BREAKING NEWS

जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट में राजसमंद की लगभग 200 फुटबॉल प्रतिभाओं ने दिखाया हूनर

( Read 2352 Times)

22 Jan 20
Share |
Print This Page
जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट में राजसमंद की लगभग 200 फुटबॉल प्रतिभाओं ने दिखाया हूनर

उदयपुर / राजसमंद। जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट के पहले संस्करण का आयोजन बुधवार को कांकरोली के बालकृष्ण मैदान में धूमधाम से हुआ। इसमें राजसमंद एफसी बॉयज और यूपीएस लवाना (गल्र्स) की टीम ने फाइनल में जीत हांसिल की। जिंक़ फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट, राजस्थान फुटबॉल एसोसिएशन के साथ हिंदुस्तान जिंक की एक पहल है। इसमें राजसमंद की कुल 16 टीमों के 200 से अधिक युवा और उत्साही फुटबॉल प्रतिभाओं ने भाग लिया। समारोह में पुलिस अधीक्षक भूवन भूषण यादव, अतिरिक्त जिला कलेक्टर राकेश कुमार, उपखण्ड अधिकारी सुशील कुमार, जिला फुटबॉल संघ अध्यक्ष घनश्याम, सचिव मनोज हाड़ा, जिला खेल अधिकारी चांदखान पठान एवं हिंदुस्तान जिंक के हेड एडमिन राजेश यादव, हेड सीएसआर अभय गौतम उपस्थित थे।
टूर्नामेंट में राजसमंद एफसी और यूपीएस लवाना ने बालक और बालिका वर्ग में क्रमश: जुलाई में आयोजित होने वाले जावर स्टेडियम स्टेट चैम्पियनशिप के लिए क्वालीफाई करते हुए खिताब जीता। जावर में हर क्षेत्र के विजेता राजस्थान के चैंपियन हेतु मुकाबला करेंगे। उदयपुर में आयोजित पिछले सप्ताह किक-ऑफ टूर्नामेंट में पहले ही डीएवी एचजेडएल स्कूल, जावर माइंस, और लकी फुटबॉल क्लब, जावर माइंस विजेता बनकर अपना स्थान राजस्थान में हांसिल कर चुका है।
राजसमंद एफसी ने ऑरेंज काउंटी स्कूल को 2-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। पूरे टूर्नामेंट में नील और विशाल ने सबसे ज्यादा 5 गोल किए। बालिका वर्ग में फाइनल में, यूपीएस लवाना ने स्टार क्लब को 3-0 से हराया। यूपीएस लवाना की भुवना, लक्ष्मी और संजना ने एक-एक गोल कर महत्वपूर्ण फाइनल में प्रभावी प्रदर्शन किया।
टूर्नामेंट के बारे में हिंदुस्तान जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील दुग्गल ने कहा कि जिंक फुटबाल प्रोजेक्ट शुरू करने के बाद से ही यह टूर्नामेंट हमारा महत्वपूर्ण सपना था। मैं बहुत खुश हूं कि बच्चों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक प्लेटाफार्म मिल गया है और इनमें से श्रेष्ठ चुनकर आगे जाएगा। यह बस एक शुरुआत है और हम आने वाले समय में अधिक से अधिक बच्चों को उनकी श्रेष्ठ प्रतिभा के साथ आगे लाना चाहते हैं।
राजस्थान फुटबाल संघ के सचिव दिलीपसिंह शेखावत ने कहा कि जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट राजस्थान में फुटबाल की दिशा में एक मील का पत्थर है। हम इस बड़ी पहल के लिए हिंदुस्तान जिंक से जुडक़र खुश हैं। इस तरह की पहल इससे पहले कभी नहीं हुई। मैं यह देखकर खुश हूं कि राजसमंद की सभी टीमें यहां खेल रही हैं। मैं विजेताओं को बधाई देना चाहता हूं और उनसे यह कहना चाहता हूं कि वे राज्य स्तरीय टूर्नामेंट के लिए शानदार तैयारी करें।
जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का मकसद राज्य में फुटबाल की श्रेष्ठ प्रतिभाओं को तलाशना और उन्हें प्रोमोट करना है। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का पहला संस्करण छह महीने तक चलेगा। इस टूर्नामेंट में राज्य के 33 जिलों की टीमें हिस्सा लेंगी। इसके लिए 500 से अधिक स्कूलों की टीमें बनेंगी और इससे 15 साल की कम उम्र के 5000 से अधिक लडक़े और लड़कियों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन का मौका मिलेगा।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Sponsored Stories , Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like