कौशल विकास जागरूकता अभियान की दी जानकारी

( 4287 बार पढ़ी गयी)
Published on : 14 Feb, 20 14:02

कौशल विकास जागरूकता अभियान की दी जानकारी

उदयपुर। विज्ञान समिति, उदयपुर द्वारा अपने कौशल एवं आजीविका प्रकोष्ठ के अंतर्गत राजकीय व निजी माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों के छात्र छात्राओं को राजस्थान में कौशल एवं आजीविका विकास निगम जयपुर द्वारा संचालित विभिन्न रोजगारपरक कौशल प्रशिक्षण योजनाओं की जानकारी दी गई।

समिति अध्यक्ष डॉ. एल.एल.धाकड ने बताया कि विद्यार्थी विद्यालयी शिक्षा समाप्ति पर तथा वार्ताओं के दौरान अर्जित ज्ञान व सूचनाकों अपने पडोसी, रिश्तेदार तथा दोस्तों के बीच साझा कर सकें। इसके लिए प्रत्येक विद्यार्थी को विज्ञान समिति द्वारा प्रकाशित पुस्तक’राजस्थान कौशल विकास कार्यक्रम संक्षिप्त परिचय‘ निःशुल्क उपलब्ध करायी जाती है। यह अभियान डॉ. ए.के. सचेती, पूर्व परियोजना परामर्श, राजस्थान कौशल विकास एवं आजीविका निगम, जयपुर की मार्गदर्शन में चलाया जा रहा है।

इस अभियान के अंतर्गत आज पंचायत समिति झाडोल के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गेजडी व ओगणा में राजस्थान में कौषल विकास कार्यक्रम पर बोलते हुए डॉ. सचेती ने कहा कि राजस्थान सरकार ने विभिन्न वर्गों के युवक के लिए जो १६ वर्श से अधिक उम्र के हैं, उनके लिए पांच विभिन्न प्रकार की कौशल विकास योजना षुरू की और स्कूल छोडने के बाद युवक कई तरह के पाठ्यक्रमों में प्रशिक्षण निःशुल्क प्राप्त कर सकते हैं। कई कौशल विकास केन्द्र आवासीय हैं तथा इनकी अवधि ३ महीने के आसपास हैं,जिनको लेकर युवक या तो अपना कुछ कामकाज शुरू कर सकते हैं या नौकरी कर सकते हैं। इन पाठ्यक्रमों में ५ वीं स लेकर १२वीं तक के विद्यार्थी प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं।

इस अवसर पर दोनों विद्यालयों के करीब २२० छात्र-छात्राएं, १० अध्यापक तथा दोनों विद्यालयों के प्राचार्यों ने भाग लिया। वार्ता के पश्चात् एक प्रश्नावली के माध्यम से विद्यार्थियों से वार्ता के विषय संबंधी जानकारी प्राप्त की। दोनों कार्यक्रमों में विज्ञान समिति के डॉ. के एल तोतावत एवं नरेन्द्र जोशी ने भाग लिया तथा विज्ञान समिति की मुख्य गतिविधियां व कौषल विकास के महत्त्व पर प्रकाश डाला।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.