जिला कलक्टर जयसमंद, सलूंबर व झल्लारा के दौरे पर रहे

( 9853 बार पढ़ी गयी)
Published on : 22 Jul, 21 05:07

रिनोवेशन कार्य जारी रहेगा, स्विमिंग पूल निर्माण बंद करने के निर्देश

जिला कलक्टर जयसमंद, सलूंबर व झल्लारा के दौरे पर रहे

उदयपुर / जिला कलक्टर चेतन देवड़ा बुधवार को जिले के जयसमंद, सलूंबर और झल्लारा के दौरे पर रहे। इस दौरान उन्होंने विभिन्न सरकारी संस्थाओं का निरीक्षण किया और क्षेत्र में घर-घर औषधि योजना के तहत तैयारियों का जायजा लेते हुए पौधरोपण के निर्देश दिए।  
कलक्टर देवड़ा ने अपने क्षेत्रीय भ्रमण दौरान जयसमंद स्थित आरटीडीसी की होटल का निरीक्षण किया। कलक्टर देवड़ा ने होटल में चल रहे रिनोवेशन व निर्माण कार्य का अवलोकन कर अधिकारियों व क्षेत्रवासियों से चर्चा की। कलक्टर ने होटल परिसर में स्विमिंग पूल निर्माण के लिए खोदे गए गड्डे को बंद कर सीमेंट और गिट्टी डलवाने को कहा। उन्होंने कहा कि होटल में रिनोवेशन कार्य जारी रहेगा। कलक्टर ने होटल का प्रवेश द्वार भी जयसमंद से जगत रोड की तरफ मुख्य सड़क की तरफ करने के निर्देश दिए।
इस दौरान सराड़ा उपखण्ड अधिकारी सुभाष चंद्र हेमानी, तहसीलदार रवींद्र सिंह चौहान, जल संसाधन विभाग के अधिशाषी अभियंता कैलाश जैन, फोरेस्ट रेंजर गौतमलाल, आरटीडीसी होटल के महाप्रबंधक सुनील माथुर, होटल के सुनील सुहालका सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

 
घर-घर औषधि योजना की तैयारियों का लिया जायजा:
इससे पहले जिला कलक्टर देवड़ा वन विभाग की धीमड़ा फाटक नर्सरी भी पहुंचे। यहां पर उन्होंने घर-घर औषधि योजना के तहत तैयार किए गए औषधीय पौधों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने पौधों की गुणवत्ता के बारे में भी जानकारी ली और इनके वितरण के संबंध में की गई तैयारियों के बारे में पूछा। उन्होंने क्षेत्रवासियों को पौधरोपण के लिए प्रेरित करने और मानसून सत्र में अधिक से अधिक संख्या में पौधरोपण करने और उनकी सुरक्षा करने का संदेश दिया।

 
सलूंबर में वृहद पौधरोपण का किया शुभारंभ:
क्षेत्रीय भ्रमण दौरान जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने सलूंबर पहुंच कर कृषि विभाग सहायक निदेशक कार्यालय परिसर में वृहद पौधरोपण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सहायक निदेशक (कृषि विस्तार) कल्प वर्मा ने बताया कि इस दौरान कलक्टर देवड़ा ने कार्यालय का निरीक्षण किया और विभागीय गतिविधियों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने बताया कि विभागीय कार्मिकों के सहयोग से क्षेत्र में दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र के समतलीकरण कर वर्षा ऋतु में सघन पौधरोपण की कार्ययोजना का शुभारंभ जिला कलक्टर देवड़ा ने  अर्जुन, सहजन और नीम के पौधों के रोपण के साथ किया। इस अवसर पर उप वन संरक्षक मुकेश सैनी, एसडीओ मणीलाल तीरगर, पुलिस उपाधीक्षक सुधा पालावत, विकास अधिकारी अनिल पहाडि़या, तहसीलदार नारायणलाल जीनगर, थाना प्रभारी हनुवंतसिंह सोढ़ा, एईएन मणीलाल मेघवाल आदि ने भी पौधरोपण किया।

 
झल्लारा पंचायत समिति का निरीक्षण:
इसके बाद कलक्टर देवड़ा ने पंचायत समिति झल्लारा भी पहुंचे और निरीक्षण करते हुए यहां पर ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों के साथ विभागीय गतिविधियों की समीक्षा के साथ-साथ घर-घर औषधि योजना की तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्धारित कार्ययोजना के अनुसार हर परिवार को आठ-आठ औषधीय पौधों के वितरण के लिए तैयारियां करने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीओ मणीलाल तीरगर, पुलिस उपाधीक्षक सुधा पालावत, उप वन संरक्षक मुकेश सैनी, विकास अधिकारी प्रवीण गुप्ता व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.