बाडमेर में पहली बार नन्दी कथा

( 5176 बार पढ़ी गयी)
Published on : 06 Jan, 20 04:01

op mehta

बाडमेर में पहली बार नन्दी कथा

बाडमेर। अब तक हम रामायण, भागवत, शिव पुराण पर कथाएं सुनते रहे है। बाड़मेर में श्री नंदी गौशाला में ९ से १५ जनवरी को दिव्; श्री  गो नंदी कृपा कथा होगी जिसमें सनातन धर्म के संत हल्दीघाटी से पैदल रवाना होकर अब तक ६१००० किलोमीटर की पैदल यात्रा कर बाड़मेर पहुंचेंगे। अब तक संत पैदल नंगे पांव ही १३००० गांवों में नंदी गौ कथा के माध्यम से जन-जन तक संदेश दे चुके है।  शोभा यात्रा ८ जनवरी को सुबह ११.३० बजे हायर सेकेंडरी स्कूल से निकाली जाएगी। शोभा यात्रा में यजमान, यज्ञ, कथा आरती लाभ के लिए गौ भक्त कमेटी के पास अपना नाम लिखवा सकते है।

पीले चावल बांट किया प्रचार प्रसारः शनिवार को माल गोदाम स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक एवं श्री मुल्तान मल भीख चंद छाजेड़ उच्च माध्यमिक विद्यालयों में बालक बालिकाओं को गौ माता की जीवन में उपादेयता पर बताते हुए साध्वी डॉक्टर सबला गोपाल सरस्वती ने  कहा कि गाय हमारे जीवन में महत्वपूर्ण है । इसकी परिक्रमा मात्र से शरीर स्फूर्ति एवं स्मरण शक्ति का विकास होता है। गाय भैंस एवं जर्सी गाय में अंतर और उनसे होने वाले लाभ हानि पर भी विस्तृत :प से जानकारी दी।

      बालिकाओं को संबोधित में साध्वी सरस्वती ने कहा कि राष्ट्र निर्माण में युवा किस प्रकार भागीदारी निभा सकते हैं। वैज्ञानिक तथ्यों द्वारा बालक-बालिकाओं को सूर्य को जल अर्पित करने एवं  गाय की परिक्रमा का महत्व बताया ।

     कार्यक्रम का संचालन करते हुए किशोर शर्मा ने गो नन्दी कथा में आ रहे महात्मा के जीवन का संक्षिप्त परिचय देते हुए कहा कि पहली बार हमारी थार नगरी में ६१००० किलोमीटर की यात्रा करते हुए १३००० से अधिक ग्राम कस्बा में गोनन्दी कथा से जन चेतना जागरण  करते हुए स्वामी जी बाडमेर की धरा पर आ रहे है, जो हमारे लिए गौरव की बात है। कार्यकम में धनराज व्यास] राजेन्द्र बिंदल] बसन्त खत्री सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

     समिति के कार्यकारी अध्यक्ष ओम प्रकाश मेहता ने बताया की नंदी गौशाला के प्रांगण में आयोजित होने वाले कथा में आप अधिक से अधिक संख्या में भाग लेकर धर्म लाभ ले। नगर में मलमास में होने जा रही इस कथा में यजमान बन  धर्म लाभ एवं पुण्य के भागीदार बने। नंदी गौशाला मंत्री पुरूषोतम खत्री ने बताया कि ९ से १५ जनवरी तक नंदी गौशाला परिसर में प्रति दिन दोपहर १२.३० से ४ बजे तक ग्वाल संत के मुखारविन्द से कथा होगी। उन्होंने बताया कि ८ जनवरी को सुबह ११.३० बजे हायर सैकण्डरी स्कूल से भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। यह शोभायात्रा साधु संतों व गुरूजनों की अगुवाई में हायर सैकण्डरी स्कूल से रवाना होकर गांधी चौक से होते हुए हनुमान जी मंदिर पहुंचेगी। यहां पर पूजा अर्चना के पश्चात शोभायात्रा अम्बेडकर सर्कल पहुंचेगी। मल मास में गौशाला में गौ कथा सुनने बहुत अच्छा महात्म है। कथा स्थल तक पहुंचने के लिए श्रद्धालुओं के लिए निःशुल्क टेम्पों की व्यवस्था रेलवे स्टेशन व चौहटन चौराहे से रखी गई है। कथा का लाइव प्रसारण घेनु टीवी व संस्कार टी.वी पर किया जाएगा।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.