logo

असांजे की गिरफ्तारी वारंट रद्द करने की दूसरी अर्जी भी खारिज

( Read 2420 Times)

14 Feb, 18 09:17
Share |
Print This Page


विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे को बड़ा झटका देते हुए एक ब्रिटिश अदालत ने असांजे की ओर से एक वॉरंट रद्द कराने की दूसरी अर्जी भी मंगलवार को खारिज कर दी। इसका मतलब यह है कि असांजे यदि अपने मौजूदा ठिकाने इक्वाडोर के दूतावास से बाहर कदम रखते हैं तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। असांजे ने 2012 से ही इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी है। वरिष्ठ जिला जज एम्मा अर्बथनॉट ने वेस्टंिमस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में कहा, वह असांजे की कानूनी टीम की इस दलील से संतुष्ट नहीं हैं कि जमानत की शतरे के उल्लंघन के आरोप में उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश करना जनहित में नहीं है। जज एम्मा ने कहा, मुझे लगता है कि गिरफ्तारी एक उचित जवाब है, हालांकि असांजे ने अपनी आजादी कई सालों के लिए सीमित कर ली है। उन्होंने कहा, प्रतिवादी को कहा गया कि वह अदालत आकर अपनी पसंद के परिणामों का सामना करें। उनमें ऐसा करने का साहस होना चाहिए। इस मामले में आगे कदम बढाना जनहित के खिलाफ नहीं है। स्वीडिश अभियोजकों ने असांजे के खिलाफ जांच बंद कर दी है, लेकिन लंदन के नाइट्सब्रिज स्थित इक्वेडोर दूतावास से वह बाहर निकलते हैं तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है।असांजे के वकीलों ने मांग की थी कि वॉरंट वापस ले लिया जाए क्योंकि स्वीडन अब उनका प्रत्यर्पण नहीं चाहता। लेकिन जज ने पिछले हफ्ते भी असांजे की यह अर्जी खारिज कर दी थी। असांजे के वकीलों ने दलील दी थी कि 2012 में जारी वॉरंट को बरकरार रखना अब जनहित में नहीं है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : InternationalNews
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like