logo

डॉक्टर बनने की जद्दोजहद शुरू

( Read 546 Times)

13 Jun, 18 09:53
Share |
Print This Page
कोटा । सभी नीट अंडर ग्रेजुएट (एमबीबीएस ध् बीडीएस) इच्छुक उम्मीदवारों के लिए मेडिकल काउंसलिंग कमेटी की ओर से बुधवार से ऑनलाइन काउंसलिंग का पहला चरण शुरू होगा, जो 18 जून तक चलेगा। अभ्यर्थी डब्ल्यूडब्ल्यूडॉटएमसीसीडॉटएनआईसीडॉटइन साइट से ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी कर सकेंगा।
कॅरिअर पॉइंट के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट देव शर्मा ने बताया कि इस काउंसलिंग के बाद नीट में योग्य घोषित अभ्यर्थी चयनित मेडिकल कॉलेज में प्रवेश ले सकेंगे। प्रथम चरण के दौरान स्टूडेंट्स चयनित कॉलेजों में से अपनी पसंद के कॉलेज का चुनाव कर सकेंगे। 19 जून तक रजिस्ट्रेशन फीस जमा करवानी होगी। इसके बाद 22 जून को सीटों का आवंटन होगा। 22 जून से 3 जुलाई तक संबंधित कॉलेज में अभ्यर्थी को रिपोर्टिंग करनी होगी। देव शर्मा ने बताया कि काउंसलिंग का द्वितीय चरण 6 जुलाई से 8 जुलाई तक रहेगा। 9 जुलाई को दोपहर 12 बजे तक फीस जमा होगी। 13 जुलाई को सीट आवंटन व 13 से 22 जुलाई तक संबंधित सेंटर पर रिपोर्ट करनी होगी। काउंसलिंग का अंतिम राउण्ड जिसे मोप अप राउण्ड कहा जाता है 12 अगस्त से आरंभ होगा, जो 14 अगस्त तक चलेगा। 15 अगस्त को दोपहर 12 बजे तक फीस जमा होगी। 17 अगस्त को सीट आवंटन व 18 से 26 अगस्त तक संबंधित सेंटर पर रिपोर्ट करनी होगी। 26 अगस्त के बाद सभी रिक्त सीटों को डीम्ड एवं सेन्ट्रल यूनिवर्सिटीज को सौंप दिया जाएगा।
पहले राउण्ड में चूके तो द्वितीय में मिलेगा मौका
देव शर्मा ने बताया कि यदि कोई अभ्यर्थी काउंसलिंग के पहले राउण्ड में किसी कारणवश भाग नहीं ले सकता वह द्वितीय राउण्ड में शामिल हो सकेगा। उन्होंने बताया कि यहां ध्यान देने योग्य विशेष बात यह है कि यदि सेट्रल काउंसिंगल के पहले राउण्ड में कोई अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन नहीं कर पाता है तो वह सीधे द्वितीय राउण्ड में प्रवेश ले सकेगा। पहले राउण्ड में जो च्वाइस फिलिंग की गई है वह द्वितीय राउण्ड में मान्य नहीं होगी। द्वितीय राउण्ड के लिए पुनः च्वाइस फिलिंग की प्रक्रिया अपनानी होगी। उन्होंने बताया कि केंद्रीय विश्वविद्यालय अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, दिल्ली यूनिवर्सिटी, जामियामिलिया इस्लामिया के लिए भी प्रवेश इसी काउंसलिंग प्रक्रिया के तहत होगा। आमफॉर्स मेडिकल कॉलेज पुणे तथा स्टेट इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन के अंतर्गत आने वाले मेडिकल कॉलेजों में ईएसआई के कर्मचारियो के बच्चों को भी इसी काउंसलिंग प्रक्रिया के तहत प्रवेश मिल सकेगा।
इन कॉलेजों में मिल सकेगा दाखिला
मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज नई दिल्ली, वर्द्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज एवं सफदरजंग हॉस्पिटल नई दिल्ली, लेडीहार्डिंग मेडिकल कॉलेज, नई दिल्ली, किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल लखनऊ, जीएमसी एवं सरजेजे हॉस्पिटल मुंबई, पीजीआई चंड़ीगढ, एसएमएस मेडिकल कॉलेज जयपुर सहित देश के प्रतिष्ठित मेडिकल संस्थानों में दाखिला मिल सकेगा। ़
दिव्यांग श्रेणी में सीटों का कोटा बढ़ा
दिव्यांग श्रेणी के तहत सीटों का आरक्षण 3 प्रतिशत से 5 प्रतिशत तक बढ़ा दिया गया है और 21 बेंचमार्क विकलांगता के अनुसार ‘‘अक्षमता अधिनियम 2016 के साथ व्यक्तियों के अधिकार‘‘ के नियमों के तहत प्रस्तावित किया गया है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like