ईवीएम एवं वीवीपेट का द्वितीय रेण्डमाईजेशन सम्पन्न

( Read 688 Times)

17 Apr 19
Share |
Print This Page

डॉ. प्रभात कुमार सिंघल

ईवीएम एवं वीवीपेट का द्वितीय रेण्डमाईजेशन सम्पन्न

कोटा |   लोकसभा आम चुनाव में मतदान केन्द्रों पर जाने वाले ईवीएम एवं वीवीपेट का रेण्डमाईजेशन सोमवार को जिला निर्वाचन अधिकारी मुक्तानन्द अग्रवाल एवं सामान्य पर्यवेक्षक नीरज शुक्ला की उपस्थिति में टैगोर सभागार में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी वासुदेव मालावत, संसदीय क्षेत्र के सभी सहायक रिटर्निंग अधिकारी, प्रकोष्ठों के अधिकारीगण एवं अभ्यर्थी व उनके प्रतिनिधि उपस्थित रहे। 

चुनाव आयोग के सॉफ्टवेयर के माध्यम से विधानसभा क्षेत्रवार ईवीएम का ऑनलाइन रेण्डमाईजेशन किया गया जिसमें ईवीएम एवं वीवीपेट को मतदान केन्द्र के बूथवार आवंटित किया गया। राजनैतिक दलों एवं लोकसभा क्षेत्र के प्रत्याशियों व उनके प्रतिनिधियों की उपस्थिति में रेण्डमाईजेशन के बाद ईवीएम एवं वीवीपेट की तैयारी के लिए संबंधित सहायक रिटर्निंग अधिकारी को निर्देशित किया गया। इस अवसर पर ईवीएम प्रकोष्ठ प्रभारी श्रीमती प्रतिभा देवठिया, डीआईओ मुकेश झा, संसदीय क्षेत्र के सभी सहायक रिटर्निंग अधिकारी (उपखण्ड अधिकारी) उपस्थित रहे। 

चुनाव संबंधी शिकायत पर्यवेक्षको से की जा सकेग

       निर्वाचन अधिकारी मुक्तानन्द अग्रवाल ने जिले के सभी मतदाताओं से अपील की है कि आगामी 29 अप्रेल को लोकसभाा आम चुनाव-2019 में मतदान अवश्य करें। मतदान का समय उक्त दिवस को प्रातः 7 बजे से सायं 6 बजे तक रहेगा। 

जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी अपील में कहा गया है कि कोई भी मतदाता कलक्ट्रेट में वीवीपेट के तरीके को समझ सकता एवं मोक पोल कर मतदान करने का तरीका सीख सकता है। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति, संस्था, प्रत्याशी, राजनीतिक दल का प्रतिनिधि/प्रत्याशी का प्रतिनिधि मतदान करने से विमुख करता है, विचलित करता है, बरगलाता है, रोकता है या किसी प्रकार का प्रलोभन देता है तो किसी भी प्रकार से भयभीत नहीं होवें और किसी के बहकावे में नहीं आयें। निडर होकर मतदान करें, सभी मतदान केन्द्रों पर प्रशासन द्वारा छाया, पानी एवं बैठने के लिए उचित व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने स्वयंसेवी संस्थाओं एवं विभिन्न सामाजिक संगठनों का भी आह्वान किया है कि मतदाता जागरूकता कार्यक्रम में वे स्वप्रेरित होकर आगे आयें। 

पर्यवेक्षकगण को कर सकेंगे शिकायत

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि अगर मतदान करने से कोई भी रोकता है तो भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा नियुक्त सामान्य पर्यवेक्षक या पुलिस पर्यवेक्षक अथवा व्यय पर्यवेक्षक को भी उनके मोबाईल नम्बर पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। उन्होंने बताया कि सामान्य पर्यवेक्षक के मोबाईल नं. 9460487568 एवं 0744-2320052, पुलिस पर्यवेक्षक के 9460487596 एवं 0744-2320054, व्यय पर्यवेक्षक(कोटा उत्तर, दक्षिण, लाडपुरा एवं रामगंजमंडी) के 9460487593 एवं 0744-2320034 तथा व्यय पर्यवेक्षक (पीपल्दा, सांगोद, के.पाटन एवं बूंदी) के मोबाईल नं. 9460487594 तथा दूरभाष नं. 0744-2320041 पर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है तथा सभी पर्यवेक्षक प्रातः 10 से 11 बजे तक शिकायत सुनने के लिए स्थानीय सर्किट हाउस में उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयेाग के टोल फ्री नं. 1950 पर भी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है अथवा सी विजिल एप पर अपनी शिकायत (फोटो/वीडियो सहित) कर सकते हैं। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like