झाड़ोल में चल रहे नरेगा कार्यों का औचक निरीक्षण

( 1096 बार पढ़ी गयी)
Published on : 18 May, 19 04:05

पाई गई कमियों के लिए संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही प्रारंभ

झाड़ोल में चल रहे नरेगा कार्यों का औचक निरीक्षण

उदयपुर / जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा गठित आकस्मिक जांच दल द्वारा पंचायत समिति झाडोल के ग्राम पंचायत काडा में प्रगतिरत महात्मा गांधी नरेगा के कार्यों को निरीक्षण शुक्रवार को किया गया। इस दौरान विभिन्न कार्य स्थलों पर मिली अनियमितताओं एवं पाई गई कमियों के लिए संबंधित अधिकारी-कार्मिक के विरूद्ध कार्यवाही प्रारंभ करते हुए मेट को तुरंत प्रभाव से ब्लेक लिस्टेड करने के आदेश जारी किए गए है।

क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय खुडा में खैल मैदान विकास कार्य के निरीक्षण के दौरान मौके पर किसी प्रकार का कोई कार्य नहीं चलने के साथ ही 60 श्रमिकों का मस्टरोल जारी किया गया मिला। वहीं रूपण माता जी से लक्ष्मण दीता के घर तक संपर्क सडक कार्य मय पुलिया निर्माण के निरीक्षण के दौरान मौके पर किसी प्रकार का कोई कार्य नहीं चल रहा था परन्तु 60श्रमिकों का मस्टरोल जारी किया गया था।

इसी प्रकार चतरा काला से लक्ष्मण दीता के घर तक संपर्क सडक कार्य मय पुलिया निर्माण कार्य के वक्त निरीक्षण 57 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे किन्तु मौके पर 30श्रमिक ही कार्यरत थे। जबकि निरीक्षण से एक दिन पूर्व 56 श्रमिक कार्यरत थे। किसी भी अधिकारी/कर्मचारी का निरीक्षण चालू पखवाडे में में कभी भी नहीं किया गया था। मेडिकल किट भी मौके पर उपलब्ध नहीं था। मुख्य सडक से दादियाफलां तक संपर्क सडक मय पुलिया निर्माण के निरीक्षण के दौरान 60 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे, किन्तु मौके पर 29 श्रमिक ही कार्यरत थे। मौके पर मेट अनुपस्थित था एवं किसी भी अधिकारी/कर्मचारी का निरीक्षण चालू पखवाडे में में कभी भी नहीं किया गया था।

मेन रोड से पिछला फलां तक संपर्क सडक मय पुलिया निर्माण कार्य के वक्त निरीक्षण 61 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे किन्तु मौके पर 32 श्रमिक ही कार्यरत थे। मौके पर मेट अनुपस्थित था एवं किसी भी अधिकारी/कर्मचारी का निरीक्षण चालू पखवाडे में कभी भी नहीं किया गया था। इसी प्रकार हितरी घाटी से शेर सिंह के घर की ओर वांगली तक संपर्क सडक मय पुलिया निर्माण कार्य के निरीक्षण के दौरान 90 श्रमिकों के मस्टरोल जारी किये गये थे किन्तु मौके पर 35 श्रमिक ही कार्यरत थे। मौके पर मेट मस्टरोल सहित अनुपस्थित था ।

इन समस्त कमियों के लिये पंचायत समितियांे से संबंधित कार्यक्रम/विकास अधिकारी, सहायक अभियंता, कनिष्ठ तकनिकी सहायक एवं ग्राम विकास अधिकारी को नोटिस जारी कर अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गयी है एवं मेट को काली सूची (ब्लेेक लिस्ट) में डालने के निर्देश जारी कर दिये गये है। महात्मा गांधी नरेगा में किसी भी अनियमितता अथवा शिकायत हेतु टोल फ्री नम्बर 1800-180-6127 पर संपर्क किया जा सकता है।


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.