महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल में ‘इस्कॉन‘ का संस्कृति दर्शन

( 6099 बार पढ़ी गयी)
Published on : 16 Jul, 19 04:07

महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल में ‘इस्कॉन‘ का संस्कृति दर्शन

उदयपुर  ।  इन्टरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉनशियसनेस (इस्कॉन) द्वारा महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल में संस्कृति दर्शन कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। यह समारोह विद्यार्थियों में नैतिक मूल्यों के बिजारोपण एवं ईश्वर में आस्था रखकर जीवन को सार्थक बनाने हेतु विभिन्न आयामों के प्रदर्शन की भावना से किया गया।

शनिवार सायं कार्यक्रम का शुभारंभ इस्कॉन उदयपुर के संयोजक मदन गोविंद दास के स्वागत उद्बोधन एवं चित्रांशी के मंगलाचरण से हुआ। इसके पश्चात् कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रो. जे.पी. शर्मा, कुलपति, मोहनलाल सुखाडया विश्वविद्यालय,उदयपुर का स्वागत विद्यालय के उप-प्राचार्य विजेश कुमार चौबीसा ने किया तथा इस्कॉन द्वारा समाज में नैतिक उत्थान हेतु किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। उप प्राचार्य चौबीसा ने सभी विद्यालयों के शिक्षक तथा विद्यार्थियों को इस कार्यक्रम में उत्साह पूर्वक भाग लेने पर शुभकामनाएँ प्रदान की।

कार्यक्रम के अगले चरण में एम.डी.एस.स्कूल, सी.पी.एस., आलोक स्कूल एवं महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने कृष्ण लीला नृत्य प्रस्तुत कर सभी को आल्हादित कर दिया। तत्पश्चात् वात्सल्य कल्चर क्लासेस के विद्यार्थियों ने कृष्ण भजन प्रस्तुत किये तथा राजीव सुरती डान्स क्लासेस के विद्यार्थियों ने नरसिंह लीला का मंचन कर सभी को रोमांचित दिया।

इस्कॉन द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर ‘वेल्यू एजूकेशन कोंटेस्ट‘ का आयोजन किया गया, जिसमें उदयपुर के कई स्कूलों के विद्यार्थियों ने भाग लिया। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल के अरित प्रग्नेश गाँधी, एम.डी.एस. के कुशाल सुराणा, सी.पी.एस. की निहारिका चौहान एवं एसेन्ट इन्टरनेशनल के नमन यादव को पुरस्कार स्वरूप साईकिलें प्रदान की गई तथा पचास अन्य विद्यार्थियों को भी पुरस्कार दिये गये।

कार्यक्रम की अगली कडी में मुख्य अतिथि प्रो. जे.पी. शर्मा ने अपने आर्शीवचनों द्वारा यह प्रेरणा दी कि अध्ययन के साथ-साथ माता पिता को बच्चों को धार्मिक ज्ञान भी देना चाहिए तथा विद्यार्थियों को कम से कम एक श्लोक का वाचन प्रतिदिन करना चाहिए। जीवन को सफल एवं सुखी बनाने हेतु श्रीमद् भगवतगीता के महत्व को बताते हुए उसका सार अपनाने हेतु प्रेरित किया।

कार्यक्रम में विद्यालय के प्राचार्य संजय दत्ता ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि कर्म के साथ-साथ ईश्वर में आस्था ही सफलता का मूल मंत्र है। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्राचार्य श्री संजय दत्ता ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिह्व भेंट किया तथा इस्कॉन के मदन गोविंद दास ने के.जी. गुप्ता, वी.पी. राठी, संदीप जैतवाल, कबीर पोखरना को स्मृति चिह्व देकर सम्मानित किया। उदयपुर संभाग में अधिकतम विद्यार्थियों द्वारा भाग लेने पर महाराणा मेवाड पब्लिक स्कूल को विशिष्ठ सम्मान से नवाजा गया। कार्यक्रम का संयोजन श्रीमती श्वेता सुखवाल तथा संचालन नमन सुखवाल एवं छात्रा प्रमुख सौम्या व्यास ने किया।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.