logo

राजस्थान की पहली किन्नर पुलिस कांस्टेबल बनेगी जालोर जिले के जाखड़ी गांव की गंगा

( Read 2084 Times)

14 Nov 17
Share |
Print This Page

जालोर जालोर जिले की जाखड़ी गांव निवासी किन्नर गंगाकुमारी अब पुलिस कांस्टेबल बनेगी। राजस्थान हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए पुलिस विभाग को छह सप्ताह में नियुक्ति देने एवं साल 2015 से ही नेशनल बेनिफिट देने के आदेश दिए हैं। राजस्थान हाईकोर्ट के आदेश से राजस्थान पुलिस विभाग में पुलिस कांस्टेबल के पद पर पहली बार किन्नर को नियुक्ति दी जाएगी। बताते चले कि गंगा वर्ष 2013 में पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में पास हुई थी, लेकिन उसकी नियुक्ति को लेकर पुलिस विभाग और गृह विभाग पशोपेश में था। तीन साल से इस मामले में कोई निर्णय नहीं होने के बाद गंगा ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। सोमवार को हाईकोर्ट के जस्टिस दिनेश मेहता की अदालत ने यह आदेश किए। किन्नर होने के कारण मुझे नौकरी नहीं दी जा रही थी, जबकि देश में दो ऐसे मामलों में फैसला किन्नर के पक्ष में गया हुआ था। मजबूर होकर न्यायालय की शरण लेनी पड़ी और मुझे हक मिला। -गंगाकुमारी, किन्नर, जाखड़ी गंगाकुमारी ने संघर्ष करके अपने हक को प्राप्त किया और यह साबित कर दिया कि किन्नर भी समाज में सबके बराबर कंधे से कंधा मिलाकर चल सकते हैं। समाज को आगे आना होगा। -रितुराज सिंह, अधिवक्ता, हाईकोर्ट जोधपुर मेडिकल के बाद असमंजस में थे अधिकारी वर्ष 2013 में 12 हजार पदों के लिए कांस्टेबल भर्ती परीक्षा हुई थी। परीक्षा में प्रदेश के सभी जिलों में 1.25 लाख अभ्यार्थियों ने हिस्सा लिया था। इसमें से पुलिस ने 11 हजार 400 अभ्यार्थियों का कांस्टेबल पद के लिए चयन कर लिया था। इसमें रानीवाड़ा तहसील के जाखड़ी निवासी गंगाकुमारी पुत्री बीकाराम का भी चयन हुआ था। सभी अभ्यार्थियों का मेडिकल कराया गया तो गंगा के किन्नर होने की पुष्टि हुई। ऐसे में नियुक्ति को लेकर पुलिस अधिकारी असमंजस में पड़ गए। गंगा के किन्नर होने की पुष्टि के बाद जालोर एसपी ने फाइल रेंज आईजी जोधपुर जीएल शर्मा को भेजकर नियुक्ति को लेकर राय मांगी थी। ऐसा मामला पहली बार आने पर आईजी ने 3 जुलाई 2015 को फाइल पुलिस मुख्यालय भेज दी गई थी, लेकिन यहां पर भी पुलिस के अधिकारी कुछ निर्णय नहीं कर पाए। ऐसे में पुलिस मुख्यालय ने राय जानने के लिए फाइल गृह विभाग को भेज दी थी।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : States
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like