GMCH STORIES

हेयर एंड ब्यूटी कांटेस्ट ‘वल्र्ड हेयर कप’ में छाया कमलेश का  ‘जेंट्स फैशन प्रो कट’

( Read 3213 Times)

22 Jan 21
Share |
Print This Page
हेयर एंड ब्यूटी कांटेस्ट ‘वल्र्ड हेयर कप’ में छाया कमलेश का  ‘जेंट्स फैशन प्रो कट’

उदयपुर। उदयपुर के जाने माने जेंट्स हेयर कट स्पेशलिस्ट कमलेश सेन ने दुनिया के सबसे बड़े हेयर एंड ब्यूटी कांटेस्ट में चौथा स्थान हासिल कर ना सिर्फ देश बल्कि मेवाड़ का भी नाम रोशन किया है। कमलेश सेन ने विश्वस्तरीय ओमसी वल्र्ड चैंपियनशिप की सात तरह की केटेगरी में हिस्सा लिया और ‘जेंट्स फैशन प्रो कट’ केटेगरी में दुनिया के 200 से अधिक दिग्गज हेयर कट स्पेशलिस्ट से मुकाबला कर अपने हुनर का लोहा मनवाते हुए चौथा स्थान हासिल किया। इस प्रतियोगिता में पहले चार स्थानों में जगह बनाने वाले वे भारत के एकमात्र हेयर स्पेशलिस्ट हैं। इसी केटेगरी में प्रभात फेमेली के पुष्कर सेन ने भी पांचवां स्थान प्राप्त कर उदयपुर का नाम रोशन किया है। कमलेश ने इस विश्वस्तरीय प्रतियोगिता में ऑल इंडिया हेयर एंड ब्यूटी एसोसिएशन (एआईबीएचए) के प्रतिनिधि के तौर पर हिस्सा लिया था।
कमलेश सेन ने बताया कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते हर 2 साल में होने वाली यह स्पर्धा इस बार ऑनलाइन ही आयोजित की गई थी। इसमें विश्वभर के कई देशों के प्रतिभागियों ने बिना एडिटिंग फोटो सेशन के माध्यम से हिस्सा लिया। इसके साथ ही कमलेश सेन को हाल ही में ओएमसी वल्र्ड एसोसिएशन पेरिस द्वारा ‘नेशनल हेयर ट्रेनर’ के खिताब से भी नवाजा गया।
कमलेश सेन ने बताया कि ओएमसी 5 महाद्वीपों के प्रतियोगियों के बीच विभिन्न केटेगरीज में प्रतिभागियों को वैश्विक मंच प्रदान करते हुए यह कंपीटीशन आयोजित करवाता है। यह 60 सदस्य देशों और दुनिया भर में 10 लाख से अधिक व्यक्तिगत सदस्यों के साथ दुनिया का सबसे बड़ा पेशेवर हेयर स्टाइलिस्ट संगठन है। यह संगठन 1946 से अब तक निरंतर लगभग 40 से 50 केटेगरीज में विश्वस्तरीय स्पर्धाएं आयोजित करवाता आ रहा है।
कमलेश सेन ने बताया कि विश्वस्तर की प्रतियोगिता में चौथा स्थान मिलना मेरे जीवन की अब तक की सबसे बड़ी उपलब्धि है। मैं इससे बेहद खुश हूं। इस कंपीटीशन के लिए मैंने कड़ी मेहनत की थी जो रंग लाई। इस सफलता के लिए मैं ऑल इंडिया हेयर एंड ब्यूटी एसोसिएशन (एआईएचबीए) की अध्यक्षा डॉ. संगीता चौहान, अलिशा मेम, एचबीओ स्टेट अध्यक्ष नीता पारिख  एवं प्रभु सेन और आईबा टीम, एचबीओ राजस्थान टीम, एचबीओ उदयपुर टीम अध्यक्ष कनक सिंह, भारती सेन, मंजू शर्मा  एवं शंभूलाल सहित उदयपुरवासियों को धन्यवाद देता हूं जिनकी प्रेरणा से ही यह संभव हुआ है।


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : Udaipur News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like