logo

स्वच्छता की मुहिम में रेलवे की प्रतिबद्धता

( Read 443 Times)

15 Sep 18
Share |
Print This Page
स्वच्छता की मुहिम में रेलवे की प्रतिबद्धता राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के १५०वें जन्म दिवस के अवसर पर उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा उनके स्वच्छता के प्रति संकल्प को पूर्ण करने के लिये स्वच्छता ही सेवा-पखवाडा मनाकर उनके स्वप्न को साकार करने की पहल कर उन्हें श्रद्धांजलि देने की तैयारियाँ प्रारम्भ की है।
उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्फ अधिकारी श्री तरूण जैन ने बताया कि स्वच्छता ही सेवा-पखवाडा के प्रथम दिन दिनांक १५.०९.१८ को प्रातः ९.०० बजे रेलकर्मियों द्वारा अपने कार्यस्थल पर स्वच्छता के प्रति सजग रहने, श्रमदान करने तथा दूसरों को भी गंदगी न करने के प्रति जागरूकता के लिये स्वच्छता शपथ ली जायेगी। शपथ के पश्चात श्रमदान किया जायेगा। उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रधान कार्यालय में श्री विजय सहगल, अपर महाप्रबंधक महोदय द्वारा शपथ दिलवाई जायेगी तथा कार्यालय परिसर में श्रमदान किया जायेगा।
श्री तरूण जैन ने बताया कि स्वच्छता ही सेवा-पखवाडा के अन्तर्गत माननीय प्रधानमंत्री दिनांक १५.०९.१८ को प्रातः ९.०० बजे विडियों कॉन्फ्रसिंग से संवाद करेगें जिसमें उत्तर पश्चिम रेलवे का एकमात्र स्टेशन रेवाडी भी सम्मलित है।
श्री तरूण जैन ने बताया कि स्वच्छता पखवाडा में जयपुर सहित भारतीय रेलवे के ४० प्रमुख ऐतिहासिक स्टेशन जहॉ पर गांधी जी आये थे, पर प्रमुखतः सफाई व्यवस्थाओं पर अभियान चलाये जायेंगे। दिल्ली, जयपुर तथा आगरा स्टेशन जोकि गोल्डन ट्रायगंल में आते है तथा देश के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल व शहर भी है में यात्रियों को प्रवेश करते ही सुखद व जीवन्त वातावरण प्राप्त हो इसके लिये पहुंच मार्ग ;ंचचतवंबीमेद्ध को साफ-सुथरा बनाने का कार्य किया जायेगा। इसके तहत जयपुर से जगतपुरा तक रेलवे ट्रेक (१५ किलोमीटर) में वृक्षारोपण कर हरित पर्यावरण के साथ-साथ स्वच्छता को बढावा देने का कार्य किया जायेगा। स्टेशनों पर स्थित सभी टॉयलेटस् की स्थिति और अधिक सुधारने का कार्य इस पखवाडे में दौरान किया जायेगा तथा स्टेशनों पर दिव्यांगों के अनूकुल टॉयलेट का निर्माण चरणबद्ध योजना के तहत किया जायेगा।
उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा विगत समय में किये गये कार्यों से हाल ही में जारी सर्वें रिपोर्ट में इस रेलवे के स्टेशनों को उच्च तथा बेहतरीन रैकिंग प्राप्त हुई है। यह उच्च रैकिंग यात्रियों की जागरूकता और सहयोग से प्राप्त हुआ है, और भविष्य में भी इसी प्रकार के सहयोग से स्वच्छता के स्तर को बरकरार रख कर और उन्नत किया जा सके।
स्वच्छता ही सेवा पखवाडे में १५ सितम्बर से २ अक्टूबर तक प्रत्येक दिन को अलग-अलग विषयवस्तु (थीम) के आधार पर मनाकर स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का कार्य किया जायेगा।
पखवाडे को शुरूआत १५ सितम्बर को स्वच्छ जागरूकता के रूप में मनाया जायेगा जिसमें रेल अधिकारियों एवं कर्मचारियों तथा उनके परिवारजनों द्वारा स्वच्छता शपथ ली जायेगी। इसमें स्कूल और कॉलेज के छात्र, सेवारत व सेवा निवृत्त कर्मचारी एवं उनके परिवार सदस्यों में भी सम्मिलित किया जायेगा। इस दिन स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत के स्लोगन के साथ प्रभात फेरी भी निकाली जायेगी। स्वच्छता पखवाडे के दौरान यात्रियों को जागरूक करने के उद्देश्य से नुक्कड नाटकों को भी आयोजन किया जायेगा। इसके साथ ही सोशल मीडिया वीडियों क्लिप, पोस्टर सहित अन्य माध्यमों से भी जनसाधारण में स्वच्छता काम करने हेतु जागरूकता फैलाई जायेगी।
पखवाडे के दौरान स्वच्छ संवाद कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमें स्वच्छता के बारे में रेल ग्राहकों/यात्रियों तथा रेलकर्मियों से बातचीत की जायेगी तथा सेमीनार व वर्कशॉप का आयोजन तथा स्वच्छता थीम पर पेटिंग व पोस्टर प्रतियोगिताओं का आयोजन तथा जागरूकता अभियान संचालित करने जैसे कार्य किये जायेगे।
स्वच्छ स्टेशन तथा स्वच्छ रेलगाडी के अन्तर्गत स्टेशनों पर स्वच्छता के लिये अभियान चलाकर करने सुदृढ किया जायेगा तथा सफाई में काम आने वाले उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी। प्लास्टिक के उपयोग का कम करने तथा बोतल को नष्ट करने के लिये बोतल क्रसर स्थापित किये जाने के कार्य किये जायेगे। ट्रेनों में सफाई का स्तर तय मापदण्ड अनुसार किये जाने के लिये निरीक्षण किये जायेंगे।
सेवा दिवस के दौरान श्रमदान का कार्यक्रम किया जायेगा। स्वच्छ परिसर दिवस में कार्य स्थल तथा रेल आवासों में सफाई के स्तर को बेहतर करने का कार्य किया जायेगा, जिसमें किसी भी प्रकार के अतिक्रमण को हटाया जायेगा तथा पानी व कचरा निकासी पाइंट को साफ किया जाना है। स्वच्छ आहार दिवस में सभी खान-पान इकाईयों में स्वच्छता को परखा जायेगा तथा स्वच्छता का विशेष ध्यान दिया जायेगा। स्वच्छ नीर दिवस में रेल परिसर में स्वच्छ पीने के पानी की उपलब्धता के लिये निरीक्षण किया जायेगा। स्वच्छ प्रसाधन दिवस में टॉयलेट में सफाई, पानी की व्यवस्था, ड्रेनेज सिस्टम इत्यादि का निरीक्षण कर बेहतर करने का कार्य किया जाना हैं। स्वच्छ प्रतियोगिता दिवस तथा सम्पूर्ण पखवाडे की समीक्षा करने के कार्य भी इस दौरान किये जायेगे।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Jaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like