आयशर प्रो विस्तार द्वारा ट्रैक्टर प्रो 6055 की पेशकश

( 2691 बार पढ़ी गयी)
Published on : 13 Feb, 19 06:02

आयशर प्रो विस्तार द्वारा ट्रैक्टर प्रो 6055 की पेशकश

वीई कमर्शियल व्हीकल्स लि. के अग्रणी भाग आयशर ट्रक्स और बसेंस ने राजस्थान में अपने ट्रैक्टर शो आयशर प्रो विस्तार के दौरान अपने नये ट्रैक्टर आयशर प्रो 6055 को प्रस्तुत किया है। तकनीकी रूप से सुदृढ आयशर प्रो 6055 भारत का पहला 55 टन जीसीडब्ल्यू श्रेणी का ट्रैक्टर है जो उत्पादकता और ईंधन दक्षता में नये मानक स्थापित करने की क्षमता रखता है। आयशर के द्वारा उभरते हुये मिड प्रिमीयम सैगमेंट, जोकि हाई पावर और टॉर्क कॉम्बीनेशन के साथ उच्च श्रेणी के रिफाईनमेंट और सॉफ्स्टीकेशन के लिये जाना जाता है, में पूर्व से ही प्रचलित प्रो 8049 को स्थापित किया है।

आयशर ट्रक्स एंड बसेंस के एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसीडेंट एएस रामा राव ने कहा कि सरकार द्वारा हैवी ड्यूटी व्हीकल्स के संबंध में प्रस्तुत किये गये एक्सल लोड संबंधी नये नियमों के अनुसार, आयशर द्वारा ट्रांसप्रोस्टर्स की आवश्यकताओं के अनुरूप उच्च तकनीक और क्षमता को श्रेष्ठ सुरक्षा मानकों के साथ कम मालिकाना लागत पर उपलब्ध करायी जा रही है। हमारी नये ट्रेक्टर रैंज ने क्षमता और उपभोक्ता को लाभ प्राप्ति के क्षेत्र में नये मानक स्थापित किये है। वहीं आयशर प्रो 6040 फॉर बाय टू टीटी ने उत्पादकता के स्तर में वृद्धि कर तथा विश्वस्तरीय इंजन तकनीक, कुशलतापूर्वक विशेषताओं, सर्विस सुविधा के विस्तार के साथ हैवी ड्यूटी ट्रक इंडस्ट्री में क्रांति ला दी है। वर्तमान समय में एक्सल लोड के उच्च मानदंड और हाई परफोरमेंस की बढती मांग के लिये आयशर प्रो 6055, प्रो 8049 और प्रो 6040 में वोल्वो गु*प के विश्वस्तरीय प्लेटफॉर्म पर आधारित अपनी श्रेणी में सबसे बडा इंजन, अगली पीढी का 7.7 लीटर और बीएस 4 डीजल इंजन प्रस्तुत किया है। ये ट्रैक्टर्स 250-280 एचपी पर ग्राहक की लाभप्रदता को ध्यान में रखते हुए बेहतर प्रदर्शन और भरपूर शक्ति प्रदान करते हैं। नए इंजीनियरिंग बेंचमार्क के साथ, इन ट्रैक्टर्स का उद्देश्य लंबे समय में निवेश पर अधिकतम रिटर्न सुनिश्चित करने के लिए पूरी उत्पादकता और न्यूनतम रखरखाव के माध्यम से संपूर्ण लागत इकोसिस्टम को प्रभावित करना है।

 

 

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.