logo

मतदाता जागरूकता की कोटा ज़िले में चली बयार

( Read 1365 Times)

16 Mar 19
Share |
Print This Page
 मतदाता जागरूकता की कोटा ज़िले में चली बयार

कोटा(डॉ. प्रभात कुमार सिंघल) |    ज़िला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल की पहल एवम रणनीति  का ही परिणाम है कि कोटा ज़िला चारों तरफ आज लोकसभा चुनाव में मतदान करने की स्वर लहरी से गूंज रहा है । चारों तरफ क्या अधिकारी क्या कर्मचारी, संस्थाएं, संगठन सभी मतदाता जागरूकता अभियान में जोरशोर से बढ़चढ़ कर भाग ले रहे हैं। कोई अवसर हो या समारोह बिना मतदान करने की शपथ लिए सम्पन नहीं होता। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवम पंचायत कार्मिक इस अभियान को गांव गॉव , घर-घर हर जन तक पहुँचकर जागरूकता में दिन रात जुटे हैं। सब का बस एक ही संकल्प है एक भी मतदाता मतदान करने से नहीं चूके। हर मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर लोकतंत्र के इस  यज्ञ में अपनी आहुति दे कर अपनी पसंद की सरकार चुने और देश के विकास में भागीदार बने।मतदाता जागरूकता के लिए जिले में व्यापक पैमाने पर विविध कार्यक्रम आयोजित कर मतदान के लिए जागरूक किया जा रहा हैं।

          ज़िले में शुक्रवार 15 मार्च को एक ही दिन में जिले की 155 ग्राम पंचायतों में मनरेगा स्थलों पर कार्यरत 14 हजार 343 श्रमिकों को मतदान करने की शपथ दिलवाई गई। जिले की लाडपुरा पंचायत समिति की 21 ग्राम पंचायतों में कार्यरत 1743 श्रमिकों, पंचायत समिति सुल्तानपुर की 33 ग्राम पंचायतों में कार्यरत 3271, पंचायत समिति इटावा की 29 ग्राम पंचायतों में कार्यरत 2273, पंचायत समिति सांगोद की 36 ग्राम पंचायतों में कार्यरत 4127 एवं पंचायत समिति खैराबाद की 36 ग्राम पंचायतों में कार्यरत 2929 मनरेगा श्रमिकों को मतदाता जागरूकता कार्यक्रम स्वीप के अंतर्गत मतदान करने के लिए प्रेरित कर मतदान की शपथ भी दिलाई गई। 

              इसी दिन महिला मतदान चौपाल में एक साथ 10 हजार 345 महिलाएं बनी भागीदार बनी और मतदान करने का संकल्प लिया। महिला एवम बाल विकास विभाग की और से ग्रामीण केटरों की 155 पंचायतों के साथ शहर के 65 वार्डो में महिला मतदान चौपाल सजाई गई।उपनिदेशक महिला  बाल विकास कृष्णा शुक्ला ने बताया कि शहरी क्षेत्र के 65 वार्डों में 2595 महिलाओं ने महिला चौपाल में भाग लेकर मतदान करने का संकल्प लेकर क्षेत्र के लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करने एवं मतदान की प्रक्रिया समझाने की प्रस्ताव लिया। 

              ज़िले स्तरीय महिला चौपाल चम्बल उद्यान में आयोजित की गई जिसमें जिला मुख्यालय पर कार्यरत सभी महिला अधिकारियों एवं स्वयंसेवी संगठनों की महिला प्रतिनिधियों ने पूरे उत्साह एवं उमंग के साथ रंग-बिरंगे परिधानों में सज-धजकर भाग लेकर महिला चौपाल  सजाई। महिला चौपाल में उत्साह से परिपूर्ण महिलाओं द्वारा मतदान करने के लिए नारे लगाकर सभी को मतदान अवश्य करने के प्रति जागरूक किया।  चम्बल उद्यान में आयोजित महिला मतदान चौपाल में उपायुक्त नगर निगम कीर्ति राठौड, एसीएम सरोज ढाका, एसीईओ प्रतिभा देवठिया, उपनिदेशक महिला बाल विकास कृष्णा शुक्ला, विभिन्न कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों में कार्यरत महिला व्याख्याताओं ने भाग लेकर टॉक शो के द्वारा लाकतंत्र की मजबूती के लिए मतदान प्रतिशत बढाने व स्वीप गतिविधियों के संबंध में अपने विचार रखे। 

        जिला परिषद के सीईओ शुभम चौधरी ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत पर 50-50 महिलाओं की मतदान जागरूकता चौपाल आयोजित की गई। इसमें आंगनबाडी कार्यकर्ताओं, सहयोगनी, सहायिका एवं क्षेत्र की ग्रामीण महिलाओं ने भागीदारी निभाकर लोकतंत्र की मजबूती के लिए मतदान करने की शपथ ली तथा मतदान प्रतिशत बढाने के लिए अपने अपने सुझाव दिये।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like