logo

मुख्य चयनकर्ता अमित भंडारी से मारपीट

( Read 2549 Times)

12 Feb 19
Share |
Print This Page

मुख्य चयनकर्ता अमित भंडारी से मारपीट

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और डीडीसीए की सीनियर चयन समिति के अध्यक्ष अमित भंडारी पर सोमवार को दिल्ली सीनियर टीम के सेंट स्टीफन्स मैदान पर चल रहे अभ्यास मैच के दौरान अंडर-23 टीम में नहीं चुने गए खिलाड़ी की अगुआई में अज्ञात व्यक्तियों ने हमला किया। सीनियर टीम 21 फरवरी से शुरू होने वाले सैयद मुश्ताक अली राष्ट्रीय टी-20 टूर्नामेंट की तैयारियां कर रही थी। दिल्ली की टीम में चयन नहीं होने पर अनुज डेढा ने भंडारी पर हमला किया जिनके सिर और कान में चोटें आई हैं। भंडारी को उनके साथी सुख¨वदर सिंह सिविल लाइंस स्थित संत परमानंद अस्पताल ले गए। इस हमले में शामिल खिलाड़ी और अन्य हमलावर पुलिस के पहुंचने से पहले ही फरार हो गए, लेकिन बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस उपायुक्त (उत्तर) नुपुर प्रसाद ने कहा, ‘‘सोमवार दोपहर बाद लगभग एक बजकर 15 मिनट पर सेंट स्टीफन्स मैदान पर चल रहे ट्रॉयल्स के दौरान एक व्यक्ति अनुज डेढा वहां पहुंचा और टीम में चयन नहीं होने के बारे में पूछा तथा भंडारी पर थप्पड़ मारी। इसके बाद 10-15 और लड़के आए और उन्होंने भंडारी पर हमला किया।’उन्होंने कहा, ‘‘शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है तथा आरोपी और उसके भाई नवीन को गिरफ्तार कर लिया गया है।’ डीडीसीए ने नवम्बर में अंडर-23 ट्रॉयल्स के लिए जिन 79 सदस्यों की सूची जारी की थी, उनमें डेढा का नाम शामिल था। उसकी जन्मतिथि 22 नवम्बर 1995 है। दिल्ली और जिला क्रि केट संघ (डीडीसीए) के अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से खुद बात की है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।’रजत शर्मा अस्पताल जाकर भंडारी से भी मिले। उन्होंने कहा, ‘‘वह स्तब्ध हैं और यह स्वाभाविक है। चिकित्सकों ने कहा कि उन्हें एहतियात के तौर पर 24 घंटे के लिए निगरानी में रखा जाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘‘जिन लोगों ने हमला किया वे उन पर एक खिलाड़ी का चयन करने के लिए दबाव बना रहे थे जो योग्यता के आधार पर अंडर-23 टीम में जगह नहीं बना पाया था। अमित ने दावा किया है कि एक हमलावर ने धमकी दी कि उसके पास रिवाल्वर है।’शर्मा ने कहा, ‘‘यह शर्मनाक है कि एक ईमानदार चयनकर्ता को उसका काम करने से रोका जा रहा है। मुझे बताया गया है कि एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।’ पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। सहवाग के साथी पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने आरोपी पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग की। उन्होंने कहा, ‘‘राजधानी के केंद्र में ऐसी घटना से हैरान हूं। यह मामला दबाया नहीं जाएगा और मैं निजी तौर पर सुनिश्चित करूंगा कि ऐसा न हो। मैं इसकी शुरुआत उस खिलाड़ी पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग से कर रहा हूं जिसने चयन नहीं होने पर यह हमला करवाया।’दिल्ली के सीनियर टीम के मैनेजर शंकर सैनी ने इस घटना के बारे में कहा, ‘‘मैं टेंट के भीतर एक साथी के साथ खाना खा रहा था। भंडारी और अन्य चयनकर्ता सीनियर टीम के कोच मिथुन मन्हास के साथ ट्रायल मैच देख रहे थे।’ उन्होंने बताया, ‘‘दो लोग आए और भंडारी के पास गए। उनकी भंडारी से तीखी बहस हुई और वे तुरंत चले गए। इसके बाद 15 लोग हॉकी स्टिक, लोहे की छड़ें और साइकिल की चेन लेकर आए।’ उन्होंने कहा, ‘‘ट्रॉयल में भाग ले रहे लड़के और हम भंडारी को बचाने दौड़े। उन्होंने हमको भी धमकी दी और कहा कि इसमें न पड़ो वरना गोली मार देंगे। उन्हें भंडारी को हॉकी स्टिक और छड़ों से मारा। उसे सिर में चोट लगी है।’चश्मदीदों के अनुसार डेढा और उसके साथियों ने सीनियर टीम के खिलाड़ियों के सामने भंडारी का पीछा किया और इस बीच पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज ने अपनी जान बचाने के लिए दौड़ लगाई। सैनी से यह पूछने पर कि यह किसका काम हो सकता है, उन्होंने कहा, ‘‘मैं उस समय वहां नहीं था जब ये दोनों लड़के भंडारी के पास आए। भंडारी जब पुलिस को बयान देंगे, तभी पता चल सकेगा।’ दिल्ली क्रि केट भ्रष्टाचार और विभिन्न आयुवर्ग में चयन में अनियमितताओं के आरोपों से हमेशा घिरा रहा है।
ददिल्ली की टीम में चयन नहीं होने पर अनुज डेढा ने भंडारी पर हमला किया जिनके सिर और कान में चोटें आई हैं


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Sports News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like