logo

गिट्स में रिसर्च इनोवेषन इन टेक्नोलोजी पर हुआ सेमिनार का आयोजन

( Read 847 Times)

16 Sep 18
Share |
Print This Page

गिट्स में रिसर्च इनोवेषन इन टेक्नोलोजी पर हुआ सेमिनार का आयोजन
गीतांजली इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्निकल स्टडीज डबोक उदयपुर में रिसर्च इनोवेषन इन टेक्नोलोजी पर दो दिवसीय राश्ट्रीय सेमिनार का आयोजन षुरू हुआ। कार्यक्रम की षुरूआत अतिथियों के दीप प्रज्जवलन के साथ षुरू हुआ। राजस्थान तकनीकी विष्वविद्यालय द्वारा प्रायोजित टेक्नीकल एज्यूकेषन क्वालिटी इन्प्रुवमेंट प्रोग्राम (टेक्यूप) इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देष्य हमारे देष के महान इन्जिनियर मोक्षगुडम विष्वेषैरया को भावभीनी श्रदांजली देने के लिए किया गया ताकि आने वाली पीढियों को अपने महान विभुतियों द्वारा इन्जिनिरिंग के क्षेत्र में किये गये योगदान के बारे में बताया जा सके।
संस्थान के निदेषक डॉ. विकास मिश्र ने बताया कि आज के समय में इन्जिनियर्स का हर क्षेत्र में बोलबाला हैं। दुनिया की प्रगति में सही मायने में इन्जिनियर्स का ही हाथ हैं। तकनीकी ज्ञान बढने से ही समाज व देष का विकास होता हैं। इसी के तहत आई.आई.टी. कानपुर के प्रो. निष्चल वर्मा, प्रो. अनिन्दा बोस (सिनियर एडीटर, स्प्रिंगर नई दिल्ली), प्रो. जे.सी. बन्सल (एस.ए.यु. नई दिल्ली), प्रो. सुसान्ता त्रिपाठी (एन.आई.टी. सिल्चर), प्रो. अनुपम यादव (एन.आई.टी. उत्तराखण्ड), प्रो. रानी (वी.आई.टी. इण्डिया), प्रो. राजेष मुथु (वी.आई.टी. इण्डिया ), व प्रो. नेहा यादव (मुन्जाल युनिवर्सिटी, गुडगांव) ने गिट्स के रिसर्च के प्लेटफोर्म पर इक्कठा हुये तथा आने अपने एनोवेटिव आइडियास व तकनीकी ज्ञान को साझा किया।
कार्यक्रम संयोजक प्रो. राजीव माथुर ने बताया कि इस सेमिनार का मुख्य उद्देष्य इनोवेटिव आईडियास तथा रिसर्च को प्लेटफॉर्म मुहैया कराना हैं। कोई भी रिसर्च बिना परिणाम के अधुरा हैं। सिर्फ परिणाम आना ही काफी नहीं हैं अपितु रिसर्च का परिणाम समाज व देष के हित में होना चाहिए। अन्त में मैकेनिकल विभागाध्यक्ष डॉ. दीपक पालीवाल द्वारा धन्यवाद पारित किया गया।
साथ ही षुक्रवार से चल रहे दो दिवसीय फेक्ल्टी डवलपमेंट प्रोग्राम मूक एण्ड डिजिटल कन्टेंट डवलपमेंट का समापन हो गया।
विभागाध्यक्ष हेमन्त साहू ने सेमिनार में पधारे सभी अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी विषेशज्ञों ने अपना बहुमूल्य समय निकाल कर यहां अपना अपना तकनीकी ज्ञान साझा करते हुए प्रतिभागियों को आधुनिकतम षोध अवगत कराने का अत्यंत सराहनीय कार्य किया। और अन्त में प्रो. मयंक पटेल द्वारा धन्यवाद पारित करने तथा प्रमाण पत्र वितरण के साथ सेमिनार मूक एण्ड डिजिटल कन्टेंट डवलपमेंट का समापन हो गया।
इस कार्यक्रम में वित्त नियंत्रक बी.एल. जांगिड सहित सभी गीतांजली परिवार तथा अन्य कॉलेज के षिक्षकों ने सम्मिलित होकर इस कार्यक्रम का लाभ उठाया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Education
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like