जर्नल ऑफ वेलबीइंग के 32 वे अंक का विमोचन

( 8682 बार पढ़ी गयी)
Published on : 20 Jul, 21 15:07

जर्नल ऑफ वेलबीइंग के 32 वे अंक का विमोचन

अकादमी ऑफ वेलबीइंग सोसाइटी, उदयपुर द्वारा प्रकाशित शोध जर्नल के 32 वे  अंक का विमोचन करते हुए प्रोफेसर विजयालक्ष्मी चौहान ने बताया कि शोधकर्ताओं द्वारा 16 वे वॉल्यूम के द्वितीय अंक में  9 शोधपत्र प्रकाशित हुए जो कोविड पर केंद्रित हैं। जिसमें मानसिक तनाव एवं कोविड 19, योगा एवं वेलबीइंग तथा सामाजिक एवं सांस्कृतिक वैचारिकी में नवोन्मेष पर आधारित शोध पत्र प्राप्त हुए।
 डॉ अल्पना सिंह, सचिव ने बताया कि कोविड काल मे कई कार्यक्रम योगा व ख़ुशहाली पर आयोजित किये गए। 
 कार्यकारिणी सदस्यों द्वारा मानसिक स्वास्थ्य व समाज में प्रसन्नता को बेहतर बनाने के मुख्य उद्देश्य से कई  प्रोजेक्ट्स प्रस्तावित किये गए। जिनमें पौधारोपण, कैरियर कॉउंसलिंग, संस्कार, कौशल संवर्धन इत्यादि प्रमुख हैं।
डॉ निधि सिंह, डॉ वीनस व्यास, डॉ अर्चना गोलवरकर, डॉ अनिता तलेसरा, डॉ डॉली मोगरा ने मीटिंग में  अपने विचार रखे।
 जिसमें तय किया गया कि समाज की खुशहाली लाने के लिए प्रत्येक मनुष्य को अपने अपने स्तर का प्रयास करते रहना चाहिए। इसके लिए अकादेमी ऑफ वेलबीइंग सोसाइटी भी निरंतर प्रयास कर रही है ।
 सलाहकार सदस्य प्रोफेसर देवेन्द्र सिसोदिया ने बताया कि अकादेमी 2007 से ही आमजन को जोड़कर उनके मानसिक शांति व ख़ुशहाली के लिए कार्य कर रही हैं।
 डॉ  वीनस व्यास ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए ख़ुशहाली की मंगलकामना की।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.