logo

तेजस्वी ने नीतीश को दी सलाह, राजनीति तेज

( Read 15000 Times)

08 Mar 18
Share |
Print This Page
तेजस्वी ने नीतीश को दी सलाह, राजनीति तेज पटना : बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव इन दिनों सोशल मीडिया के साथ-साथ सार्वजनिक मंच से भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर बने रहते हैं. आये दिन मुख्यमंत्री को डबल इंजन की सरकार का मुखिया बताते हैं, तो कभी नैतिकता का पाठ पढ़ाते हैं. इसी क्रम में तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक बड़ी सलाह दे डाली है. इस सलाह के बाद राजनीतिक गलियारों में कयास लगाये जा रहे हैं कि राजनीति के तेज होने की संभावना है और जदयू के प्रवक्ता भी तेजस्वी पर हमला बोल सकते हैं.
नीतीश कुमार रीढ़विहीन मुख्यमंत्री है।
अगर प्रधानमंत्री मोदी जी और केंद्र सरकार बिहार की विशेष दर्जे की जायज़ माँग को अस्वीकार करते है तो नीतीश जी को अंतरात्मा आवाज़ पर तुरंत इस्तीफ़ा देकर NDA से गठबंधन तोड़ना चाहिए।
कुछ तो हिम्मत दिखाइए चाचा जी। हम इस माँग पर साथ है।


— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) March 8, 2018
तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि नीतीश जी बतायें उन्होंने किस सीडी और फाइल के डर से अपनी नैतिकता, अंतरात्मा, राजनीति और बिहार के अधिकारों को भाजपा के यहां गिरवी रखा है? शासन इकबाल और स्वाभिमान से चलता है. कितने दिन डरकर बिहार का नुकसान करते रहेंगे. केंद्र सरकार ने दिल्ली में आपका बंगला तैयार करवा दिया है. तेजस्वी ने कहा है कि नीतीश जी ने अपने लिए दिल्ली में ‘विशेष आवास’ और ‘विशेष सुरक्षा’ के समझौते के तहत बिहार को विशेष दर्जे की मांग को कूड़ेदान में डलवा दिया. उसके आगे तेजस्वी ने लिखा है कि नीतीश जी को यह हक किसने दिया है कि अपने व्यक्तिगत स्वार्थों की पूर्ति के लिए वो बिहार के साथ हकमारी करें. स्वयं घोषित नैतिक पुरुष जवाब दें.

नीतीश जी ने अपने लिए दिल्ली में ‘विशेष आवास’ और ‘विशेष सुरक्षा’ के समझौते के तहत बिहार को विशेष दर्जे की माँग को कूड़ेदान में डलवा दिया।

नीतीश जी को यह हक़ किसने दिया है कि अपने व्यक्तिगत स्वार्थों की पूर्ति के लिए वो बिहार के साथ हक़मारी करें।

स्वयंघोषित नैतिक पुरुष जवाब दे।
— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) March 8, 2018

तेजस्वी यादव ने बड़ा हमला करते हुए कहा है कि नीतीश कुमार रीढ़विहीन मुख्यमंत्री है. अगर प्रधानमंत्री मोदी जी और केंद्र सरकार बिहार की विशेष दर्जे की जायज मांग को अस्वीकार करते है तो नीतीश जी को अंतरात्मा की आवाज पर तुरंत इस्तीफा देकर एनडीए से गठबंधन तोड़ना चाहिए. कुछ तो हिम्मत दिखाइए चाचा जी. हम इस मांग पर साथ है.
श्री नीतीश जी बतायें उन्होंने किस सीडी और फ़ाइल के डर से अपनी नैतिकता, अंतरात्मा, राजनीति और बिहार के अधिकारों को भाजपा के यहाँ गिरवी रखा है?

शासन इक़बाल और स्वाभिमान से चलता है। कितने दिन डरकर बिहार का नुक़सान करते रहेंगे।केंद्र सरकार ने दिल्ली में आपका बंगला तैयार करवा दिया है
— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) March 8, 2018

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को बिहार राज्य के विशेष राज्य के दर्जे की मांग को याद दिलाते हुए कहा है कि नीतीश कुमार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू से सीख लेनी चाहिए. तेजस्वी ने ट्वीट कर लिखा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को मैंने पत्र लिखकर अपने नेता पीएम मोदी से बिहार के विशेष राज्य के दर्जे की मांग करने की विनम्र विनती की थी और साथ ही समर्थन देने का वायदा भी किया था, लेकिन नीतीश कुमार ने उस पत्र का जवाब देना उचित नहीं समझा.
I had requested Bihar CM to take a clue from Chander Babu Naidu Ji on 7th February last month exactly a month ago but Nitish Ji didn’t pay attention to my suggestion & humble request. https://t.co/E5n2dmQk6z
— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) March 7, 2018

तेजस्वी ने आगे कहा है कि नीतीश कुमार को चंद्र बाबू नायडू को देखना चाहिए. तेजस्वी कहना चाह रहे हैं कि देख लिया जाये कैसे नायडू ने अपने राज्य हित का सवाल उठाया है. तेजस्वी ने कहा है कि छिपी हुई सीडी और फाइल के डर से नीतीश कुमार ने अपनी नैतिकता और विवेक को गिरवी रख छोड़ा है. हाल में चंद्र बाबू नायडू ने विशेष राज्य के दर्जे के मुद्दे पर एनडीए से किनारा कर लिया है. वहीं बिहार में भी पहले से विशेष राज्य के दर्जे की मांग सामने आती रही है.

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like