बकाया  आक्षेपों में ठोस कार्रवाई . अतिरिक्त निदेशक 

( Read 529 Times)

17 May 19
Share |
Print This Page
बकाया  आक्षेपों में ठोस कार्रवाई . अतिरिक्त निदेशक 

बूंदी।  स्थानीय निधि अंकेक्षण की जिला स्तरीय समिति की वित्तीय वर्ष 2019.20 की प्रथम त्रैमासिक बैठक गुरूवार को जिला कलक्ट्रेट सभागार में अतिरिक्त निदेशक एवं सदस्य सचिव पूनम मेहता की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में अतिरिक्त निदेशक ने निर्देश दिए कि अधिकारी अंकेक्षण प्रकरणों के प्रति गंभीर रहें एवं सख्ती से समयबद्ध पालना सुनिश्चित करें। बड़ी रकम की वसूली के प्रकरणों को त्वरित प्रभाव से निस्तारित किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि आक्षेपों की प्रथम अनुपालना रिपोर्ट शीघ्र भिजवाए जाए। 
    उन्होंने ने निर्देश दिए कि वित्तीय वर्ष 2019.20 में मासिक रूप से 2.5 प्रतिशत लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित कर संभागीय प्रशासनिक समिति के निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि गबन के प्रकरणों के मामलों में गबन की मूल राशि जमा होने तक ब्याज एवं विभागीयध्विधिक कार्यवाही भी वांछनीय है। 
बकाया आक्षेपों में हो अपेक्षित कार्रवाई 
    अतिरिक्त निदेशक ने बताया कि बूंदी जिले की संस्थाओं की ओर से 16536 सामान्य आक्षेप, 78 गंभीर आक्षेप एवं 174 गबन प्रकरणों में सन्हित राशि 80.45 लाख रुपए बकाया है। उन्होंने निर्देश दिए कि संबंधित संस्थाधिकारियों द्वारा बकाया आक्षेपों के तहत अपेक्षित कार्यवाही सुनिश्चित कर अंकेक्षण विभाग को ठोस अनुपालना भिजवाई जाए। 
27 से 31 मई होंगी समीक्षा बैठकें 
    अतिरिक्त निदेशक ने बताया कि क्षेत्रीय कार्यालय स्तर पर 27 से 31 मई तक समीक्षा बैठकों का आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा जून माह में संभागीय प्रशासनिक समिति की बैठक प्रस्तावित है। उन्ळोनें निर्देश दिए कि संभागीय समिति की बैठक से पहले समीक्षा बैठकों में अधिकाधिक मात्रा में ठोस एवं सारगर्भित अनुपालनाएं प्रस्तुत कर आक्षेपों का निस्तारण करवाकर आवंटित लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित की जाए। 
गैर हाजिर अधिकारियों को स्पष्टीकरण के निर्देश 
    बैठक में संयुक्त निदेशक कृषि विपणन विभाग कोटा, विकास अधिकारी पंचायत समिति हिण्डोली, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका नैनवां एवं सचिव कृषि उपज मण्डी समिति सुमेरगंज मण्डी की अनुपस्थिति को गंभीरता से लेते हुए समिति द्वारा बैठक में अनुपस्थित संस्थाधिकारियों को स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए गए। 
    बैठक में जिला कोषाधिकारी राजेन्द्र जसोतानी, नगर परिषद आयुक्त अरूणेश शर्मा, विभिन्न कार्यालय अध्यक्ष, स्थानीय निकाय अधिकारी एवं विभिन्न विभागों के प्रतिनिधि मौजूद रहे। 
.......


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like