भारतीय लोक कला मण्डल में गवरी नृत्य समारोह का समापन

( 883 बार पढ़ी गयी)
Published on : 14 Sep, 19 04:09

भारतीय लोक कला मण्डल में  गवरी नृत्य समारोह का समापन

उदयपुर |  भारतीय लोक कला मण्डल, उदयपुर । संस्था के मानद सचिव दौलत सिंह पोरवाल ने बताया कि भारतीय लोक कला मण्डल, उदयपुर में तीन दिवसीय गवरी नृत्य समारोह का समापन हुआ ।

उन्होंने बताया कि भारतीय लोक कला मण्डल में चल रहे तीन दिवसीय गवरी समारोह में आज अंतिम दिन सुबह बारिश हई तो भी  ब्राह्मणों का वरडा तहसील पंचायत बडगाँव के कलाकारों ने गवरी कि प्रतुति की, जिसमें सातम के कपडे पहन कर कलाकारों ने करीब ११ साल बाद यह गवरी ली है लगभग १२५ कलाकारों ने इसमें भाग लिया उसके बाद देवी-देवताओं का आमंत्रण हुआ गणपति वन्दाना, भवरिया खेल, कालुकीर, भीलू राणा,  बादशाह की फौज, कान्ह गुजरी, गोमा मीणा, भीयावड (भस्मापुर), पाबुजी राठौड (अमर कोट), जांगा (लाखँ बणजारा) एवं बणजारा  आदि के खेल हुए। बारिश होते हुए भी भारी संख्या में लोग गवरी देखने के लिए उमड पडे ।

निदेषक डॉ. लईक हुसैन ने बताया कि भारतीय लोक कला मण्डल में तीन दिवसीय गवरी का इसी के साथ समापन हुआ । आदिम जाति शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान, उदयपुर के निदेषक,  दिनेश चन्द्र जैन ने बताया की इसी श्रृंखला में दिनांक १८,१९, २० सितम्बर २०१९ को सहेलियों की बाडी में गवरी नृत्य का आयोजन रखा गया है । जिसमें दर्शकों का प्रवेश लिःशुल्क रहेगा ।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.