मोशन एजुकेक्शन  के पांच छात्र आए टॉप 100  रैक में  प्राप्त की  AIR 28,31,91,93 & 99 रैक

( 1785 बार पढ़ी गयी)
Published on : 10 Jun, 24 00:06

 के डी अब्बासी 

मोशन एजुकेक्शन  के पांच छात्र आए टॉप 100  रैक में  प्राप्त की  AIR 28,31,91,93 & 99 रैक

जेईई एडवांस्ड-2024 के परिणाम में मोशन एजुकेक्शन के स्टूडेंट्स ने एक बार फिर शानदार सफलता अर्जित की है। मोशन के पांच विद्यार्थियों ने इसकी टॉप 100 रैक में जगह बनाई हैं। मोशन के इंद्रप्रस्थ औद्योगिक क्षेत्र स्थित द्रोणा कैम्पस में सोमवार को जेईई एडवांस में मिली सफलता का जश्न मनाया जाएगा।

मोशन एजुकेशन के फाउंडर और सीईओ नितिन विजय ने बताया कि मोशन की टीम ने एक बार फिर खुद को साबित किया है। अभी तक देखे गए परिणामों में टॉप 100 में 5 विद्यार्थी मोशन से हैं। इनमें शेखर झा ने ऑल इंडिया रैंक 28, ईशान गुप्ता ने 31, अमर सिन्हा ने 91, हरेंद्र अग्रवाल ने 93 और तनय चेतन काकलिया ने 99 वीं रैंक हासिल की है। मोशन के 60 स्टूडेंट्स ने सामान्य और ओबीसी श्रेणियों में शीर्ष 1000 में रैंक हासिल की है।10 मोशनाइट्स ने एससी और एसटी श्रेणी में शीर्ष 500 रैंक में जगह बनाई। सर्वर समस्या के कारण हम अभी भी सभी छात्रों के अंतिम परिणामों की प्रतीक्षा कर रहे हैं और इसलिए हम अंतिम सलेक्शन रेशियो साझा नहीं कर पा रहे हैं। 

निरंतर सेल्फ स्टडी जरुरी -- 28वीं रैंक पाने वाले शेखर झा

जेईई एडवांस्ड 2024 में 28वीं रैंक पाने वाले शेखर झा ने बताया कि सफलता के लिए दृढ संकल्प और लक्ष्य पर निरंतर फोकस जरूरी है। क्लासरूम कोचिंग के साथ सेल्फ स्टडी, प्रेक्टिस, रिवीजन और टॉपिकवाइज शार्ट नोट्स ने उनकी सफलता की राह आसान बनाई। शेखर ने बताया कि मोशन के फैकल्टीज एक्सपीरियंस्ड और सपोर्टिव है। हर स्टूडेंट को फैकल्टीज की गाइडलाइंस को फॉलो करना चहिए। समय-समय पर मॉक टेस्ट और अनुशासित माहौल मोशन को बेस्ट बनाते हैं।  

 

जेईई एडवांस्ड 2024 कट ऑफ बढ़ी 

 

नितिन विजय ने बताया कि गत वर्ष के मुकाबले इस साल कटऑफ में बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल जहां जनरल की कटऑफ 86 थी, इस साल109 अंक रही। ओबीसी/ ईडब्ल्यूएस की 77 से बढ़कर 98 और एससी/ एसटी केटेगिरी की कट ऑफ 43 से 54 हो गई। सब्जेक्टवाइज कट ऑफ भी इस साल 8 अंक से बढ़कर दस हो गई है। 

 

जोसा कांउसलिंग आज से

 

जॉइंट सीट अलॉक्शन अथॉरिटी काउंसलिंग-जोसा की काउंसलिंग 10 जून से शुरू होकर 5 राउंड में 26 जुलाई तक चलेगी। जेईई एडवांस्ड 2024 में सफल स्टूडेंट्स  इस काउंसलिंग से अपनी रैक के मुताबिक 23 आईआईटी, 32 एनआईटी, 26 ट्रिपलआईटी एवं 40 जीएफटीआई में प्रवेश ले सकेंगे। काउंसलिंग में 121 संस्थानों के 600 से अधिक प्रोग्रामों की च्वाइस फिलिंग का अवसर एक बार ही दिया गया है, इसलिए विद्यार्थी ज्यादा से ज्यादा कॉलेजों के विकल्प को अपनी प्राथमिकता के घटते क्रम में भरें। जोसा काउंसलिंग नियम के अनुसार सभी विद्यार्थियों को रैंक के अनुसार भरी हुई कॉलेज सीट आवंटन में सबसे पहला सीट आवंटन ओपन रैंक पर ही किया जाएगा। ओपन रैंक पर सीट नहीं मिलने पर स्टूडेंट्स को उनकी कैटेगिरी रैंक के अनुसार कॉलेज सीट आवंटित की जाएगी। इस प्रकार कैटेगिरी वाले विद्यार्थियों को ओपन एवं कैटेगिरी, दोनों में से सीट रैंक अनुसार मिल सकती है। 

 

जोसा काउंसलिंग में सीट आवंटन के बाद विद्यार्थियों को ऑनलाइन रिपोर्टिंग में 10वीं, 12वीं की अंकतालिका, कैटेगिरी सर्टिफिकेट, कैंसिल चैक की फॉटोकॉपी, मेडिकल सर्टिफिकेट आदि स्कैन कर अपलोड करने होंगे। ईडब्ल्यूएस एवं ओबीसी के विद्यार्थियों को एक अप्रैल 2024 के बाद का कैटेगिरी सर्टिफिकेट देना होगा, अन्यथा उनकी कैटेगिरी निरस्त कर ओपन रैंक से सीट आवंटित की जाएगी। 

कुल 25.85% कैंडिडेट्स हुए पास

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मद्रास की ओर से जारी जेईई एडवांस्ड रिजल्ट  के साथ-साथ फाइनल आंसर की भी जारी कर दी गई। इस साल  एग्जाम में कुल 1 लाख 86 हजार 584 स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन किया था। इनमें से 1 लाख 80 हजार 200 ने दोनों पेपर की परीक्षा दी। इनमें से 48 हजार 248 उम्मीदवार पास हुए हैं। यह कुल कैंडिडेट्स का 25.85% है। आपको बता दें कि जेईई मैन्स नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कंडक्ट करती है। वहीं, हर साल जेईई एडवांस्ड का एग्जाम देश के टॉप सात आईआईटीज-खड़गपुर,कानपुर, मद्रास, दिल्ली, बॉम्बे,  गुहावटी, रूड़की और आईआईएससी बेंगलुरु में से कोई एक कंडक्ट करता है। इस बार 26 मई को आईआईटी मद्रास ने यह एग्जाम कंडक्ट किया था।

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.