GMCH STORIES

बीसूका राज्य स्तरीय क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष डॉ चंद्रभान ने ली समीक्षा बैठक

( Read 1649 Times)

30 Nov 22
Share |
Print This Page
बीसूका राज्य स्तरीय क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष डॉ चंद्रभान ने ली समीक्षा बैठक

 20 सूत्री कार्यक्रम के राज्य स्तरीय क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष डॉ चंद्रभान बुधवार को उदयपुर दौरे पर रहे। उन्होंने जिला परिषद सभागार में बीस सूत्री कार्यक्रम के तहत संचालित योजनाओं के साथ विभिन्न फ्लैगशिप कार्यक्रमों की प्रगति पर समीक्षा की और इस वित्तीय वर्ष में अक्टूबर माह तक की रैंकिंग के अनुसार उदयपुर का स्थान प्रदेश के टॉप 5 जिलों में होने पर संतुष्टि जाहिर करते हुए कहा कि सभी संबंधित विभागीय अधिकारी वित्तीय वर्ष की समाप्ति तक श्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए उदयपुर को अग्रणी शहरों में लावें।
प्रभावी मॉनिटरिंग करें अधिकारी
डॉ. चंद्रभान ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कई प्रकार की लोक हितकारी योजनाएं लागू की है परंतु इनका पूरा-पूरा लाभ नहीं मिल पा रहा है, ऐसे में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी है कि वे योजनाओं के प्रावधानों के बारे में जानकारी देते हुए पात्र लोगों को लाभ दिलावें। डॉ. चंद्रभान ने कहा कि बीस सूत्री कार्यक्रम जरूरतमंद व गरीब के कल्याण का कार्यक्रम है और गरीब की मदद करना ही सरकार का मकसद है। उन्होंने कहा कि सभी जिला स्तरीय अधिकारी अपने विभाग से संबंधित योजनाओं व कार्यक्रमों के प्रभावी संचालन के लिए समय समय पर फिल्ड में जाकर मॉनिटरिंग करे और वस्तुस्थिति जानकार इनका लाभ अंतिम तबके तक पहुंचाने के प्रभावी प्रयास करें। उन्होंने बैठक मौजूद स्थानीय जनप्रतिनिधियों व बीसूका के राज्य व जिला स्तरीय सदस्यों को भी सरकार की मंशा के अनुरूप इस कार्यक्रम का उद्देश्य पूरा करने में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाने का आह्वान किया।
फ्लैगशिप और विभागीय योजनाओं की समीक्षा की:
समीक्षा बैठक दौरान डॉ. चंद्रभान ने बीस सूत्रों पर आधारित विभागीय योजनाओं और राज्य सरकार की फ्लेगशिप योजनाओं की समीक्षा की। महात्मा गांधी नरेगा योजना की समीक्षा दौरान उन्होंने कार्यदिवस के औसत के कम आने पर चिंता जताई और अधिकाधिक लोगों को पूरे-पूरे 120 दिनों का काम मुहैया करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने राजीविका के तहत महिला सशक्तिकरण के लिए 21 हजार 416 स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से हो रही आयजनक गतिविधियों की सराहना की और इसके तहत आवंटित लक्ष्य को पूरा-पूरा हासिल करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने खाद्य सुरक्षा योजना के क्रियान्वयन, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना व शहरी आवास के तहत आवास निर्माण, संस्थागत प्रसव, महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से संचालित योजनाओं की प्रगति, विद्युत विभाग द्वारा स्थापित कृषि कनेक्शनों, वन विभाग की योजनाओं की समीक्षा कर महत्त्वपूर्ण निर्देश दिए। उन्होंने जल जीवन मिशन के तहत नल कनेक्शन के बाद सुचारू जलापूर्ति की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस दौरान शुद्ध के लिए युद्ध अभियान, निरोगी राजस्थान, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, पालनहार योजना, मुख्यमंत्री युवा संबल, स्कूटी वितरण, महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल तथा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के क्रियान्वयन पर चर्चा करते हुए निर्देश दिए।
4 जी पोस मशीनों की आपूर्ति का आग्रह:
बैठक दौरान कलक्टर ताराचंद मीणा ने जिले की भौगोलिक परिस्थितियों के मोबाइल नेटवर्क समस्या के कारण राशन वितरण में आने वाली समस्या के कारण 4 जी पोस मशीनों की आपूर्ति करवाने के लिए आग्रह किया। इसी प्रकार उन्होंने महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत श्रमिकों को भुगतान संबंधित समस्या के समाधान की बात कही।  
जी-20 शेरपा सम्मेलन उदयपुर में होना गौरव की बात
डॉ. चंद्रभान ने कहा कि उदयपुर विश्व के सबसे खूबसूरत शहरों में अपना स्थान रखता है। उन्होंने टीम उदयपुर के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि जी-20 शेरपा सम्मेलन जैसे महत्वपूर्ण आयोजन के लिए उदयपुर का चयन होना हमारे लिए गौरव की बात है।  
बैठक में जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा, राज्यसमिति सदस्य लक्ष्मीनारायण पंड्या सहित जिला स्तरीय समिति के सदस्य पूर्व मंत्री मांगीलाल गरासिया, समाजसेवी गोपाल शर्मा, पंकज कुमार शर्मा, श्रीमती बसंती देवी मीणा, श्रीमती सज्जन कटारा, श्रीमती कामिनी गुर्जर, दिनेश श्रीमाली, जसवंत गन्ना, हिरालाल दरांगी श्रीमती मधु सालवी, श्रीमती निर्मला चौधरी, गणेशलाल मेघवाल, गोपाल सिंह चौहान सहित अन्य सदस्यगण एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like