BREAKING NEWS

लघु उद्यमी व किसान मिलकर स्वयं के स्तर पर प्रोडक्ट करें तैयारः चौधरी

( Read 4603 Times)

23 Feb 20
Share |
Print This Page

लघु उद्यमी व किसान मिलकर स्वयं के स्तर पर प्रोडक्ट करें तैयारः चौधरी

बाडमेर। थार की मरू भूमि पर उत्पादित होने वाली फसलों से प्रोडक्ट तैयार कर लघु उद्योग के रूप में देश-विदेश में अच्छे प्रोफिट पर बिक्री किया जा सकता है, जिससे किसान भी खुशहाल होगा, वहीं लघु उद्यम से हजारों बेरोजगारों को रोजगार मिल सकेगा। लघु उद्योगों को जहां केन्द्र सब्सिडी दे रही है, वहीं इनमें बने प्रोडक्टों की बिक्री के लिए भी उद्यमियों को मार्केट उपलब्ध करवाने के लिए देश में लगने वाले बडे मेलों में इनको स्थान दिया जाएगा। किसान व उद्यमियों को हर तरह से मदद को केन्द्र सरकार तैयार है।

यह बात मुख्य अतिथि केन्द्रीय कषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने शनिवार स्थानीय गुडाल होटल में आयोजित लघु उद्योगों के राष्ट्र व्यापी संगठन लघु उद्योग भारती के शपथ ग्रहण समारोह एवं उद्यमी सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की स्थानीय फसल बाजरे से बिस्किट, चॉकलेट व अन्य कई तरह के प्रोडक्ट बनाकर किसान उन्नति प्राप्त कर सकता है। इसी तरह गौ मूत्र को गौशालाएं स्वयं के स्तर पर प्रोसेसिंग यूनिट लगाकर बिक्री कर सकती है। इससे गौशालाएं समद्ध होगी। उन्होंने कहा कि आर्गेनिक खेती के लिए तीन वर्ष टेस्टिंग के बाद सर्टीफिकेट जारी किया जाता है कि इस फसल में किसी प्रकार की खाद का तो इस्तेमाल नहीं किया गया है। वहीं अब उन्होंने प्रधानमंत्री से मिलकर इस समस्या का हल निकालने के लिए गांव के सरपंच के सर्टीफिकेट जारी करने पर उस संपूर्ण गांव को आर्गेनिक खेती के रूप में पहचान दी जा सकेगी। इस मौके पर लघु उद्योग भारती के प्रदेशाध्यक्ष घनश्याम ओझा ने लघु उद्योग भारती के बाडमेर के अध्यक्ष श्रवण कुमार डूंगरोमल माहेश्वरी, पुरूषोतम खत्री, पथ्वीराज चंडक, नीलेश मेहता, जसवंत मेहता, अभय पालीवाल, भरत दवे, राजेन्द्र शारदा, मिथलेश बंसल, किशोर खत्री, शंभू माकड को कार्यकारिणी की शपथ दिलाई। इस मौके पर लघु उद्योग भारती के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश मितल ने कहा कि प्राचीन समय से भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ की हड्डी लघु उद्योग है। इन उद्योगों को फिर से बढावा देने से ही भारत फिर से सोने की चिडया कहलाएगा। इस दौरान लघु उद्योग भारती जोधपुर अंचल के अध्यक्ष शांतिलाल बालड, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नगर संघचालक मनोहर बसंल ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। भाजपा के महामंत्री कैलाश कोटडया ने जिले में संभावित उद्योगों के बारे में अवगत करवाया। वहीं पुरूषोतम खत्री ने लघु उद्योग संबंधी समस्याओं से अवगत करवाया। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष आदूराम मेघवाल, जिला महामंत्री बालाराम मूढ, एडवोकेट स्वरूपसिंह, एडवोकेट अमृत जैन, पूर्व विधायक जालमसिंह रावलोत, नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष लूणकरण बोथरा, मांगीलाल जैन, रणवीरसिंह भादू सहित सैकडों गणमान्य नागरिक कार्यक्रम में उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कवि, साहित्यकार प्रोफेसर बंशीधर तातेड ने किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Barmer News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like