logo

दो दिवसीय पुस्तकालयाध्यक्षों वैश्विक कार्यशालाका आयोजन

( Read 1873 Times)

14 Feb, 18 12:36
Share |
Print This Page

दो दिवसीय पुस्तकालयाध्यक्षों वैश्विक कार्यशालाका आयोजन इण्टरनेशनल फेडरेशन ऑफ लाईब्रेरी एसोशियेशन (इफ्ला) , एम.एस. स्वामीनाथन रिसर्च फाउण्डेशन (एम.एस.एस.एस.आर .एफ ) और इनटरनेशनल इमर्जिंग लाईब्रेरी इनोवेटर्स ओफ इंडिया (इनेली) के संयुक्त तत्वाधान मे इंस्टीटय़ुट ऑफ इंजीनीयर्स कोलकाता में भारत की पहली दो दिवसीय पुस्तकालयाध्यक्षों वैश्विक कार्यशालाका आयोजन दिनांक : 9-10 फरबरी 2018 किया गया जिसकी थीम थी – “ बिल्डिंग लीडरशिप एण्ड इनोवेटीव स्किल्स ऑफ लाईब्रेरीयंस” । इसमें बतौर रिसोर्सपर्सन शिरकत की राजकीय पंडीत दीनदयाल उपाध्याय सार्वजनिक मणडल पुस्तकालय के प्रभारी डा. दीपक कुमार श्रीवास्तव , टी.एस. स्टेट सेंट्रल स्टेट लाईब्रेरी की लाईब्रेरीयन डा. नीजा सिंह तथा नेशनल लाईब्रेरी कोलकाता के पुस्तकालय एवं सुचना अधिकारी पार्था दास सारथी नें । तीनों को अभी हाल ही में बिल एण्ड मिलिण्दा गेटस फाउण्डेशन की तरफ से इनेली इण्डिया - साउथ एसिया मेंटर चुना गया हें । यह कार्यशाला इंटरनेशनल कांफ्रेंस ऑफ सेंट्रल गवर्मेंट लाईब्रेरीयंस एसोशियेशन कें सामनांतर आयोजित की गयी जिसमें पश्चिम बंगाल के चयनित 16 पार्टीसीपेंट ने हिस्सा लिया जिनकी उम्र 30 वर्ष से कम थी । इसका उद्देश्य हें देश मे पब्लिक लाईब्रेरी लीडर्स तैयार करना ताकि पब्लिक लाईब्रेरी का देश मे अधिक से अधिक विस्तार संभव हो सकें ।
इस कार्यशाला के प्रथम दिवस पर समय प्रबंधन , स्वयं को पहचाननें तथा सस्टेनेबल डवलेपमेंट गोल ( एस.डी.जी) इत्यादि पर प्रशिक्षित किया गया जिसमें – रिवर ऑफ लाईफ , व्हील ऑफ लाईफ तथा लॉलीपॉप मोमेंट एक्टीवीटीज का आयोजन किया गया तथा एस.डी.ज़ी को लाईब्रेरी के माध्यम से केसे जोडा जा सकता हें उसके लियें प्रशिक्षित किया वही कार्यशाला के दुसरें दिन गोल सेटींग , अण्डरस्टेण्डीग लीडरशिप टीम बिल्डींग इनोवेशन , स्टोरी ऑफ चेंज के बारें में प्रशिक्षित किया गया । बेलून तथा रेडी प्रश्नावलीयों के माध्यम से एक्टीवीटीज आयोजित की गयी ।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Kota News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like