यूसीसीआई के ५५वें स्थापना दिवस समारोह का आयोजन

( 2363 बार पढ़ी गयी)
Published on : 12 Feb, 20 14:02

बदलती प्रौद्योगिकी के साथ व्यवसाय की प्रक्रिया में बदलाव लाना जरूरी ः श्रीकान्त सोमानी

यूसीसीआई के ५५वें स्थापना दिवस समारोह का आयोजन

दुनिया भर में प्रौद्योगिकी बहुत तेजी से बदल रही है और इसके साथ ही उत्पादन पैटर्न में भी तीव्र बदलाव आ रहा है। इस कारण एमएसएमई सेक्टर के उपक्रमों को टैक्नोलॉजी अपग्रेड करने के साथ नई निर्माण प्रक्रियाओं को अपनाने की तत्काल आवश्यकता है।

उपरोक्त विचार श्री श्रीकान्त सोमानी ने यूसीसीआई में व्यक्त किये।

उदयपुर चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री का ५५वां स्थापना दिवस समारोह यूसीसीआई भवन के पी.पी. सिंघल ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया। सोमानी सेरामिक्स के चेयरमेन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर श्री श्रीकान्त सोमानी इस अवसर पर मुख्य अतिथि थे। इन्दिरा आईवीएफ हॉस्पीटल्स प्राईवेट लिमिटेड के चेयरमेन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. अजय मुर्डिया विषिश्ट अतिथि थे। वे इस वर्श यूसीसीआई द्वारा दिये जाने वाले प्रतिश्ठित लाईफ टाईम अचीवेमेन्ट अवार्ड से भी सम्मानित किये गये।

अध्यक्ष श्री रमेष कुमार सिंघवी ने अपने स्वागत भाशण में यूसीसीआई गतिविधियों का संक्षिप्त परिचय देते हुए यूसीसीआई द्वारा पूर्व में संचालित एसडीसी प्रोजेक्ट, जेडडीएच सीक्वा प्रोजेक्ट आदि का विवरण देते हुए एच.डबल्यू.एम. प्रोजेक्ट की स्थापना एवं संचालन में पूर्वाध्यक्ष स्वर्गीय श्री के.एस. मोगरा के योगदान का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि यूसीसीआई दक्षिणी राजस्थान में उद्योग और व्यवसाय के विकास को बढावा देने के साथ ही स्थानीय निवासियों का आर्थिक स्तर ऊँचा उठाने के लक्ष्य के साथ कार्य करती है। श्री सिंघवी ने बताया कि सरकारी नियमों एवं व्यावसायिक परिदृष्य में आ रहे बदलाव के चलते यूसीसीआई की कार्यप्रणाली एवं उद्देष्यों पर पुनर्विचार किया जाना आवष्यक है। श्री सिंघवी ने वर्श के दौरान उल्लेखनीय कार्य करने के लिये विभिन्न सब कमेटियों के चेयरमैन पूर्वाध्यक्ष श्री रमेष चौधरी, पूर्वाध्यक्ष श्री पी.एस. तलेसरा, पूर्वाध्यक्ष श्री एम.एल. लूणावत, पूर्वाध्यक्ष श्री सी.पी. तलेसरा, पूर्वाध्यक्ष श्री महेन्द्र टाया, श्रीमति नन्दिता सिंघल, श्री पवन तलेसरा, श्री अंकित सिसोदिया का आभार व्यक्त किया। उन्होंने वर्तमान कार्यकारिणी के सदस्यों का भी आभार व्यक्त किया एवं यूसीसीआई अवार्ड्स को सफल बनाने में उनके योगदान की प्रषंसा की। साथ ही पदाधिकारियों जिनमें वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री हेमन्त जैन, उपाध्यक्ष श्री मनीश गलूण्डिया, मानद महासचिव श्री प्रतीक हिंगड एवं मानद कोशाध्यक्ष श्री राकेष माहेष्वरी की उनके कार्यों के लिये सराहना की।

अध्यक्ष श्री सिंघवी ने कहा कि वैष्विक मन्दी एवं अन्य कई घटनाक्रमों के चलते उद्योग एवं व्यापार जगत कई तरह की चुनौतियों से जूझ रहा है। ऐसे में उद्योग और व्यवसाय से जुडे लोगों को प्रोत्साहित करने के लिये अच्छा काम करने वालों को सम्मानित करना उद्यमिता को प्रेरणा प्रदान करना है। देष के अन्य प्रमुख औद्योगिक एसोसिएषन की तरह यूसीसीआई भी अपने स्थापना दिवस पर एक्सीलेन्स अवार्ड के माध्यम से नया आयाम स्थापित करने की ओर अग्रसर है। देष के विकास में बडे उद्योगों के साथ ही लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई) भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री श्रीकान्त सोमानी ने अपने सम्बोधन में कहा कि किसी भी विकसित समाज का निर्माण नवचार के माध्यम से ही सम्भव है। अपने जीवन के व्यावसायिक अनुभव प्रतिभागियों से साझा करते हुए श्री सोमानी ने कहा कि व्यवसाय में सफलता के लिये पार्टनर, कोच एवं मेन्टर की जरूरत होती है।

अपनी कम्पनी में कार्मिकों के बेहतर प्रबंधन को अपनी सबसे बडी उपलब्धी बताते हुए श्री सोमानी ने निम्नानुसार अपने अनुभव प्रतिभागियों से साझा किये ः

गुडविल यानि व्यावसायिक साख बिजनेस की सफलता के लिये सबसे महत्वपूर्ण है।

योग्य कर्मचारियों की टीम तैयार कर व्यावसायिक जिम्मेदारियां उन्हें सौंप कर अपना समय नवाचार में लगावें। योग्य कर्मचारियों से ही बिजनेस में सफलता अर्जित की जा सकती है।

हमेषा आगे आने वाले चार-पांच साल के समय के अनुसार व्यावसायिक प्रबन्धन की तैयारी करें।

आज से लगभग पन्द्रह-बीस वर्श पूर्व अमरीका एवं यूरोपीयन राश्ट्रों द्वारा चीन को अपना उत्पादन हब बनाया गया था। विभिन्न कारणों से अब इन देषों की कम्पनियां चीन से अपना उत्पादन अन्यत्र स्थानांतरित करना चाह रही हैं। देष के निर्माण उद्योग को इस अवसर का लाभ उठाना चाहिये।

पारंपरिक रूप से भारत एक उद्यमशील देष रहा है। देश में एन्टरप्रेनरषिप को बढावा दिया जाना चाहिये। उद्यमों की संख्या बढाकर रोजगार सृजन के नये अवसर उत्पन्न किये जा सकते हैं।

सिक्योर मीटर्स के श्री संजय सिंघल ने अपने सम्बोधन में कहा यह वर्श यूसीसीआई के संस्थापक स्वर्गीय श्री पी.पी. सिंघल का जन्म षताब्दी वर्श है। उन्होंने वर्श १९४७ एवं १९६५ के दौरान उदयपुर के व्यावसायिक परिदृष्य को रेखांकित करते हुए श्री पी.पी. सिंघल द्वारा उदयपुर में पहले उद्योग की आधारषिला रखने की संघर्श यात्रा एवं यूसीसीआई की स्थापना के विशय में जानकारी दी।

यूसीसीआई की अवार्ड सब कमेटी की चेयरपर्सन श्रीमति नन्दिता सिंघल ने यूसीसीआई एक्सीलेन्स अवार्ड्स के बारे में संक्षिप्त विवरण दिया। श्रीमति नन्दिता सिंघल ने बताया कि अवार्ड हेतु गठित की गई पांच सदस्यों के जूरी पेनल के सदस्य श्री अनिल वैष्य, श्री अखिलेष जोषी, सीए श्री षोभित अग्रवाल, प्रोफेसर जनत षाह एवं श्रीमति निलिमा खेतान द्वारा उपरोक्त अवार्डो हेतु प्राप्त समस्त प्रविश्टियों में से षॉर्ट लिस्ट कर सूची तैयार की गई। आकलन के मापदण्डों के अनुसार श्रेश्ठ उपक्रमों का अवार्ड हेतु चयन किया गया है। श्रीमति सिंघल ने यूसीसीआई एक्सीलेन्स अवार्ड्स कमेटी के श्री मनीश गोधा, डॉ. देवाश्री छापरवाल, श्री रौनक षाह, श्री मधुकर दुबे, श्री कविष गुप्ता, श्री अरूण श्रीमाली, श्री अभिनन्दन कारवा, श्रीमति रूचिका गोधा, श्री हेमन्त जैन, श्री प्रतीक हिंगड का आभार प्रकट किया। उन्होंने यूसीसीआई की ओर से अवार्ड प्रायोजित करने वाले उपक्रमों का भी आभार व्यक्त किया।

इस वर्श के स्थापना दिवस समारोह का मुख्य आकर्शण उद्यमी अपने कौषल का निर्माण कैसे करते हैं‘‘ विशय पर पेनल डिस्कषन रहा। पेनल डिस्कषन की अध्यक्षता आई.आई.एम., उदयपुर के निर्देषक प्रो. जनत षाह ने की। पेनल डिस्कषन में गोधा एन्टरप्राईजेज के श्री अनिल कुमार गोधा, कोसवी आवरण प्रोड्यूसर कम्पनी की श्रीमति अलका षर्मा, सिक्योर मीटर्स के श्री सुकेत सिंघल, इन्दिरा आईवीएफ हॉस्पीटल के डॉ. क्षितिज मुर्डिया तथा गुड डॉट के श्री अभिशेक सिन्हा ने भाग लिया।

प्रष्नकाल के दौरान कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों द्वारा व्यावसायिक कौषल निर्माण से सम्बन्धित कई प्रष्न पूछे गये जिनका पेनल के सदस्यों ने उत्तर दिया।

इन्दिरा आईवीएफ हॉस्पीटल्स प्राईवेट लिमिटेड के सीएमडी डॉ. अजय मुर्डिया को यूसीसीआई लाईफ टाईम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया। यूसीसीआई द्वारा यह अवार्ड जीवनपर्यन्त उल्लेखनीय औद्योगिक, व्यावसायिक, सामाजिक एवं जन सेवा से जुडी गतिविधियों के लिये प्रदान किया जाता है। मुख्य अतिथि श्री श्रीकान्त सोमानी एवं अध्यक्ष श्री रमेष कुमार सिंघवी ने डॉ. अजय मुर्डिया को यूसीसीआई की ओर से यह सम्मान प्रदान किया।

डॉ. अजय मुर्डिया ने अपने सम्बोधन में इन्दिरा आईवीएफ हॉस्पीटल्स की सफलता यात्रा का विवरण दिया। सीएसआर गतिविधियों पर विषेश बल देते हुए कहा कि व्यवसाय की प्रगति के लिए जरूरी है कि आमजन एवं समाज भी प्रगति करे। डॉ. मुर्डिया ने बिजनेस म सफलता प्राप्त करने के मूलमंत्र भी प्रतिभागियों के साथ साझा किये। उन्होंने बताया कि उद्यमी को चार मानकों पर ध्यान देते हुए अपना उत्पाद या सेवा प्रदान करनी चाहिये यथा - वह किफायती हो, लोगों को उसके बारे में ज्ञान हो, वह आसानी से उपलब्ध हो एवं वह लोगों की आषा पर खरी उतरे। इसी के साथ ही व्यवसाय के लिये तीन चीजें आवष्यक हैं - उचित प्रषिक्षण, सही तकनिकी ज्ञान एवं उपभोक्ता के साथ पारदर्षिता। उन्होंने उद्यमियों से आव्हान किया कि व्यवसाय के साथ-साथ समाज के उत्थान के लिये भी कार्य करें।

इसी क्रम में जूरी पेनल द्वारा षॉर्ट लिस्ट किये गये नामों में से चयनित अवार्डियों के नाम की घोशणा अवार्ड्स समारोह के दौरान मंच पर की गई।

अवार्ड समारोह के दौरान मुख्य अतिथि श्री श्रीकान्त सोमानी के करकमलों से कम्पनियों को निम्नानुसार यूसीसीआई एक्सीलेन्स अवार्ड प्रदान किये गये ः

 

पायरोटेक टेम्पसन्स मैन्यूफैक्चरिंग अवार्ड - लार्ज एन्टरप्राईज

सुदीवा स्पिनर्स प्राईवेट लिमिटेड

आर्कगेट मैन्यूफैक्चरिंग अवार्ड - मीडियम एन्टरप्राईज

पायरोटेक वर्कस्पेस सॉल्यूषंस प्राईवेट लिमिटेड

सिंघल फाउण्डेषन मैन्यूफैक्चरिंग अवार्ड - स्मॉल एन्टरप्राईज

मैराथन हीटर्स इण्डिया प्राईवेट लिमिटेड

वण्डर सीमेन्ट मैन्यूफैक्चरिंग अवार्ड - माईक्रो एन्टरप्राईज

कासा आर्ट डेकोर प्राईवेट लिमिटेड

 

हारमनी-मेवाड सर्विसेज अवार्ड - लार्ज एन्टरप्राईज

ई-कनेक्ट सॉल्यूषंस प्राईवेट लिमिटेड

जी.आर. अग्रवाल सर्विसेज अवार्ड - मीडियम एन्टरप्राईज

रिशभ बस प्राईवेट लिमिटेड

डॉ. अजय मुर्डिया इन्दिरा आईवीएफ सर्विसेज अवार्ड - स्मॉल एन्टरप्राईज

सेलस मेडिकेयर प्राईवेट लिमिटेड

वेदान्ता हिन्दुस्तान जिंक सी.एस.आर. अवार्ड

जे.के. टायर एण्ड इण्डस्ट्रीज लिमिटेड

पी.पी. सिंघल सोषल एन्टरप्राईज अवार्ड

उदयपुर उर्जा इनिषियेटिव्स प्रोड्यूसर्स कम्पनी लिमिटेड

स्पेषल जूरी अवार्ड

आईडिया बॉक्स क्रियेषंस

यूसीसीआई अध्यक्ष की ओर से अवार्ड प्रविश्ठियों में उप विजेता रहने वाली प्रतिभागी कम्पनियों यथा जे.के. सीमेन्ट लिमिटेड, टेम्पसन्स इंस्ट्रूमेन्ट्स इण्डिया प्राईवेट लिमिटेड, एक्यूरेट सेनसिंग टेक्नोलॉजीस प्राईवेट लिमिटेड, रीमाज, मेवाड हॉस्पीटल्स प्राईवेट लिमिटेड, जे.के. लक्ष्मी सीमेन्ट लिमिटेड, कर्मा प्राईमरी हेल्थकेयर सर्विसेज प्राईवेट लिमिटेड को प्रषस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

समारोह में करीब ३०० उद्योग एवं व्यवसाय से जुडे उद्यमियों, व्यवसायियों, प्रबंधकों, सरकारी विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन सिक्योर मीटर्स की श्रीमति षुभम षर्मा ने किया। कार्यक्रम के अंत में वरिश्ठ उपाध्यक्ष श्री हेमन्त जैन ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.