मतदाता सूचियों का द्वितीय सक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम

( 818 बार पढ़ी गयी)
Published on : 15 Sep, 18 07:09

जयपुर जिले में नाम विलोपन की एक लाख 16 हजार 652 आपत्तियों में से एक लाख 5 हजार 299 नामों का विलोपन

मतदाता सूचियों का द्वितीय सक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम जयपुर। जयपुर जिले में मतदाता सूचियों के द्वितीय सक्षिप्त पुनरिक्षण कार्यक्र्रम में दौरान 31 जुलाई 2018 को मतदाता सूचियों के प्रारूप का प्रकाशन किया गया था। इसके बाद 07 सितम्बर 2018 तक दावे और आपत्तियां प्राप्त हुई। जिला कलक्टर एंव जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिद्वार्थ महाजन ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मिलती-जुलती प्रविष्टियों वाले मतदाताओं की ईआरओ-नेट के माध्यम से पहचान करते हुए उपलब्ध कराये गये सॉफ्टवेयर में जिले की 19 विधानसभा क्षेत्रों में 10 लाख 21 हजार 7 मतदाता लक्षित किये गये इनमें से 25442 सदिग्ध प्रविष्टियां पायी गयी।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि राजनैतिक दलों के द्वारा भी इस संबंध में प्रविष्टियां मय सीडी प्रस्तुत किये थे जिनकी जॉंच सभी 19 विधानसभा क्षेत्रों के ईआरओ द्वारा कराई गयी, इसमंे विभिन्न प्रकार की 28090 दोहरी प्रविष्टियां पायी गयी। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी (ईआरओ) द्वारा टेबल-टॉप परीक्षण के बाद इन शिकायतों में वर्णित नामों का बीएलओ के माध्यम से फील्ड सर्वे कराकर सत्यापन कराया गया। इस अवधि में मतदाता सूचियों को त्रुटि रहित करने के लिए बीएलओ के माध्यम से डोर-टु-डोर सर्वे करवाया गया। इसमें अनुपस्थित, स्थानान्तरित, दिवंगत लोगों की दोहरी प्रविष्टियों को चिन्हित कर उनके फार्म नम्बर 7 प्राप्त किये गये।
जिले में अब तक द्वितीय सक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम में मतदाता सूची के संबंध में फार्म नम्बर 7 के द्वारा प्राप्त एक लाख 16 हजार 652 आपत्तियों का निर्णय ईआरओ के द्वारा किया जा रहा है अभी तक 105229 मतदाताओं के नाम हटाने की कार्यवाही की जा चुकी है।
साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.