logo

चीन फिर हुआ अमेरिका से नाराज

( Read 2508 Times)

24 Sep 18
Share |
Print This Page

चीन फिर हुआ अमेरिका से नाराज चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द कर दी है। अमेरिका ने चीन के रूस से लड़ाकू जेट विमान और मिसाइल खरीदने के कारण उसकी एक सैन्य एजेंसी को प्रतिबंधित कर दिया है जिससे नाराज होकर चीन ने अमेरिकी राजदूत को तलब किया है और सैन्य समझौता रद्द करने की घोषणा की है।विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा है कि उप विदेश मंत्री झेंग जेगुआंग ने अमेरिकी राजदूत टेरी ब्रानस्टाड को समन करके अपनी एक सैन्य एजेंसी और उसके निदेशक को प्रतिबंधित करने के अमेरिकी कदम के खिलाफ नाराजगी जतायी और सैन्य वार्ता रद्द करने की बात कही। झेंग ने कहा कि अमेरिका के दौरे पर गए नौसेना प्रमुख शेन जिलांग को वापस बुला लिया जाएगा और अगले सप्ताह बीजिंग में प्रस्तावित चीन और अमेरिकी सैन्य अधिकारियों की वार्ता को रद्द किया जाता है।बयान में यह भी कहा गया है कि अमेरिका के इस कदम के खिलाफ कोई भी कार्रवाई करने का चीन के पास पूरा अधिकार है। चीन के सैन्य प्रवक्ता डब्ल्यू क्यूआन ने कहा, रूस से लडाकू जेट विमान और मिसाइल का सौदा दो संप्रभु देशों के बीच सहयोग के लिए उठाया गया बेहद सामान्य कदम है। अमेरिका को इसमें हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है। चीन के विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा, अमेरिका ने अगर तत्काल प्रतिबंध नहीं हटाए तो उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। अमेरिकी विदेश विभाग ने एक बयान में कहा, यह प्रतिबंध चीन द्वारा रूस से पिछले साल 10 एययू-35 लड़ाकू विमान और इस वर्ष सतह से हवा में मार करने वाली एस-400 मिसाइल खरीदने के कारण लगाया गया है। अमेरिका ने कहा, चीन की सैन्य समिति के खिलाफ यह कदम रूस की दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों पर नकेल कसने के मकसद से उठाया गया है।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Headlines , InternationalNews
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like