logo

किसानों को तत्परता से अतिरिक्त नया फसली ऋण वितरण करें-मुख्य सचिव

( Read 588 Times)

14 Jun, 18 09:26
Share |
Print This Page

डॉ.प्रभात कुमार सिंघल

कोटा | मुख्य सचिव डी. बी. गुप्ता ने कहा है कि किसानों को अतिरिक्त नया फसली ऋण वितरण तत्परता से किया जाये। ऋण माफी शिविरों में किसानों को दिये जाने वाले ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरण के दौरान ही किसानों से आवेदन लेकर अतिरिक्त नये ऋण को स्वीकृत करने की प्रक्रिया में शीघ्रता रखें।
मुख्य सचिव बुधवार को शासन सचिवालय स्थित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष से सभी जिला कलक्टर एवं केन्द्रीय सहकारी बैंकों के प्रबंध निदेशकों से संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पैसे की कमी नहीं है और राज्य सरकार इसके लिये प्रतिबद्ध है।
मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य में समर्थन मूल्य पर सरसों, चना एवं गेहूं की खरीद जारी है। उन्होंने बताया कि पूर्व में हुई दलहन एवं तिलहन की खरीद के कारण आरएसडब्लूसी के भण्डार में उपज रखी हुई है तथा अभी चल रही खरीद को देखते हुए 3 लाख मै. टन भण्डारण की अतिरिक्त विशेष व्यवस्था की गई है। उन्होंने आश्वस्त किया कि भण्डारण को लेकर किसी प्रकार की परेशानी नहीं होने दी जायेगी।
उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह से हाडौती एवं वागड़ क्षेत्र में मानसून की संभावना है। उन्होंने निर्देश दिये कि संबंधित क्षेत्रों में खरीदी गई उपज का सुरक्षित भण्डारण सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी जिला कलक्टर को कहा कि यह सुनिश्चित करें कि वे सप्ताह में दो दिन फील्ड में प्रवास पर रहें।
प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता अभय कुमार ने बताया कि सरसों, चना, गेहूं एवं लहसुन की अबतक लगभग लगभग 4 हजार करोड़ रुपये की 10 लाख मै. टन खरीद हो चुकी है।किसानों को सही समय पर भुगतान हो यह हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि वेयर हाउस रिसिप्ट को शीघ्रता से जनरेट कराकर राजफैड को तत्काल भेजे जिससे राजफैड द्वारा ईमेल से नैफेड को भेजकर भुगतान राशि प्राप्त की जा सके। उन्होंने कहा कि जैसे ही माल खरीदें तुरन्त ही गोदामों में जमा करायें। उन्होंने कहा कि खरीद की गुणवत्ता जांच एवं समय पर उपज जमा हो इसके लिये प्रशासन एवं कृषि विभाग से सहयोग लिया जायेगा।
रजिस्ट्रार, सहकारिता राजन विशाल ने कहा कि यह सुनिश्चित करें कि ऋण माफी कैम्प के दौरान नया ऋण वितरण भी किसानों को हो। नया ऋण वितरण डिजिटल मेंबर रजिस्टर (डीएमआर) के माध्यम से हो। उन्होंने कहा कि जिन ब्रान्चों में ऋण माफी शिविर आयोजित हो रहे हैं उन ब्रान्चों के अधीन व्यवस्थापक, ब्रान्च मैनेजर एवं लोन सुपरवाइजर का प्रशिक्षण भी करवायें। उन्होंने 6-7 जिलों में वेलिडेशन के कार्य में शीघ्रता लाने के लिये संबंधित प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिये।
राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान ने कहा कि सभी के सहयोग से समर्थन मूल्य पर खरीद अच्छी चल रही है। उन्होंने कहा कि कई स्थानों पर उपज जमा कराने के लिये गोदामों के बाहर ट्रक खड़े हैं इसके लिये समीप के गोदामों में उपज का भण्डारण करवाया जाये। उन्होंने कहा कि लहसुन बेचान के लिये ऑनलाइन एवं ऑफलाइन बिडिंग हो रही है। व्यापारी समय पर माल का उठाव करे यह सुनिश्चित किया जाये।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like