ईईएसएल कंपनी ने 506 नई लाईटों का किया घोटाला

( 850 बार पढ़ी गयी)
Published on : 11 Aug, 18 09:08

ईईएसएल कंपनी ने 506 नई लाईटों का किया घोटाला बारां। नगर परिशद उपसभापति गौरव षर्मा ने षुक्रवार को दोपहर 1 बजे नगर परिषद स्थित विधुत विभाग का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान साथ में सफाई समिति अध्यक्ष हरिराज सिंह गुर्जर, वरिष्ठ पार्षद राहुल शर्मा, सुनील सांखला, वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रदीप विजय भी मौेजूद थे। निरीक्षण में विधुत विभाग में विभाग के प्रभारी पवन सेन उपस्थित मिले। प्रभारी से बारां नगर परिषद क्षेत्र की विधुत संबंधित समस्या का रजिस्टर चेक किया, जिसमंे प्रतिदिन आने वाली शिकायतों के निस्तारण के बारें में जानकारी ली। उपसभापति शर्मा ने विधुत विभाग प्रभारी से जानकारी चाही। षर्मा ने कहा कि झालावाड रोड पर रेल्वे फाटक के पास चालीस हजार आबादी निवास कर रही है, वहां पर लाईटे बंद पडी है। कहीं पर लगी हुई नहीं है। इस संबंध में लाइट कम्पनी से जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि झालावाड रोड की लाईटे चोरी हो गई हैं। इसलिए कम्पनी लाईटे नहीं लगा सकती। षर्मा ने बताया कि शहर के मुख्य सडक मार्गों की बडी लाईटें जो 70 वाट व 120 वाट की है वो चोरी हो गई है। कम्पनी प्रतिनिधि हरलाल धाकड का कहना है कि लाईटे नगर परिषद को सम्भाला दी थी और नगर परिषद बारां के विधुत विभाग के प्रभारी पवन सेन का कहना है कि यह लाईटे लगी ही नहीं है। जोे कम्पनी लाईट चोरी होना बता रही है जिसकी तादाद 500-600 है, उसे नगर परिषद ने संभाला ही नहीं, फिर चोरी की एफआईआर नगर परिषद बारां क्यो कराए, ये जवाबदेही लाईट कम्पनी की बनती है। इसलिए एफआईआर कम्पनी ही कराएं। यह जो 500-600 लाईटों को मामला हैे इसे कम्पनी व नगर परिषद मिलकर निपटाए। इस मामले में नगर परिषद आयुक्त अपनी भूमिका निभाए।
साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.