logo

उदयपुर-मैसुर ट्रेन मेवाड व दक्षिण भारत के मध्य सेतु का काम करेगी-सांसद जोशी

( Read 5674 Times)

15 Feb, 18 11:00
Share |
Print This Page

चित्तौडगढ, मेंवाडवासियों को दक्षिण भारत से जोडने हेतु एक और नयी सौगात मिल गयी हैं। बहुप्रतिक्षित उदयपुर-मैसुर हमसफर ट्रेन को रेल मंत्रालय ने स्वीकृति प्रदान कर दि है। यह ट्रेन सप्ताह में एक दिन चलेगी।
सांसद जोशी ने बताया की मेवाड को दक्षिण भारत से जोडने के प्रयास लगातार से चल रहे थे उसी क्रम में उदयपुर से मैसुर(कर्नाटक) के मध्य साप्ताहिक हमसफर रेल १९ फरवरी २०१८ को मैसुर से प्रारंभ हो रही है। उसके पश्चार यह उदयपुर से २६ फरवरी को यह रेल सोमवार रात्री ९ बजे चलकर रात्री ११.१० बजे चित्तौडगढ जंक्शन पंहुचेगी तथा रात्रि ११.१५ बजे यंहा से चलकर बुधवार सांय ४.२५ बजे मैसुर पंहुचेगी। वापसी में यह रेल १ मार्च २०१८ गुरूवार को प्रातः १० बजे मैसुर से चलकर शनिवार प्रातः २.५० बजे चित्तौडगढ होते हुये प्रातः ४.५५ बजे उदयपुर पंहुचेगी। इस ट्रेन के चलने से मेवाड के निवासियों को दक्षिण भारत के लिये एक सीधी रेल सेवा का लाभ मिलेगा एवं वे वहां के विभिन्न तीर्थ स्थलों तथा पर्यटन स्थलों से सीधे जुड सकेगें, तथा बेंगलुरू व पुणे में आई.टी. कंम्पनीयो में कार्यरत तथा अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को इससे फायदा होगा। यह ट्रेन मार्ग में रतलाम, वडौदरा, सुरत, वसई रोड, पुणे, मिराज , बेलगाम, हुबली, देवनगिरी, बेंगलुरू, मान्डया आदि स्टेशनों पर रूकेगी।
उल्लेखनीय हैं की मेवाड के लोगो की इस मांग को सांसद सी.पी.जोशी ने संसद व रेल मंत्रालय, भारत सरकार के समक्ष कई बार प्रमुखता से उठायी हैं। सांसद ने इस सौगात के लिये माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल तथा राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे का आभार व्यक्त किया है। इससे पुर्व सांसद के प्रयासों से मेवाड को दक्षिणी भारत से जोडने के लिये उदयपुर से चैन्नई सीधी वायु सेवा भी प्रारंभ हो चुकी है, साथ ही उदयपुर-जयपुर के लिये रात्रिकालिन नई ट्रेन की सुविधा भी जल्द मिलने की संभावना है ।
Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Chittor News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like