागिता पर सभी को बधाई देते हुए कहा कि उनके व्यक्तित्व के विकास में महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। सत्र की अध्यक्षता सीए वी.एस.नाहर,सीए यषवतं मंगल व सीए ष्याम एस.सिंघवी ने की।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur Plus
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like