डी बीयर्स ग्रुप द्वारा अपने ‘बिल्डिंग फॉरएवर’ लक्ष्यों की स्थिति पर एक प्रगति रिपोर्ट पेश की गई है

( 2767 बार पढ़ी गयी)
Published on : 05 Jun, 24 06:06

 डी बीयर्स ग्रुप द्वारा अपने ‘बिल्डिंग फॉरएवर’ लक्ष्यों की स्थिति पर एक प्रगति रिपोर्ट पेश की गई है

मुंबई : डी बीयर्स ग्रुप द्वारा आज अपने ‘बिल्डिंग फॉरएवर’ सस्टेनेबिलिटी लक्ष्यों की दिशा में प्रगति रिपोर्ट पेश गई, जिसमें प्रमुख रूप से दो वर्ष पूर्व 5000 महिलाओं और लडकियों को STEM (साईंस, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग एवं मैथेमेटिक्स) में शामिल करने का लक्ष्य हासिल करना, बोत्सवाना में एक प्रमुख डायमंड फॉर डेवलपमेंट फण्ड स्थापित करने पर सहमति, हाल ही में मान्य विज्ञान आधारित उत्सर्जन में कमी के लक्ष्यों के समर्थन में प्रमुख नवीकरणीय उर्जा परियोजनाओं और अग्रणी डायमंड ट्रैसेबिलिटी प्लेटफार्म ट्रैकर के विकास को आगे बढ़ाना शामिल है।

2020 में स्थापित ‘बिल्डिंग फॉरएवर’ डी बीयर्स ग्रुप का ब्लूप्रिंट है, जो उन लोगों और स्थानों के लिये, जहां इसके डायमंड्स खोजे जाते हैं, जो हितधारकों की प्राथमिकताओं के साथ निकटता से जुडे़ होते हैं, के लिये सकारात्मक और स्थाई प्रभाव पैदा करने हेतु प्रयासरत है। इसमें चार प्रमुख क्षेत्र नैतिक मूल्यों का नेतृत्व करना, सम्पन्न समुदायों के लिये साझेदारी करना, प्राकृतिक संसार की रक्षा करना और समान अवसर में तेजी लाना शामिल है, जहां कम्पनी अपने साझेदार देशों और व्यापक प्राकृतिक डायमंड मूल्य श्रृंखला के भीतर सार्थक प्रगति को सपोर्ट करने के लिये काम कर रही है।

2023 के दौरान डी बीयर्स ने मेजबान कम्युनिटीज़ में सतत् विकास के परिणामों का सपोर्ट करने के लिये सरकारी भागीदारी और गैर-सरकारी संगठनों की एक विस्तृत श्रृंखला के साथ अपने संबंधों को मजबूत करना जारी रखा। एक बड़ी उपलब्धी बोत्सवाना सरकार के साथ एक 10 वर्षीय नवीन सेल्स एग्रीमेंट के हिस्से के रूप में डेवेलपमेंट फण्ड के लिये डायमंड्स की स्थापना के लिये एक साझा प्रतिबद्धता की घोषणा करना था। डी बीयर्स की एक पहल (75 मिलियन यूएस डॉलर), ‘एक बिलियन पुला, की प्रतिबद्धता के साथ इस फण्ड का लक्ष्य देश की उभरती हुई ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था को सपोर्ट करना और इसके दीर्घकालिक आर्थिक विविधीकरण में तेजी लाना है।

डी बीयर्स ने मेजबान कम्युनिटीज़ के भीतर आर्थिक विकास, उत्पादकता और लचीलेपन का सपोर्ट करने हेतु लैंगिक समानता बढ़ाने की क्षमता को पहचानते हुए अपने साझेदार देशों में महिलाओं और लड़कियों को आगे बढ़ाने की दिशा में भी महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। इसके तहत 2025 तक स्कूल कार्यशालाओं, स्नातक फेलोशिप, छात्रवृत्ति और सलाह के माध्यम से 5000 युवा महिलाओं और लड़कियों को STEM गतिविधियों में शामिल करने का अंतरिम लक्ष्य दो वर्ष पहले हासिल करना शामिल था। एंटरप्रेनएचआईआर कार्यक्रम 2023 के दौरान भी जारी रहा, जिसका उद्देश्य दक्षिणी अफ्रीका में महिला उद्यमियों को अपने व्यवसाय को बढ़ाने में सहायता करना है।इस कार्यक्रम ने 2018 में अपने लांचिंग के बाद से 2645 महिला व्यवसाय मालिकों को सहायता प्रदान की है और इस सफलता को देखते हुए इस कार्यक्रम को अगले तीन वर्षों के लिये आगे बढ़ाने की मंजूरी भी प्राप्त हुई है।

जलवायु संबंधी प्राथमिकताओं का सामना करते हुए, डी बीयर्स ने अपने ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में कमी के लक्ष्यों के अनुरूप प्रमुख नवीकरणीय उर्जा परियोजनाओं को भी आगे बढ़ाया है, जिन्हें 2023 के दौरान विज्ञान आधारित लक्ष्य पहल (एसबीटीआई) द्वारा मान्य किया गया है। इसमे एनवुसा एनर्जी (एंग्लो अमेरिकन पीएलसी और ईडीएफ रिन्यूएबल्स के बीच एक संयुक्त उद्यम) के साथ मिलकर अक्षय उर्जा अवसंरचना विकसित करना शामिल है, जिसमें 2025 तक दक्षिण अफ्रीका में कम्पनी की वेनेटिया खदान को 48 मेगावाट बिजली उपलब्ध कराई जा सके और नामीबिया में 34 मेगावाट पवन फार्म की योजना को आगे बढ़ाया जा सके। डी बीयर्स ने अपनी स्कोप 3 सपलायर समिट पहल भी आयोजित की है, जिसमें कम्पनी के साइटहोल्डर्स के लिये कार्बन रिपोर्टिंग अनिवार्य कर दी गई है और प्रमुख सपलायर्स के साथ जीएचजी रिडक्शन रोड़ पर काम करने के लिये प्रतिबधता सुनिश्चित की गई है।

इसके अलावा, डी बीयर्स द्वारा डामयण्ड्स के उत्पादन और इसके नवीन उपलब्ध क्षेत्रों का पता लगाने की अपनी क्षमता और प्रयासों को बढ़ाना जारी रखे हुए है, जो कम्पनी की उपभोक्ताओं और बड़े पैमाने पर उद्योग के लिये एक महत्वपूर्ण प्राथमिकता है, 2023 में डी बीयर्स ने अपनी अग्रणी ब्लॉकचेन प्लेटफार्म ट्रैकर का विस्तार कर, इसे व्यापक उद्योग के लिये खोल दिया और प्रतिभागियों को डायमंड्स के स्रोतों से स्टोर तक पहुंचने की यात्रा को रिकार्ड करने हेतु सक्षम बनाया। डी बीयर्स अब अपने वैश्विक उत्पादन का दो-तिहाई से अधिक इस प्लेटफार्म पर पंजीयन कर रहा है। 2023 के दौरान 1.5 मिलियन डायमंड्स पंजीकृत किए गए हैं, जिससे अब ट्रैकर पर पंजीकृत कुल डायमंड्स की संख्या दो मिलियन हो गई है तथा 2023 में कई प्रमुख उद्योग व्यवसाय भी इस प्लेटफार्म से जुड़ गए हैं।

डी बीयर्स ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अलकुक ने कहा कि, प्राकृतिक डायमंड्स की यात्रा का प्रत्येक चरण एक सकारात्मक प्रभाव पैदा करने का अवसर प्रस्तुत करता है। डी बीयर्स में हमारा एक लंबी अवधि का अनुभव है और यही कारण है कि हमारे ठोस प्रयास हमारे साझेदार देशों की स्थाई विकास प्राथमिकताओं के साथ इतने मजबूती से जुड़े हुए हैं। नेचरल डायमंड्स लाखों लोगों के लिये आर्थिक विकास का एक महत्वपूर्ण स्रोत हैं। ‘बिल्डिंग फॉरएवर’ के माध्यम से, हम यह सुनिश्चित करने के लिये काम कर रहे हैं कि हमारे द्वारा खोजा गया प्रत्येक डायमंड उस स्थान और स्थानीय लोगों को लाभ पहुंचाए, जहां से वह आया है, जिसके तहत सामुदायिक लचीलेपन, महिलाओं और लड़कियों को आगे बढ़ाने और प्रकृति की रक्षा करने को प्राथमिकता प्रदान की गई है।

हम अपने हाल ही में मान्य विज्ञान आधारित उत्पादन में कमी करने के लक्ष्यों के अनुरूप अपने कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के अपने प्रयासों को जारी रखे हुए हैं और अपने संचालन को मजबूती प्रदान करने के लिये नवीकरणीय उर्जा में निवेश को आगे बढ़ा रहे हैं। डायमंड्स की पारदर्शिता और खोजने की क्षमता में हमारा नेतृत्व 2023 में भी जारी रहा, जो अग्रणी प्रौद्योगिकियों के उपयोग पर आधारित है, जिससे कि हम उपभोक्ताओं को उनके नेचरल डायमंड्स के उत्पादन और इसकी यात्रा के दौरान प्राप्त सभी लाभों से जोड़ सकें।

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.