जल पूजन नहीं तो नल पुजन

( 6343 बार पढ़ी गयी)
Published on : 07 Mar, 20 07:03

डॉ पी सी जैन

जल पूजन नहीं तो नल पुजन

“जल ही देवता जल ही ईश्वर ,जल से बड़ा न कोय” ,भजन सबसे गवाते हुए जल सरक्षण एवम नशा मुक्ति अभियान में लगे डॉ पी सी जैन ने सुन्दरवास स्तिथ राजकीय माध्यमिक स्कूल में श्रीमती यशोदा किशनानी के सेवा निवृति कार्यक्रम (Retirement program) में छात्रों को रोज जल क्यों और केसे बचाये और वर्षा जल जो सबसे ज्यादा शुद्द हे उसे हैण्ड पंप में केसे डाले इसके लिए आवाहन किया |बच्चो से पूछा की गुल्लक में पेसे नहीं डालोगे तो जरुरत के समय पेसे केसे आयंगे इसी तरह इस पानी की गुल्लक ,हैण्ड पंप में पानी नहीं डालोगे तो पानी केसे मिलेगा ? डॉ जैन ने अपने TDS मीटर द्वारा पानी की जाँच की और बताया कि कौनसा पानी पिने योग्य हे |

अगले भाग में उन्होंने नशा न करने और बचने के उपाय बताये और अपने माँ बाप का नशा केसे छुडाये ये बताया |सभी को जल सरक्षण एवम नशा मुक्ति की शपथ दिलाई |

सिंध के विख्यात दांत विशेषग्य ,हिन्द के प्रसिद्द फोटो ग्राफेर एवम जल सरक्षण के प्रेरणा श्रोत डॉ तुलसी दास किशनानी के 100 वी जयंती के उपलक्ष और श्रीमती येशोदा किशनानी के सेवा निवृति संयोग में ये कार्यक्रम आयोजित हुआ |

अजमेर से पधारे कँवल प्रकाश जी किशनानी ने बहुत सुंदर तरीके से छात्रों को जल सरक्षण के छोटे छोटे उपाय बताये |स्कूल के छात्र –छात्राओ ने भी अपनी प्रस्तुतिय दी|

प्रिंसिपल तारा अगरवाल ने सबको धन्यवाद ज्ञापित किया |

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.