४ साल में दिये ५०,००० नये स्वेटर निःषुल्क-A remarkable efforts

( 3461 बार पढ़ी गयी)
Published on : 18 Jan, 19 06:01

आर टी ई के तहत बच्चों को स्वेटर देने की बात उठाई

४ साल में दिये ५०,००० नये स्वेटर निःषुल्क-A  remarkable efforts

उदयपुर । सुहानी सर्दी आन्दोलन के तहत पिछले ४ वर्शों से जिलेभर में निःषुल्क स्वेटर वितरण का कार्यक्रम किया जा रहा है। इस वर्श १०,००० स्वेटर का लक्ष्य रखा गया था। सुहानी सर्दी आन्दोलन के तहत पिछले ४ सालों में अब तक निःषुल्क ५०,००० नये स्वेटर जिले के सरकारी विद्यालय में वितरित किये जा चुके है। कल बुधवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, गोवर्धन विलास में पहली से पांचवीं कक्षा तक के छात्रों को निःषुल्क स्वेटर वितरित कर समापन किया गया। इस अवसर पर सैकडों कार्यकर्ता मौजूद थे। सुहानी सर्दी आन्दोलन के तहत वर्श २०१५ में ठंड में ग्रामीण बच्चों की आवष्यकता को देखते हुए नये स्वेटर वितरण का बीडा उठाया। एवं वर्श २०१५ में १०,००० नये स्वेटर सरकारी स्कूल के पहली से पांचवी के बच्चों को देकर अभियान की षुरूआत की। वर्श २०१६ में १०,००० एवं वर्श २०१७ में २०,००० स्वेटर वितरण किये गये। वर्श २०१८ में १०,००० का लक्ष्य रखा गया था। जो कि बुधवार को पूरा हुआ। सुहानी सर्दी आन्दोलन के प्रणेता प्रवीण रतलिया ने बताया कि हम युवाओं ने कोषिष की है कि उदयपुर में सर्दी से एक भी मौत नहीं होने दें। हमने वर्श २०१५ से लगातार कोषिष की है कि जिले में एक भी छात्र की मौत सर्दी से नहीं हुई है। सर्दियों में सरकारी विद्यालयों की उपस्थिति कम हो जाती है, तो छात्रों को स्वेटर मिलने से बच्चों की उपस्थिति भी बढी है। सरकार के द्वारा चलाये जा रहे ’’षिक्षा के अधिकार’’ के तहत विद्यार्थियों को मूलभूत सुविधाएँ प्रदान करने का एक्ट है जिसमें स्वेटर भी एक मूलभूत आवष्यकता है। सरकार को निःषुल्क स्वेटर के सम्बन्ध में कई ज्ञापन भी दे चुके है पर अब तक सरकार द्वारा कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया है। युवाओं ने पुनः बुधवार को कार्यक्रम समापन पष्चात् कलेक्ट्री में जाकर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया। सुहानी सर्दी आन्दोलन के प्रणेता प्रवीण रतलिया ने मिडिया से बातचीत में बताया कि हम युवाओं ने काफी कोषिष की है। बहुत ज्ञापन दे चुके है। यदि सरकार हमारी मांगो को पूरा नह करती है तो हम युवाओं को मजबुरन धरना प्रदर्षन करना पडेगा। इस अवसर पर आन्दोलन के प्रणेता प्रवीण रतलिया, विद्यालय के प्रधानाचार्य राजकमल लौहार, कपिल नचानी, प्रमोद सोनी, भरत माली, दिवाकर माली, विष्वास धीवर, हितेष कुमावत, षिरिष माथुर, आषीश षर्मा, सृश्टि कोटिया, संजय चंदेल, रोहित जोषी, सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। षीघ्र ही सुहानी सर्दी आन्दोलन के पार्ट-२ के अन्तर्गत जो २.२० लाख पुराने गर्म कपडे एकत्रित किये गये थे, उनका भी समापन किया जायेगा। सुहानी सर्दी आन्दोलन का नाम वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज हो चुका है।

 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.