logo

सरदार पटेल की प्रतिमा में बस्ता है हिन्दुस्तान जिंक

( Read 744 Times)

03 Nov 18
Share |
Print This Page
सरदार पटेल की प्रतिमा में बस्ता है हिन्दुस्तान जिंक सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा (स्टैच्यू ऑफ यूनिटी) के निर्माण में तीन कंपनियों ने ३००० टन गैल्वनाइज्ड स्ट्रक्चरल स्टील की आपूर्ति की है। इस ३००० टन गैल्वेनाइज्ड स्टील को मजबूति देने के लिए हिन्दुस्तान जिंक का २०० टन जस्ता लगा है। गैल्वेनाइज्ड स्टील के उपयोग से जंग लगने का खतरा नहीं रहता है तथा सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा (स्टैच्यू ऑफ यूनिटी) को अनिश्चितकाल के लिए मजबूति मिलेगी।
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी १८२ मीटर ऊंची, दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है। यह प्रतिमा सरदार पटेल के व्यक्तिव का प्रतिनिधित्व करती है जिन्होंने स्वतंत्र भारत के निर्माण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
हिन्दुस्तान जिंक के वाइस प्रेसीडेन्ट एण्ड हेड-कार्पोरेट कम्यूनिकेशन पवन कौशिक ने बताया कि हिन्दुस्तान जिंक के लिए यह बडे गर्व की बात है कि हम इस प्रतिमा में अपना योगदान दे पाये। जिंक की परत स्टील को जंग लगने से सुरक्षा देगी तथा निश्चितौर पर इससे प्रतिमा को सदैव मजबूति मिलेगी।
हिन्दुस्तान जिंक भारत की एकमात्र एवं विश्व की अग्रणी जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक कंपनी है। जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक तथा धातु उत्पादन में विश्व की अग्रणीय होने के कारण हिंदुस्तान जिंक को ‘जिंक एण्ड सिल्वर ऑफ इण्डिया‘ कहा जाता है और देश को पर्याप्त मात्रा में जस्ता प्रदान करता है। हिंदुस्तान जिंक का भारत के जिंक बाजार पर ८५ प्रतिशत नियंत्रण हैं और भारत में १०० प्रतिशत एकीकृत चांदी का उत्पादन करती हैं।
हिन्दुस्तान जिंक का प्रधान कार्यालय उदयपुर में, राजस्थान में रामपुरा आगुचा, सिन्देसर खुर्द, जावर, राजपुरा दरीबा एवं कायड में खदानें स्थित है तथा राजस्थान में ही दरीबा, चन्देरिया एवं देबारी में कंपनी के स्मेल्टर्स स्थित है तथा उतराखण्ड राज्य में भी कंपनी के प्लांट स्थित है।

Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Zinc News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like