logo

देश की आन्तरिक सुरक्षा में आईबीं का रोल धुरी की तरहः-केन्द्रीय गृह मंत्री

( Read 9762 Times)

16 Oct 17
Share |
Print This Page

देश की आन्तरिक सुरक्षा में आईबीं का रोल धुरी की तरहः-केन्द्रीय गृह मंत्री देवीसिंह बडगूजर जोधपुर। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथसिंह ने कहा कि देश की आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था में इंटेलिजेंस ब्यूरों का रोल एक धुरी की तरह है। गृह मंत्री सोमवार को भदवासिया रोड पर आई बी के वेस्ट जोन रीजनल ट्रेनिंग सेन्टर भवन का पट्टिका अनावरण कर लोकार्पण एवं भवन अवलोकन के बाद परिसर में आयोजित समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।
उन्होंने देश की आन्तरिक सुरक्षा व्यवस्था में इंटेलिजेंस ब्यूरो(आई बी) की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि आई बी का आन्तरिक सुरक्षा में महत्वपूर्ण रोल है। उन्होंने कहा कि चाहे नक्सली फ्रंट हो या नार्थ ईस्ट फ्रंट या कश्मीर का सवाल या कानून व्यवस्था का मुद्दा सभी पर सर्वाधिक कामयाबी आई वी के फीड बैंक के आधार पर मिल पाती है। उन्होंने कहा कि नक्सली फ्रंट पर अब अधिक नुकसान नक्सली का हो रहा है, इसके पीछे आई बी की सटीक सूचना रहती है। नार्थ ईस्ट के बारे में 3-4 वर्ष पहले के हालात में 7॰ प्रतिशत की कामयाबी मिली है। नार्थ ईस्ट में शंाति व कानून व्यवस्था में कामयाबी हासिल की है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में अब हालात बदले है, प्रति दिन 2-4 व अधिक आंतकवादी सुरक्षा बलों द्वारा मार गिराये जा रहे है, इसमें मुख्य भूमिका आई बी सार्थक सूचना रहती है।
गृह मंत्री ने कहा कि भारत बडा देश है, आन्तरिक सुरक्षा करना बडा कार्य है और अकेले आई बी नहीं कर सकती, अन्य शाखाओं, संगठनों का भी सहयोग मिलता है। देश में आन्तरिक सुरक्षा चैलेंज है जिसका आई बी प्रभावी रूप से मुकाबला कर रही है इसके लिए जितनी प्रशंसा की जावे कम है।
उन्होंने प्रधानमंत्री के डिजीटल इंडिया की बात करते हुए कहा कि ग्रोथ चाहते है तो डिजीटल लिटरेसी व डिजीटल सिक्यूरेटी क्षेत्र का लोगों का बैसिक साइबर क्राइम के बारे में जानकारी हो। उन्होंने कहा कि आई बी इसके बारे में विचार करके साइबर क्राइम के बारे में लोगों की बैसिक जानकारी करा सके, ताकि साइबर व फ्राड से लोगों को निजात मिल सके। गृह मंत्री ने बताया कि इस सेन्टर से प्रशिक्षण प्राप्त करने पर कार्य की क्षमता में बढोतरी होती है। गृहमंत्री ने परिसर में अमलतास के पौधे का भी रोपण किया। आई बी निदेशक राजीव जैन ने समारोह को सम्बोधित करते हुए बताया कि अब तक 7262 को प्रशिक्षण दिया गया। समारोह में केन्द्रीय कृषि व कृषक कल्याण राज्य मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत, केन्द्रीय विधि व न्याय राज्य मंत्री पी पी चौधरी व राज्य के वन, पर्यावरण व खेल मंत्री गजेन्द्रसिंह खींवसर व जन स्वास्थ्य अभियंात्रिकी मंत्री व जिला प्रभारी सुरेन्द्र गोयल भी मंच पर उपस्थित थे। समारोह में गृह मंत्री को आई बी निदेशक राजीव जैन ने व कृषि राज्य मंत्री को अतिरिक्त निदेशक पी एस पुरोहित ने, स्मृति चिन्ह प्रदान किया व आभार अतिरिक्त निदेशक आई बी पृथ्वीसिंह पुरोहित ने व्यक्त किया। समारोह में जे डी ए चेयरमेन डॉ.(प्रो॰) महेन्द्रसिंह राठौड, संसदीय सचिव भैराराम सियोल, महापौर घनश्याम ओझा, विधायक जोगाराम पटेल, सूर्यकंाता व्यास, कैलाश भंसाली, जिला प्रमुख पूनाराम चौधरी, संभागीय आयुक्त रतन लाहोटी, पुलिस आयुक्त अशोक राठौड, जिला कलक्टर डॉ. रविकुमार सुरपुर, आई जी हवासिंह घुमरिया, डी सी पी वेस्ट डॉ. अमनदीप सिंह कपूर, एम्स निदेशक संजीव मिश्रा, आई पी एस पूजा यादव सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like