logo

'राजनीतिक फायदे' के लिए हुआ सर्जिकल स्ट्राइक का इस्तेमाल

( Read 866 Times)

08 Dec 18
Share |
Print This Page

'राजनीतिक फायदे' के लिए हुआ सर्जिकल स्ट्राइक का इस्तेमाल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सर्जिकल स्ट्राइक को जरूरत से ज्यादा तूल दिए जाने संबंधी सेना के पूर्व अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) डीएस हुड्डा के एक कथित बयान को लेकर शनिवार को सरकार पर हमला बोला। राहुल ने दावा किया कि केन्द्र सरकार सेना का इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए किया।

उन्होंने यह भी दावा किया कि सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक का उपयोग राजनीतिक लाभ के लिए किया और राफेल सौदे का इस्तेमाल एक व्यावसायी की पूंजी बढ़ाने के लिए किया।


कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया, उन्होंने (सरकार) ने राजनीतिक पूंजी के लिए सर्जिकल स्ट्राइक का इस्तेमाल किया और एक व्यावसायी की पूंजी में 30 हजार करोड़ रुपये में बढ़ोतरी करने के लिए राफेल सौदे का इस्तेमाल किया।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) हुड्डा के बयान को लेकर सरकार पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा, लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त्) हुड्डा आपका धन्यवाद कि आपने सरकार की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिकरण किए जाने को बेनकाब कर दिया है। कोई भी हमारे बहादुर जवानों के पराक्रम और बलिदान का इस्तेमाल सस्ते तुच्छ राजनीतिक लाभ के लिए नहीं कर सकता।

दरअसल, खबरों के मुताबिक हुड्डा ने कहा है कि सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता पर शुरुआती उत्साह स्वाभाविक था, लेकिन इसको जरूरत से ज्यादा तूल दिया गया, जो अनुचित था।

गौरतलब है कि जब 29 सितंबर, 2016 को नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार आतंकी ठिकानों को निशाना बनाकर सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी। उस समय हुड्डा उत्तरी सेना के कमांडर थे। हुड्डा के बयान पर फिलहाल भाजपा एवं सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली पाई है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like