पारस जेके हॉस्पिटल द्वारा मधुमेह दिवस पर जागरूकता कार्यक्रम व शिविर आयोजन

( Read 1715 Times)

15 Nov 19
Share |
Print This Page

पारस जेके हॉस्पिटल द्वारा मधुमेह दिवस पर  जागरूकता कार्यक्रम व शिविर आयोजन

उदयपुर। पारस जेके हॉस्पिटल, शोभागपुरा उदयपुर द्वारा दिनांक १४ नवम्बर २०१८ को विश्व डायबिटीज जागरूकता दिवस मनाया गया। प्रातः फतह सागर पाल पर ६.४५ बजे विशाल रैली का आयोजन किया गया। साथ ही आमजन हेतु निःशुल्क जांच शिविर का आयोजन किया गया।

अरावली कॉलेज ऑफ नर्सिग विद्यार्थी एवं डायबिटीज, थायरॉयड, हार्मोन केयर रिसर्च सोसायटी उदयपुर एवं पारस हॉस्पिटल डॉक्टर्स नर्सिंग स्टाफ ने डायबिटीज जागरूकता रैली में फतहसागर पाल पर पैदल मार्च कर आमजन को डायबिटीज के प्रति जागरूकता का संदेश दिया।

पारस जेके हॉस्पिटल में १०.०० से २.०० बजे तक निःशुल्क परामर्श परामर्श शिविर किया गया। बीपी, आरबीएस, एचबीए१सी, लिपिड प्रोफाईल, स्क्रिनिंग, इत्यादि जांचे निःशुल्क की गई। रेडियोलॉजी एवं पेथोलॉजी की जाचें २५ प्रतिशत की छूट दी गई एवं शिविर में सम्भाग से आये जिसमें ७३ मुधुमेह पिडित रोगियों ने परामर्श लिया।

पारस जेके हॉस्पिटल के एण्डोक्रायनोलॉजिस्ट डॉ जय चोरडिया ने बताया कि इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन (आईडीएफ) द्वारा इस वर्ष विश्व डायबिटीज डे पर परिवार को केन्दि्रत कर ’’अपने परिवार को सुरक्षित रखें‘‘ थीम को आधार मानकर विश्व में जागरूकता अभियान चलाये जा रहे है। जिससे आमजन मधुमेह बीमारी के प्रति जागरूक हो सकें।  डायबिटीज पर वार्ता विशेष कार्याक्रम के तहत सायः ७.०० बजे डायबिटीज डे पर सम्बोधित करते हुए डॉ. चोरडिया ने बताया कि परिवार मिलकर डायबिटीज को मात दें। डॉ. जय चोरडिया ने जीवनष्शैली रोग बताते हुआ कहा की अपने स्वास्थ्य को सुरक्षित बनाने के न केवल आज बल्कि जीवन भर अपने स्वास्थ्य की बागडोर अपने हाथें में रख सकते हैं। परिवार में किसी को डायबिटीज है तो सभी सदस्य सहयोग की भावना से स्वीकार करें। डायबिटीज के प्रबंध, देखभाल, रोकथाम और शिक्षा में परिवार की भूमिका को बढावा दें। डायबिटीज की देखभाल आपसे बेहतर कोई और नहीं कर सकता डायबिटिज संबंधी हर छोटी जानकारी आफ उपचार योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं वास्तव में डायबिटीज संबंधी जानकारी का मतलब हैं डायबिटीज के साथ किस तरह एक स्वस्थ और सामान्य जीवन जीयें। आप भी डायबिटिज के प्रति जागरूक होकर जीवनभर अपने स्वास्थ्य की बागडोर अपने हाथ में रख सकते है।

डायबिटीज के सही टाइप को समझ कर समय पर उपचार से सामान्य जीवन यापन कर सकते है। मधुमेह की समस्या से पार पाने के लिए उचित और दृढ संकल्प होना जरूरी हैं। इसके अलावा रक्त ग्लुकोज कि नियमित जांच के साथ-साथ उचित देखभाल भी मधुमेह की समस्या से निबटने का एक महत्वपुर्ण साधन हैं।

पारस जेके हॉस्पिटल के सिनियर फिजीसीयन डॉ. सदींप भटनागर ने बताया कि डायबिटीज से हर परिवार चिंतित है खान-पान, जीवनशैली में सुधार कर स्वस्थ जीवन यापन कर सकते है। वर्तमान में अधिकतर मामले टाइप २ डायबिटीज के है टाइप -२ डायबिटीज के जोखिम को कम करने के लिए परिवार की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है जो नियमित रूप से स्वास्थ्य जांच, संतुलित आहार, स्वस्थ्य वातावरण काफी हद तक रोकने में मददगार है। डायबिटीज की जटिलताओं को रोकने और स्वास्थ्य के अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए प्रांरभिक निदान एवं उपचार महत्वपूर्ण है। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए पारस जेके हॉस्पिटल के फेसिलिटी डॉयरेक्टर विश्वजीत कुमार ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , Udaipur News , Health Plus
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like