आज भी युवाओं के लिए उर्जा के स्त्रोत स्वामी विवेकानन्द के विचार

( Read 1528 Times)

13 Jan 19
Share |
Print This Page

आज भी युवाओं के लिए उर्जा के स्त्रोत स्वामी विवेकानन्द के विचार

कोटा  स्वामी विवेकानन्द की 156 वीं जयन्ती पर जिला प्रशासन, जिला युवा बोर्ड, नेहरू युवा केन्द्र संगठन, स्काउट एण्ड गाईड संगठन द्वारा लाल बहादुर शास्त्री शिक्षा समूह के सहयोग से जिला स्तरीय राष्ट्रीय युवा दिवस कार्यक्रम आज महावीर नगर स्थित एल.बी.एस. कैम्पस में आयोजित किया गया। 

कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित करतेे हुए नगर विकास न्यास के सचिव आनन्दी लाल वैष्णव ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द विश्व के युवाओं के लिए उर्जा के अनन्त स्त्रोत हैं। उन्होंने कहा कि उठो, जागो और तब तक मत रूको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति न हो जाये का संदेश युवाओं के लिए बेहद प्रेरणादायी है। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए स्टेट स्काउट एण्ड गाईड संगठन की उपाध्यक्ष सुमन श्रृंगी ने कहा कि सोच और संस्कार से जीवन संवरता है यह बात स्वामी विवेकानन्द के जीवन से हम सब सीख सकते है। अतिथियों का एल.बी.एस. ग्रुप की संस्थापक सचिव उर्मिला माथुर, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओ.पी. माथुर, निदेशक योगेन्द्र माथुर तथा लॉर्ड बुद्धा इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एण्ड साईंसेस के प्राचार्य डॉ. कपिल देव ने स्वागत किया।

एल.बी.एस. ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओ.पी. माथुर ने कहा कि किसी भी कार्य को लगन और निष्ठा से किस तरह किया जा सकता यह बात स्वामी विवेकानन्द के जीवन से प्रेरणा स्वरूप हमें ग्रहण करनी चाहिए। मुख्य वक्ता सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के उपनिदेशक हरिओमसिंह गुर्जर ने विवेकानन्द के 15 अमूल्य विचारों पर रोशनी डालते हुए कहा कि स्वामी विवेकानन्द को नव जागरण का अग्रदूत कहा जाता है।

जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक रिपुसूदन सिंह ने कहा कि उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय जगत का भारत के योग और वेदांत से परिचय कराया। जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक शिक्षा पुरूषोत्तम माहेश्वरी ने उनके जीवन दर्शन पर प्रकाश डाला। स्काउट गाईड के मण्डल कोषाध्यक्ष विजय माहेश्वरी ने स्वामी विवेकानन्द की 11 सितम्बर 1893 में शिकागो में दिये गए उद्बोधन के बारे में प्रतिभागियों को बताया तथा उनके भाषण का अंश सुनाया। नेहरू युवा केन्द्र संगठन के जिला युवा समन्वयक महेन्द्र सिंह सिसोदिया और स्काउट गाईड संगठन के सचिव यज्ञ दत्त हाड़ा ने राष्ट्रीय युवा दिवस के तहत हो रहे जिला स्तरीय विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी। 

कार्यक्रम का संचालन करते हुए पूर्व संयुक्त निदेशक पत्र सूचना विभाग किशन रतनानी ने विवेकानन्द जी के जीवन पर प्रकाश डाला। इस दौरान मुख्य अतिथि ने सभी प्रतिभागियों को स्वामी विवेकानन्द के सिद्धांतों और आदर्शों का प्रचार करने सहित विभिन्न सामाजिक सरोकारों से जुडी 10 सूत्रीय शपथ दिलायी। कार्यक्रम में रानपुर स्थित लार्ड बुद्धा इंस्टिट्यूट ऑफ टैक्नोलॉजी एण्ड साईंसेस, एल.बी.एस. टी.टी. कॉलेज, कॉमर्स कॉलेज, राजस्थान टैक्निकल युनिवर्सिटी, राजकीय महाविद्यालय की ओर से नृत्य, गीत और भाषण की प्रस्तुति दी गयी। नेहरू युवा केन्द्र संगठन की ओर से राष्ट्रीय एकता पर लघु नाटिका प्रस्तुत की गयी। प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता भी आयोजित की गई तथा विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से भजन प्रस्तुति दी गयी तथा ध्यान योग कराया गया। इस अवसर पर मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी स्नेहलत, युवा पुरूस्कार विजेता डॉ अनुज विलियम, निधी प्रजापति, कोशिश संस्था के पंकज शर्मा ने भी विचार व्यक्त किये एव राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रतिभागियों ने भाग लिया।

 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like