logo

बिना मंजन किये नारीयल पानी पीने से होता है चर्म रोग दूर

( Read 12882 Times)

11 May, 18 20:53
Share |
Print This Page

 बिना मंजन किये नारीयल पानी पीने से होता है चर्म रोग दूर
उदयपुर। न्यूरोथेरेपिस्ट सुनील वर्मा ने कहा कि यदि प्रतिदिन प्रातः उठते ही खाली पेट नारीयल पानी पीये जाने से चर्म रोगी ओरभावना रहती है रोगप्रतिरोधक क्षमता और आंत की मोटिलिटी बढती है जिससे चर्म रोग दूर होने की संभावना रहती है।
वे रोटरी क्लब उदयपुर द्वारा रोटरी बजाज भवन में आयोजित न्यूरोथैरेपी व उपचार विषयक वार्ता में बतौर मुख्य वक्ता बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि शरीर में अनेक बीमारियेां की जड लीवर है क्योंकि लीवर से लगभग सब तरह के कैमिकल का कच्चा माल मिलता है। जो लिवर के हाइपो होने से नही मिल पाता जिससे केमिकल, एन्जाईम के अनियंत्रित होने से मरीज विभिन्न बीमारियों से ग्रसित हो जाता है। न्यूरोथैरेपी में सबसे पहले इसे नियंत्रित किया जाता है। शरीर के भीतर के अंगो पर निश्चित स्थान पर पोईन्ट का प्रेशर देकर उसे ठीक किया जाता है।
वर्मा ने बताया कि न्यूरोथैरेपी से सर्वाइकल सौ प्रतिशत ईलाज संभव है। इससे थायराईड,पैरालेसिस,मेटाबोलिक सिस्टम,पाईल्स, गेस्टिक ,अस्थमा,स्लिपडिस्क,घुटने का दर्द आदि जैसी अनेक बीमारियों को दूर किया जाता है। आम जनता को न्यूरोथैरेपी के प्रति जागरूक किया जाना चाहिये। न्यूरोथेरैपी से कोई साइडइफेक्ट नही होता है। न्यूरौथैरेपी से बीमारियों को जड से ठीक किया जाता है। मधुमेह के कारण अन्य अंगो पर पडने वाले प्रभाव को न्यूरोथैरेपी से रोका जाता है।
उन्होंने कहा कि बिना तकिये के भी कभी नहीं सोना चाहिये क्योंकि करवट में सोने पर गर्दन में खिंचाव आएगा और दर्द शुरू हो जाता है।इससे सर्वाइकल होने की संभावना रहती है। बिना सीजन का फल कभी नहीं खाना चाहिये।
नये सदस्य को दिलायी शपथ- पूर्व प्रान्तपाल निर्मल सिंघवी ने क्लब में नये सदस्य के रूप में शामिल हुए अक्षत सुखवाल को शपथ दिलायी।
प्रारम्भ में क्लब अध्यक्ष डॉ. एन.के.धींग ने कहा कि न्येरोथैरेपी बीमारी का सबसे आसान हल एवं सटीक उपचार है। सचिव दिनेशचन्द्र अग्रवाल ने आभार ज्ञापित किया। अंत में क्लब सदस्य स्व. दिलीप सुखाडिया के निधन पर दो मिनिट का मौन रख श्रृद्धांजली दी।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like