logo

जिले में मतदाताओं ने उत्साह व उमंग से किया मतदान

( Read 726 Times)

08 Dec 18
Share |
Print This Page

 जिले में मतदाताओं ने उत्साह व उमंग से किया मतदान बारां । विधानसभा आम चुनाव 2018 के तहत बारां जिले में चारों विधानसभा क्षेत्रांे में मतदाताओं ने अपार उत्साह व उमंग से मतदान करते हुए लोकतंत्र को सशक्त करने में अपनी भागीदारी निभाई। जिले में कई स्थानों पर मतदाताओं ने लम्बी कतारों में लगकर धैर्य से अपने मताधिकार का उपयोग किया इस दौरान वृद्ध, दिव्यांगजन, महिलाएं एवं युवा मतदाताओं ने निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं भयमुक्त वातावरण में मतदान कर 33 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम कैद कर दिया।
जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एस.पी. सिंह के अनुसार जिले में सभी चुनाव अधिकारियों, कर्मचारियों, पुलिस बल के जवानों, स्वयंसेवी संस्थाओं, प्रबुद्ध नागरिकों आदि ने चुनाव से संबंधित अपने दायित्वों का कुशलता से निर्वहन करते हुए लोकतंत्र के महापर्व को सफल बनाया। जिले के सभी 1040 मतदान केन्द्रों पर चुनाव संबंधी कार्य सुचारू रूप से किया गया। साथ ही 4 आदर्श मतदान केन्द्रों एवं 4 महिला मतदान केन्द्रों पर विशेष सजावट के साथ आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई।
मतदाताओं का आभार
जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एस.पी. सिंह ने जिले में स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव में पूर्ण उत्साह के साथ सक्रिय भागीदारी निभाने के लिए सभी मतदाताओं का आभार व्यक्त किया है। उन्हांेने कहा कि मतदान प्रत्येक नागरिक का अधिकार ही नहीं कर्तव्य भी है इससे लोकतंत्र सुदृढ़ होता है और चुने हुए प्रत्याशी देश की विकास की दिशा को तय करते हैं। जिले के प्रत्येक मतदाता ने स्वयं मतदान किया और अपने परिवार, पड़ौसी एवं परिचितों को भी मतदान के लिए प्रेरित करते हुए मतदान करवाया है जो सशक्त लोकतंत्र के लिए महत्वपूर्ण है।
मतदान केन्द्रों पर लगी कतारें
मतदान दिवस पर जिले के अधिकांश मतदान केन्द्रों पर सुबह से ही मतदाताओं के बड़ी संख्या में पहुंचने से रेलमपेल बनी रही। मतदान केन्द्रों पर वृद्ध, दिव्यांग, महिलाएं, युवा मतदाता उत्साह के साथ पहुंचे व मतदान किया। इस दौरान मतदान केन्द्रों से मतदान कर बाहर निकले युवा एवं कई लोग अमिट स्याही वाली अंगुली दिखाकर फोटो खिंचवाते व सेल्फी लेते भी नजर आए। आदर्श व महिला मतदान केन्द्रों पर उत्सव सा माहौल नजर आया। विधानसभा क्षेत्रों में नियोजित 101 सेक्टर मजिस्टेªट भी मुस्तैदी के साथ कानून व्यवस्था पर निगरानी बनाए रहे। मतदान केन्द्रों पर शाम तक मतदाताओं को पहुंचने का सिलसिला बना रहा। कुछ मतदान केन्द्रों पर लंबी लाइन होने से शाम 5 बजे बाद भी मतदान जारी रहा। मतदान के पश्चात देर शाम को मतदान दलों का जिला मुख्यालय पर पहुंचने का सिलसिला प्रारंभ हो गया है।
जिला निर्वाचन अधिकारी व पुलिस अधीक्षक मतदान केन्द्रों पर पहुंचे
जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. एस.पी. सिंह व पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार विश्नोई ने दोपहर बाद जिला मुख्यालय सहित आसपास के गांवों के मतदान केन्द्रों पर पहंुचकर मतदान व्यवस्था का अवलोकन किया। वे जिला मुख्यालय स्थित सहकार भवन में आदर्श मतदान केन्द्र, राउमावि स्टेशन रोड, पुरानी सिविल लाइन स्थित जलदाय कार्यालय सहित मेलखेड़ी स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के पोलिंग बूथ पर पहुंचे और मतदान व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी से कई मतदाताओं ने चर्चा भी की। मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगों हेतु की गई व्यवस्थाओं की जानकारी भी ली। इसके बाद उन्होंने राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में मतदान सामग्री संग्रहण केन्द्र की व्यवस्थाओं का भी अवलोकन कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
लाइव वेब कास्टिंग से निगरानी
जिले में चिन्हित संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा और निगरानी के लिए कड़े प्रबंध रहे। वेब कास्टिंग कैमरों द्वारा संवेदनशील मतदान केन्द्रों की अटल सेवा केन्द्र पर स्थापित कन्ट्रोल रूम से निगरानी रखी गई। इसी क्रम में 96 माईक्रो आब्जर्वर की भी नियुक्ति की गई थी।
सुगम थीम रही सफल
विधानसभा आम चुनाव 2018 के तहत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सुगम थीम को सफलता से जिले में लागू किया गया। समस्त मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगजनों की सहायता के लिए स्काउट गाईड, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशासहयोगिनी, विद्यार्थी वालंटियर आदि के सहयोग से दिव्यांगजनों ने सुगमता से मतदान किया। इसी क्रम में दिव्यांगजनों को घर से मतदान केन्द्र और मतदान केन्द्र से मतदान के पश्चात पुनः घर छोड़ने की व्यवस्था भी की गई जिससे दिव्यांगजन भी अभिभूत हुए।
ममता की ममता को सलाम
स्वीप नोडल प्रभारी भवानी सिंह पालावत ने बताया कि जिले के किशनगंज क्षेत्र में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ममता चक्रधारी ने दिव्यांगजनों की सहायता के लिए जो ममता दिखाई व सभी के लिए मिसाल बन गई। इस आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को चोट लगने के कारण सिर व आंख पर पट्टी बंधी थी लेकिन इसके बावजूद वह दिव्यांगजनों की सहायता के लिए मतदान केन्द्र पर पहुंची और अपने कर्तव्य का निर्वहन किया। इसी क्रम में विद्यार्थी वालंटियर, स्काउट गाइड, आशा सहयोगिनी आदि ने भी दिव्यांगजनों को सुगम मतदान में सहयोग किया।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like