logo

यौन अपराधों की शुरुआत छेड़खानी से होती है-स्मृति ईरानी

( Read 1362 Times)

13 Oct 18
Share |
Print This Page

यौन अपराधों की शुरुआत छेड़खानी से होती है-स्मृति ईरानी इंदौर। यौन अपराधों से आधी आबादी की सुरक्षा के लिये देश में सख्त प्रावधानों के वजूद में होने का हवाला देते हुए केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को कहा कि महिलाएं कानूनी संरक्षण हासिल करने के लिये पुलिस या न्यायालय का दरवाजा खटखटा सकती हैं। ईरानी ने यहां भाजपा के आयोजित एक कार्यक्रम में "मी टू अभियान" के बारे एक महिला श्रोता के सवाल पर संक्षिप्त जवाब में कहा, "देश में महिलाओं की सुरक्षा के लिये पुलिस प्रणाली और न्यायिक तंत्र में सख्त कानूनी प्रावधान हैं। अगर कोई भी महिला कानूनी संरक्षण चाहती है, तो वह नजदीकी पुलिस थाने जा सकती है। वह इंसाफ पाने के लिये न्यायिक प्रक्रिया अपनाते हुए अदालत का दरवाजा भी खटखटा सकती है।’’
उन्होंने महिलाओं, खासकर कम उम्र की लड़कियों के खिलाफ होने वाले जघन्य यौन अपराधों से जुड़े एक अन्य सवाल पर कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए ऐसा कड़ा कानून बनाया गया है जिसमें बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वालों के लिये सजा-ए-मौत का प्रावधान है।" ईरानी ने कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं से अपील की कि आधी आबादी को उसके कानूनी अधिकारों के प्रति जागरूक किया जाये। इसके साथ ही, यौन अपराधों से पीड़ित महिलाओं की हरसंभव मदद की जाये ताकि वे दोबारा सामान्य सामाजिक जीवन जी सकें।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , National News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like