संस्कृत भारती -संस्कृत सप्ताहः श्लोक प्रतियोगिता

( 4832 बार पढ़ी गयी)
Published on : 17 Aug, 19 04:08

संस्कृत अमूल्य ज्ञान का भंडार-हस्तीमल

संस्कृत भारती -संस्कृत सप्ताहः श्लोक प्रतियोगिता

संस्कृत भारती द्वारा संस्कृत दिवस के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे  संस्कृतसप्ताह के अंतर्गत आज दिनांक 16 अगस्त 2019 शुक्रवार को हिरण मगरी से. 11  स्थित आलोक उच्च माध्यमिक विद्यालय में श्लोक प्रतियोगिता हुई।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य माननीय हस्तीमल एवं आलोक हिरण मंगरी सेक्टर 11 के प्राचार्य शशांक टांक, आलोक के एकेडेमिक काउन्सलर प्रतीक कुमावत द्वारा मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया गया ।

इस अवसर पर हस्तीमल जी ने संस्कृत को अमृतवाणी बताते हुए अमूल्य ज्ञान का भंडार बताया तथा साथ ही संस्कृत को व्यवहार में लाने का प्रयास करने हेतु सभी से आग्रह किया।

   संयोजक दुष्यंत नागदा ने बताया की यह प्रतियोगिता कनिष्ठ(कक्षा 6से 8) व वरिष्ठ(कक्षा 9 से महाविद्यालयः) दो वर्गो मे हुई, जिसमे छात्रों द्वारा कनिष्ठ वर्ग में 3 श्लोक, वरिष्ठ वर्ग में 6 श्लोक के साथ दोनों वर्गो में विभिन्न विद्यालयो से कुल 52  प्रतिभागियों ने भाग लेकर बड़े उत्साह से संस्कृत में अपना परिचय देकर सस्वर राग लय , छन्द, गति के साथ श्लोक पाठ किया। 

महानगर संयोजक नरेंद्र शर्मा ने बताया कि श्लोक प्रतियोगिता के निर्णायक संस्कृत विद्यालय गोखर मगरी के प्राचार्य ऋषभ कुमार जैन एवं पंडित रवि सुखवाल थे।

     इस अवसर पर महाराणा मेवाड़ पब्लिक स्कूल, सेंट्रल एकेडमी सरदारपुरा, सेंट्रल एकेडमी सेक्टर 5 , संस्कृत विद्यालय सवीना, रॉकवुडस हाई स्कूल, आर.एम.डी.पी.स्कूल, दिल्ली पब्लिक स्कूल(DPS) नोबल इंटरनेशनल, आलोक विद्यालय पंचवटी, एवं आलोक सीनियर सेकेंडरी हिरण मगरी सेक्टर 11 आदि विद्यालयों के छात्रों ने उत्साह से भाग लिया।

    उन्होंने कहा कि संस्कृतसप्ताह के सभी प्रतियोगियो को प्रमाण पत्र एवं विजेता को पुरुस्कार 17 अगस्त शनिवार को आलोक पंचवटी में आयोजित पुरूस्कार वितरण समारोह में दिए जाएंगे।

     इस अवसर पर मुख्य रूप से संस्कृत भारती के  हिमांशु भट्ट, दुष्यंत नागदा,डॉ.यज्ञ आमेटा, नरेंद्र शर्मा , दुष्यंत कुमावत, संजय शांडिल्य आदि ने सहयोग किया।

     कार्यक्रम का सञ्चालन बिहारी लाल आमेटा ने संस्कृत भाषा में रोचक प्रकार से किया। 

विभिन्न विद्यालयों से आए अध्यापकों एवं विद्यार्थियों का धन्यवाद एवं आभार विद्यालय प्राचार्य शशांक टांक ने दिया।

     उन्होंने बताया कि श्लोक प्रतियोगिता के अंतर्गत नोबल इंटरनेशनल स्कूल से बालिका नखत खान और नोशीन खान ने भी सस्वर श्लोक का उच्चारण किया जो कि आकर्षक का केंद्र रहा। उन्होंने इस प्रतियोगिता में भाग लेकर सामाजिक सौहार्द्रता का संदेश दिया।

   तथा समापन 18 अगस्त रविवार को वृक्षारोपण कार्यक्रम के साथ होगा।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.