logo

बम हमलों में 13 लोगों की मौत

( Read 2138 Times)

15 May, 18 16:28
Share |
Print This Page

इंडोनेशिया। में तीन गिरजाघरों पर बम हमलों को अंजाम देने वाला छह लोगों का परिवार सीरिया से लौटा था। इन हमलों में 13 लोगों की मौत हो गई थी। बीबीसी के मुताबिक, रविवार को हुए इन हमलों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन आईएस ने ली थी। एक मां और उसकी दो बेटियों ने इंडोनेशिया के सुराबाया शहर के एक र्चच में खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया जबकि पिता और उसके दो बेटों ने सुरबाया की ही अन्य दो चर्चो को निशाना बनाया। नेशनल पुलिस प्रमुख टिटो कारनावियन ने कहा, वह आईएस से प्रेरित नेटवर्क जेमाह अंशरुत दौला से जुड़े हुए थे। बीबीसी के मुताबिक, पुलिस का कहना है कि यह परिवार उन सैकड़ों इंडोनेशियाई परिवारों में से एक था।
इंडोनेशिया के दूसरे बड़े शहर सुराबाया स्थित पुलिस मुख्यालय में पांच लोगों के एक परिवार (एक बच्चा समेत) ने आत्मघाती हमला किया। एक दिन पहले ही गिरजाघरों पर एक अन्य परिवार ने आत्मघाती हमले किए थे।बम हमलों से इंडोनेशिया दहल गया है। गिरजाघरों पर हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है। इसके साथ ही इस आतंकी समूह का दक्षिणपूर्वी एशिया में प्रभाव बढ़ने का खतरा भी बढ़ गया है। अगले तीन महीने में इंडोनेशिया में एशियाई खेल होने हैं। यह देश इस्लामी आतंकवाद से लंबे समय से प्रभावित रहा है। वर्ष 2002 में बाली में हुए बम हमलों में करीब 200 लोग मारे गए थे जिनमें से अधिकतर विदेशी पर्यटक थे।सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की थी और सैकड़ों आतंकियों को गिरफ्तार किया था। कई आतंकी नेटवर्क ध्वस्त कर दिए थे। हाल के हमले छोटे-मोटे रहे जिनमें घरेलू सुरक्षाबलों को निशाना बनाया गया था। लेकिन कल सब बदल गया जब दो बच्चियों समेत छह लोगों के एक परिवार ने सुराबाया में सुबह की प्रार्थना के वक्त गिरजाघरों पर आत्मघाती हमले किए जिसमें हमलावरों समेत 18 लोग मारे गए। और आज एक अन्य परिवार के सदस्यों ने शहर में पुलिस थाने पर खुद को उड़ा लिया। इसमें दस लोग घायल हो गए।राष्ट्रीय पुलिस प्रमुख टीटो कार्नावियान ने कहा, दो मोटरबाइक पर पांच लोग सवार थे। उनमें से एक छोटा बच्चा भी था। यह एक परिवार था।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : InternationalNews
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like