logo

लोकसभा चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक सम्पन्न कराएं-संभागीय आयुक्त

( Read 669 Times)

15 Apr 19
Share |
Print This Page

डॉ. प्रभात कुमार सिंघल

लोकसभा चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक सम्पन्न कराएं-संभागीय आयुक्त

कोटा  |    संभागीआयुक्त एलएन सोनी ने कहा कि लोकसभा चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए सभी अधिकारी चुनाव आयोग के मापदण्डों के अनुसार समन्वय से कार्य कर आम मतदाताओं को निर्भीक होकर मतदान के लिए प्रेरित करें। 

संभागीय आयुक्त शुक्रवार को टैगोर सभागार में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा करते हुये उपस्थित अधिकारियों को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक कोटा रेंज विपिन पाण्डेय, जिला निर्वाचन अधिकारी मुक्तानन्द अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक शहर दीपक भार्गव, ग्रामीण राजन दुष्यंत सहित पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी एवं विभिन्न प्रकोष्ठों के प्रभारी अधिकारी उपस्थित रहे। संभागीय आयुक्त ने विधानसभा क्षेत्रवार एवं विभिन्न प्रकोष्ठों को दिये गये दायित्वों की समीक्षा करते हुये कहा कि सभी अधिकारी आयोग के नवीन दिशा निर्देशों का अध्ययन कर इस प्रकार कार्य करें कि त्रुटि नहीं रहे। उन्हांेने कहा कि अधिकारी टीम भावना के साथ प्रत्येक मतदान केन्द्र पर की जाने वाली तैयारियों का व्यक्तिशः निरीक्षण कर समय पर पूरा कराये। उन्होंने मतदान केन्द्रों पर छाया, पानी, सफाई, बिजली एवं सुरक्षात्मक दृष्टी से आवश्यक सुविधाएं तैयार करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि भयग्रस्त क्षेत्रों में प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से भ्रमण कर आम मतदाताओं को निर्भीक होकर मतदान के लिए प्रेरित करें। दिव्यांग मतदाताओं के लिए किये जाने वाले प्रबंधों को समय पर पूरा करें। मतदान दल रवाना स्थल एवं मतगणना स्थल की तैयारियों को अभी से आयोग के निर्देशानुसार तैयार किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने चुनाव ड्यटी में लगे सभी कार्मिकों, पुलिस बल, वाहन चालकों एवं वीडियोग्राफर को मतदान के लिए फार्म 12 भरवाकर डाकमत पत्र अथवा ईडीसी जारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करते हुये पारर्शिता से उनका समय पर निराकरण करने, सेक्टर मजिस्ट्रेट को नियमित क्षेत्र में भ्र्रमण के लिए पाबंद करने, एसएसटी, वीएसटी, एफएसटी टीमों के माध्यम से प्रतिरोधात्मक प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अवैध शराब की रोकथाम के लिए सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जाये एवं चैक पोस्टों पर सघन निगरानी रखी जाये। 

पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि सभी अधिकारी एक दुसरे के सहयोगी बनकर टीम भावना से कार्य करें। बूथ स्तर तक मेनेजमेंट का प्लान तैयार कर कानून व्यवस्था की दृष्टि से संवेदनशील क्षेत्रों में आम मतदाताओं से सीधा संवाद स्थापित करें। उन्होंने सभी अधिकारियों को स्वप्रेरित होकर कार्य करने के निर्देश देते हुये कहा कि आपराधिक प्रवृति के व्यक्तियों को पाबंद कर पारदर्शिता के साथ कार्य करते हुये चुनाव आयोग के मापदण्डों की अक्षरशः पालना की जाये। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले में 1435 मतदान केन्द्र है, जिनके लिए 148 सेक्टर मजिस्ट्रेट नियुक्त किये गये है। उन्होंने बताया कि संवेदनशील, अतिसंवेदशील केन्द्रों को चिन्हित कर पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम एवं वीडियाग्राफी व लाईव टेलिकास्ट की कार्य योजना बना ली गई है। उन्होंने बताया कि सेक्टर मजिस्ट्रेट के वाहनों पर जीपीएस लगाये जाकर मॉनिटरिंग की जाएगी। प्रशासन का यह प्रयास है कि मतदान से कोई वंचित नहीं रहे। सभी मतदान केन्द्रांे पर मूलभूत सुविधाएं समय पर तैयार कर ली जाएगी। 

पुलिस अधीक्षक शहर एवं ग्रामीण ने कानून व्यवस्था एवं आयोग के निर्देशानुसार निष्पक्ष चुनाव की दृष्टि से किये जाने वाले प्रबंधों की जानकारी दी। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी वासुदेव मालावत, सीईओ जिला परिषद शुभम चौधरी, आईएएस प्रशिक्षु देवेन्द्र कुमार, आयुक्त नगर निगम नरेन्द्र गुप्ता, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ प्रभारी भागवंती जेठवानी, आचार संहिता प्रकोष्ठ प्रभारी सुनिता डागा, सचिव नगर विकास न्यास भवानी सिंह पालावत, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय हर्ष रत्नु, शहर राजेश मील, आईपीएस प्रशिक्षु अमृता दुहान सहित सभी प्रकोष्ठ प्रभारी अधिकारी, उपखण्ड अधिकारी एवं पुलिस उपाधीक्षक उपस्थित रहे। 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like