logo

जिला प्रभारी सचिव ने ली विभागवार योजनाओं की समीक्षा

( Read 1944 Times)

13 Oct 17
Share |
Print This Page
प्रमुख शासन सचिव सार्वजनिक निर्माण विभाग एवं जिला प्रभारी सचिव आलोक ने कहा कि सभी अधिकारी टीम भावना के साथ विकास कार्यो को गुणवत्ता के साथ समय पर पूरा कराते हुए विकास के क्षेत्र में मॉडल जिले रूप में तैयार करें।
जिला प्रभारी सचिव गुरूवार को कलक्ट्रेट स्थित टैगोर सभागर में विभागवार योजनाओं की समीक्षा करते हुए उपस्थित अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिले में चल रहे बडी विकास योजनाओं की अधिकारी निरन्तर मॉनिटरिंग करते हुए गणवत्ता का विषेष ध्यान रखें तथा आपसी संवाद बनाये रखकर समयबद्धता के साथ कार्याें को पूरा करायें। सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा भवन निर्माण एवं सड़क निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि आने वाले समय में जिले में कोई भी सड़क क्षतिग्रस्त नहीं नहीं रहे। कोटा-बूंदी मार्ग को फोरलेन बनाने एवं इटावा में गैंता माखिदा सड़क मार्ग के प्रस्ताव तैयार करने, देवली से कनवासव एवं कनवास से धुलेट तक बनने वाले सड़क मार्ग पर दोनों तरफ नरेगा से पौधारोपण कार्य भी कराने के निर्देष दिये। उन्होंने सिचाई विभाग को सावन-भादों बांध की ओर जा रहे सड़क की मरम्मत कराने, सीएडी नहरों के पास बने सड़क एवं पुलियाओं की मरम्मत कराने के निर्देष भी दिये।
शहरी विकास कार्यो की समक्षा के दौरान जिला प्रभारी सचिव ने कहा कि नगर विकास न्यास समयबद्वता के साथ विकास कार्यो को पूरा कराये। आवास योजनाओं में आवंटियों को सविधाओं का विकास कर निवास नहीं करने वाले लोगों के खिलाफ कार्य वाही करें। उन्होंने आवास योजनाओं के आवंटियों के आधार कार्ड को लिंक करने को प्राथमिकता देने के निर्देष दिये। उन्होंने नगर निगम को कचरा उठाव कार्य को प्रथमिकता देकर र्स्माट सिटी के रूप में आमजन को सुविधाओं का विकास करने, सीवरेज कनक्षन जारी करने के कार्य को गति देने, सरकारी सम्पत्ति का डाटाबेस तैयार करने निर्देष दिये। उन्होंने शहरी क्षेत्र में केईडीएल विद्युत कम्पनी द्वारा लगाये जा रहे स्मार्ट मीटर लगाने की शुरूआत सरकारी कार्यालयों, आवासों से करते हुए समार्ट मीटर से होने वाली विद्याुत बचत का प्रदर्षन आमजनता के बीच जाकर करने के निर्देष दिये। विद्युत निगम को निर्बाध रूप से विद्युत आपूर्ति रखकर कृषि कनेक्षन जारी करने, विद्युत छीजत रोकने हेतु र्स्माट उपाय अपनायें।
मौसमी बीमारियों की रोकथाम हेतु किये जा रह प्रयासों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि मौसमी बीमारियों से पीडित लोगों को चिकित्सा संस्थानों में इलाज की समुचित व्यवस्था की जाकर संसाधनों एवं इच्छाषक्ति के साथ कार्य करें। उन्होंने बीमारियों से बचाव हेतु प्रभावी रूप से फोगिंग करवाने, आमजन को बचाव हेतु अपनाऐ जाने वाले उपायों का प्रचार-प्रसार करने तथा स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संगठनों व सामाजिक संगठनों का सहयोग लेने के निर्देष दिये।
उन्होंने सभी विभागों की बजट घोषणाओं एवं फ्लैगषिप कार्यक्रमों की विस्तृत रूप से समीक्षा कर पात्र लोगों को याजनाओं का लाभ दिलाने के निर्देष दिये। जिला प्रषासन द्वारा शहर की समस्याओं के निराकरण हेतु नियुक्त सिटी मॉनिटर एवं ग्रामीण क्षेत्रों के लिए पंचायत पर्यवेक्षकों की वयवस्था की सराहना की। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थिायों को विभिन्न योजनाओं का लाभ देने हेतु शुरू किये गये षिविरों की पहल का उपयोगी बताते हुए सभी परिवारों को मौके पर लाभ प्रदान करने के निर्देष दिये।
जिला कलक्टर रोहित गुप्ता ने कहा कि अधिकारी आमजन को योजनाओं का लाभ स्वप्ररित होकर प्रदान करें। विकास कार्यो में आपसी समन्यवय से कार्यो को पूरा कराये। उन्होंने जिले में चल रहे प्रमुख विकास कार्यो एवं जिला प्रषासन के नवाचारों के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर अतिरिक्त कलक्टर प्रषासन श्रीमती सुनिता डागा, शहर बीएल मीणा, यूआईटी सचिव आनन्दीलाल वैष्णव, सीईओ जिला परिषद जुगलकिषोर मीणा सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like